Komalika Bari wins world youth archery championships | झारखंड की कोमालिका बनीं रिकर्व कैडेट विश्व चैंपियन, बनीं यह खिताब जीतने वाली भारत की दूसरी तीरंदाज
झारखंड की कोमालिका बनीं रिकर्व कैडेट विश्व चैंपियन

Highlightsभारतीय तीरंदाज कोमालिका बारी ने विश्व युवा तीरंदाजी चैंपियनशिप के रिकर्व कैडेट वर्ग स्वर्ण पदक हासिल किया।17 साल की खिलाड़ी कोमालिका अंडर-18 वर्ग में विश्व चैंपियन बनने वाली भारत की दूसरी तीरंदाज बनीं।कोमालिका से पहले झारखंड की दीपिका कुमारी ने 2009 में यह खिताब जीता था।

भारतीय तीरंदाज कोमालिका बारी ने रविवार को विश्व युवा तीरंदाजी चैंपियनशिप के रिकर्व कैडेट वर्ग के एक तरफा फाइनल में जापान की उच्च रैंकिंग वाली सोनोदा वाका को हराकर स्वर्ण पदक हासिल किया। झारखंड के जमशेदपुर की टाटा तीरंदाजी अकादमी की 17 साल की खिलाड़ी कोमालिका अंडर-18 वर्ग में विश्व चैंपियन बनने वाली भारत की दूसरी तीरंदाज बनीं। उनसे पहले दीपिका कुमारी ने 2009 में यह खिताब जीता था।

विश्व तीरंदाजी से निलंबन लागू होने से पहले भारत ने अपनी आखिरी प्रतियोगिता में दो स्वर्ण और एक कांस्य पदक के साथ अभियान का समापन किया। इस महीने की शुरुआत में विश्व तीरंदाजी ने भारत को निलंबित करने का फैसला किया था। जिसके हटने तक अब कोई भी भारतीय तीरंदाज देश का प्रतिनिधित्व नहीं कर पाएगा। भारतीय तीरंदाजों ने इससे पहले शनिवार को मिश्रित जूनियर युगल स्पर्धा में स्वर्ण और शुक्रवार को जूनियर पुरुष टीम स्पर्धा में कांस्य जीता था।

कैडेट वर्ल्ड चैंपियन बननेवाली टाटा आर्चरी एकेडमी की तीरंदाज कोमालिका बारी ने 2012 में आइएसडब्ल्यूपी (तार कंपनी) तीरंदाजी सेंटर से अपने करियर की शुरुआत की थी। कोमालिका का यहां तक का सफर आसान नहीं रहा और उनके परिवार को काफी आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा। कोमालिका की मां लक्ष्मी बारी आंगनबाड़ी सेविका हैं, वहीं पिता एलआईसी एजेंट का काम करते हैं।
(भाषा से इनपुट के साथ)


Web Title: Komalika Bari wins world youth archery championships
अन्य खेल से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे