Sanjay Raut u turn on karim lala meet Indira Gandhi says he always respect Gandhi family more leader meet don | करीम लाला वाले बयान पर संजय राउत का यूटर्न, कहा- 'विपक्ष में रहकर भी इंदिरा गांधी का सम्मान किया, नेहरू व गांधी परिवार की हमेशा इज्जत की'
शिवसेना सांसद संजय राउत (फाइल फोटो)

Highlightsसंजय राउत ने कहा, 'करीम लाला पठानों के नेता के तौर अन्य नेताओं से मिला करता था।'संजय राउत के विवादित बयान के बाद मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम और मिलिंद देवरा ने शिवसेना नेता से बयान वापस लेने मांग की थी।

शिवसेना सांसद संजय राउत ने इंदिरा गांधी और डॉन करीम लाला को लेकर दिए बयान पर सफाई पेश की है। संजय राउत ने कहा है, 'पंडित जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और गांधी परिवार का मैंने हमेशा सम्मान किया है। विपक्ष में रहने के बाद भी मैंने उन्हें सम्मान ही दिया है बल्कि ऐसा कोई नहीं करता है। जब भी कोई इंदिरा गांधी के खिलाफ बोला है, मैंने हमेशा आवाज उठाई है।' राउत ने 15 जनवरी 2020 को लोकमत मीडिया समूह के पुरस्कार समारोह के दौरान दावा किया था कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी मुंबई में पुराने डॉन करीम लाला से मिली थीं।

न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए बयान में संजय राउत ने कहा, करीम लाला पठानों के नेता के तौर अन्य नेताओं से मिला करता था। करीम लाला से कई सारे नेता मिलते थे। वो वक्त अलग था। वह पठान कमिटी का नेता था। वह अफगानिस्तान से आया था, इसलिए लोग पठानी लोगों की परेशानियां जानने के लिए उससे हमेशा मिलते थे। 

कांग्रेस नेताओं ने संजय राउत से बयान वापस लेने की थी मांग

संजय राउत के विवादित बयान के बाद मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम और मिलिंद देवरा ने शिवसेना नेता से बयान वापस लेने मांग की थी। दोनों नेताओं ने ट्वीट कर संजय राउत पर निशाना साधा है। संजय निरुपम ने ट्वीट कर लिखा है, 'बेहतर होगा कि शिवसेना के मि.शायर दूसरों की हल्की-फुल्की शायरी सुनाकर महाराष्ट्र का मनोरंजन करते रहें। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी के खिलाफ दुष्प्रचार करेंगे तो उन्हें पछताना पड़ेगा। कल उन्होंने इंदिराजी के बारे में जो बयान दिया है वो वापस ले लें।'

मिलिंद देवरा ने ट्वीट करते हुए लिखा, इंदिरा जी सच्ची देशभक्त थीं, उन्होंने देश की सुरक्षा से कभी समझौता नहीं किया। मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष के रूप में मैं संजय राउत से उनके गलत जानकारी वाले बयान को वापस लेने की मांग करता हूं।' 

पढ़ें संजय राउत का करीम लाला और इंदिरा गांधी को लेकर दिया पूरा बयान 

शिवसेना सांसद संजय राउत ने दावा किया कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी मुंबई में पुराने डॉन करीम लाला से मिली थीं। राउत ने 15 जनवरी 2020 को लोकमत मीडिया समूह के पुरस्कार समारोह के दौरान एक साक्षात्कार में कहा, ''वे (अंडरवर्ल्ड) तय करते थे कि मुंबई का पुलिस आयुक्त कौन बनेगा, मंत्रालय (सचिवालय) में कौन बैठेगा।''

उन्होंने दावा किया कि हाजी मस्तान के मंत्रालय में आने पर पूरा मंत्रालय उसे देखने के लिए नीचे आ जाता था। इंदिरा गांधी पाइधोनी (दक्षिण मुंबई में) में करीम लाला से मिलने आती थीं। राउत की पार्टी ने पिछले साल महाराष्ट्र में राकांपा और कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनायी है। 

राउत ने मुंबई में अंडरवर्ल्ड के दिनों को याद करते हुए कहा कि दाऊद इब्राहिम, छोटा शकील और शरद शेट्टी जैसे गैंगस्टर महानगर और आस-पास के क्षेत्रों पर नियंत्रण रखते थे। शिवसेना के राज्यसभा सदस्य ने कहा, ‘‘वे अंडरवर्ल्ड के दिन थे। बाद में, हर कोई (डॉन) देश छोड़कर भाग गया। अब ऐसा कुछ नहीं है।’’

राउत ने दावा किया कि उन्होंने दाऊद इब्राहिम सहित कई गैंगस्टरों की तस्वीरें खींची। शिवसेना नेता ने यह भी दावा किया कि उन्होंने एक बार दाऊद इब्राहिम को फटकार लगाई थी। संपर्क करने पर राज्य कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने कहा कि वह इंदिरा गांधी के बारे में राउत की वास्तविक टिप्पणियां पढ़ने के बाद ही टिप्पणी करेंगे। (पीटीआई-भाषा इनपुट के साथ) 

Web Title: Sanjay Raut u turn on karim lala meet Indira Gandhi says he always respect Gandhi family more leader meet don
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे