Coronavirus: Joint preparation with private hospitals of Delhi government to tackle the threat | Coronavirus: तबलीगी खतरे से निपटने के लिए दिल्ली सरकार की निजी अस्पतालों संग संयुक्त तैयारी
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो)

Highlightsदिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के लोगों से कोरोना संक्रमण फैलने के खतरे को देखते हुए सरकार की ओर से विशेष ऑपरेशन चलाकर सभी लोगों की टेस्टिंग की जा रही है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि टेस्टिंग किट की जो कमी थी वो अब नहीं है और पर्याप्त मात्रा में टेस्टिंग किट यहां उपलब्ध हैं। दिल्ली में अगर कोरोना वायरस के 100 पेशेंट रोजाना भी जुड़ते हैं तो हमारी तैयारी पूरी है।

दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के लोगों से कोरोना संक्रमण फैलने के खतरे को देखते हुए सरकार की ओर से विशेष ऑपरेशन चलाकर सभी लोगों की टेस्टिंग की जा रही है। इन्हें क्वॉरन्टाइन में रखा गया है। तबलीगी कोरोना पॉजिटिव लोगों से संक्रमण किसी ओर में न फैल सके इसके लिए सरकार निजी अस्पताओं के साथ मिलकर संयुक्त रूप से काम में जुट गई है। निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात के मरकज में शामिल हुए लोगों से और लोगों को संक्रमण हुआ है या नहीं, इसको लेकर भी दिल्ली सरकार पूरी तरह जांच कर रही है। निजामुद्दीन इलाके को सेनिटाइज कर लिया गया है और दिल्ली में कितने लोगों को इस संक्रमण का खतरा है वो पता लगाने के लिए जांच और कार्रवाई की जा रही है।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि टेस्टिंग किट की जो कमी थी वो अब नहीं है और पर्याप्त मात्रा में टेस्टिंग किट यहां उपलब्ध हैं। दिल्ली में अगर कोरोना वायरस के 100 पेशेंट रोजाना भी जुड़ते हैं तो हमारी तैयारी पूरी है। इसके अलावा ईश्वर न करे कि ऐसा हो लेकिन अगर 500 पेशेंट भी रोजाना बढ़ते हैं तो दिल्ली सरकार इसके लिए तैयार है। इसके अलावा अगर 1000 पेशेंट रोजाना बढ़ते हैं तो भी इस स्थिति में क्या किया जाए इसके लिए दिल्ली सरकार तमाम तरह की कोशिशें कर रही हैं।

उन्होंने कहा कि निजी हॉस्पिटल्स को भी इस महामारी ले लड़ने के लिए पूरी तरह तैयार कर लिया गया है। निजी अस्पतालों के पास कितने वेंटिलिटर्स हैं, कितने आईसीयू, कितना स्टाफ है इन सबकी जानकारी दिल्ली सरकार के पास है और सभी तरह के अस्पतालों को इसके लिए तैयार कर लिया गया है। कोरोना से लड़ाई के लिए एनएलजेपी के चिकित्सा अधीक्षक डा.वाइएस सरीन की अगुवाई में एक टीम बनाई है और यह टीम सभी इंतजामों की समीक्षा कर रही है।

सिसोदिया ने कहा कि कोरोना संक्रमित चिकित्सक और उनकी पत्नी का उपचार चल रहा है। चिकित्सकों को संक्रमण का खतरा है। लेकिन संक्रमण के कारण यह नहीं हो सकता कि मोहल्ला क्लीनिक में अन्य मरीजों को देखना बंद कर दिया जाए। अन्य मरीजों का उपचार और दवा देनी जारी है। जिसे परेशानी होगी वह डॉक्टर को दिखाने तो आएगा ही। लोगों से कहा जा रहा है कि वह सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखें।

कोरोना के खिलाफ केंद्र के साथ मिलकर कर रहे हैं काम :

सिसोदिया ने कहा कि आगामी पांच अप्रैल को वह भी रात 9 बजे प्रधानमंत्री की अपील में शामिल होते हुए मोमबत्ती जलाएंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य सरकारें सभी मिलकर कोरोना की लड़ाई में साथ हैं। गुरूवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों के सीएम के साथ जो बैठक की उसमें भी यही कहा गया है कि राज्य सरकारों को केंद्र सरकार का पूरा सपोर्ट है।

Web Title: Coronavirus: Joint preparation with private hospitals of Delhi government to tackle the threat
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे