नवाचार अपनाते हुए शिक्षा का उत्कृष्ट केन्द्र बनें विश्वविद्यालय : मिश्र

By भाषा | Published: October 14, 2021 10:25 PM2021-10-14T22:25:10+5:302021-10-14T22:25:10+5:30

University should become a center of excellence by adopting innovation: Mishra | नवाचार अपनाते हुए शिक्षा का उत्कृष्ट केन्द्र बनें विश्वविद्यालय : मिश्र

नवाचार अपनाते हुए शिक्षा का उत्कृष्ट केन्द्र बनें विश्वविद्यालय : मिश्र

Next

जयपुर, 14 अक्टूबर राजस्थान के राज्यपाल और कुलाधिपति कलराज मिश्र ने विश्वविद्यालयों को नई शिक्षा नीति को ध्यान में रखते हुए विद्यार्थियों के हित में समय अनुरूप पाठ्यक्रम विकसित करने को कहा।

उन्होंने तकनीकी पाठ्यक्रमों में कौशल प्रशिक्षण पर विशेष ध्यान देने और मुक्त विश्वविद्यालयों के पाठ्यक्रमों को निरंतर अपडेट करने का भी आह्वान किया। उन्होंने कहा कि गुणवत्ता के साथ रोजगारोन्मुखी शिक्षा के लिए सभी विश्वविद्यालयों के स्तर पर निरंतर प्रयास किए जाने चाहिए।

राज्यपाल बृहस्पतिवार को कोटा विश्वविद्यालय के अतिथि गृह में कोटा के सभी विश्वविद्यालयों की प्रगति की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे।

मिश्र ने विश्वविद्यालयों द्वारा तकनीकी और विज्ञान विषय के पाठ्यक्रमों को अंग्रेजी के साथ हिंदी और क्षेत्रीय भाषाओं में भी तैयार करने पर बल दिया। उन्होंने पाठ्यक्रमों को रोजगारोन्मुखी बनाने और व्यावसायिक शिक्षा के अंतर्गत आत्मनिर्भर भारत की सोच को भी व्यावहारिक रूप में क्रियान्वित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शिक्षा में निरंतर नवाचार अपनाते हुए काम किया जाये जिससे आने वाली पीढ़ियों का समयानुकूल शिक्षा प्राप्त करने का सपना साकार हो सके।

उन्होंने राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय, कोटा विश्वविद्यालय और वर्धमान महावीर खुला विश्वविद्यालय, कोटा द्वारा प्रस्तुत उनके पाठ्यक्रमों और शैक्षणिक गतिविधियों के सबंध में किए जा रहे नवाचारों का प्रस्तुतिकरण भी देखा। राज्यपाल मिश्र ने कहा कि विश्वविद्यालयों में रिक्त पदों पर नियुक्तियों एवं पदोन्नति के सबंध में समयबद्ध कार्यवाही का प्रयास किया जाएगा।

राज्यपाल ने सभी विश्वविद्यालयों के प्रस्तुतीकरण को देखकर कहा कि भविष्य की आवश्यकताओं और चुनौतियों को ध्यान मे रखते हुए विश्वविद्यालयों को ज्ञान के उत्कृष्ट केन्द्र के रूप में विकसित करने के प्रयास करें।

इस अवसर पर वर्धमान महावीर मुक्त विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आर. एल. गोदारा, कोटा विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. नीलिमा सिंह, कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. डी. सी. जोशी व राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आर. ए. गुप्ता भी उपस्थित रहे।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: University should become a center of excellence by adopting innovation: Mishra

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे