Coronavirus Bihar patna cm nitish kumar hospital opened Chief Minister's residence questions arose | कोरोना से सहमे सीएम नीतीश, मुख्यमंत्री आवास में ही खुलवा लिया अत्याधुनिक अस्पताल, उठने लगे सवाल
पीएमसीएच ने इसके लिए 3 टीम का गठन किया है. तीनों टीम में 2-2 डॉक्टर और एक नर्स प्रतिनियुक्त किया गया है. (file photo)

Highlightsप्राप्त जानकारी के अनुसार सरकार के आदेश पर पीएमसीएच अधीक्षक ने 6 चिकित्सकों को तैनात किया है. मुख्यमंत्री आवास में खुलने वाले आधुनिक सुविधाओं वाले अस्पताल के लिए डॉक्टर और दूसरे उपकरण पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल से भेजे जायेंगे. पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अन्तर्गत कार्यरत चिकित्सकों औप परिचारिकाओं को माननीय मुख्यमंत्री पर तीन पालियों में प्रतिनियुक्त किया जाता है.

पटनाः देश भर में ये पहला मामला होगा जब सीएम आवास में ही कोरोना का अस्पताल खोल दिया जाये. वह भी तब जब आम लोगों को इलाज के लिए मामूली सुविधायें भी नहीं मिल रही हैं.

दरअसल, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की भतीजी कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई हैं. इसके बाद मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर वेंटीलेटर युक्त आधुनिक सरकारी अस्पताल खोल दिया गया है. वेंलीलेटर युक्त इस अस्पताल के 6 डॉक्टर और तीन ए ग्रेड की नर्सों की तैनाती कर दी गई हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार सरकार के आदेश पर पीएमसीएच अधीक्षक ने 6 चिकित्सकों को तैनात किया है. बिहार के मुख्यमंत्री को कोरोना से बचाने के लिए मुख्यमंत्री आवास में खुलने वाले आधुनिक सुविधाओं वाले अस्पताल के लिए डॉक्टर और दूसरे उपकरण पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल से भेजे जायेंगे.

पीएमसीएच के अधीक्षक ने आज इस बाबत पत्र निकाला है

पीएमसीएच के अधीक्षक ने आज इस बाबत पत्र निकाला है. पत्र में कहा गया है. “अपर सचिव, स्वास्थ्य विभाग, बिहार पटना के द्वारा दूरभाष पर दिये गये निर्देश के आलोक में कोरोना वायरस से उत्पन्न संक्रमण के रोक थाम और इसके निरोधात्मक उपाय को देखते हुए माननीय मुख्यमंत्री जी के आवास पर वेंटीलेटर युक्त अस्पताल का संचालन होना है.

इसके लिए पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अन्तर्गत कार्यरत चिकित्सकों औप परिचारिकाओं को माननीय मुख्यमंत्री पर तीन पालियों में प्रतिनियुक्त किया जाता है.” पीएमसीएच ने इसके लिए 3 टीम का गठन किया है. तीनों टीम में 2-2 डॉक्टर और एक नर्स प्रतिनियुक्त किया गया है. इस तरीके से  कुल 6 डॉक्टर और तीन नर्सों को प्रतिनियुक्त किया गया है.

पीएमसीएच अधीक्षक ने पहली टीम में डॉक्टर आर.डी सिंह, डॉ राकेश कुमार और ए ग्रेड नर्स सोनी को तैनात किया गया है. जबकि दूसरी टीम में डॉ राजन कुमार, डॉ विशाल वैभव और ए ग्रेड नर्स सोनम को प्रतिनियुक्त किया गया है. जबकि तीसरी टीम में डॉ पंकज हंस, डॉ अरुण कुमार शर्मा और ए ग्रेड नर्स सुनील कुमार की तैनाती की गई है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अगले कुछ दिनों के लिए एक अणे मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास छोड़ कर राजकीय अतिथिशाला में ठहरेंगे

इस बीच खबर है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अगले कुछ दिनों के लिए एक अणे मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास छोड़ कर राजकीय अतिथिशाला में ठहरेंगे. राजकीय अतिथिशाला में साफ सफाई के साथ-साथ तमाम इंतजाम भी किए जा रहे हैं. हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है.

कहा जा रहा है कि मुख्यमंत्री आवास में रह रही अपनी भतीजी के कोरोना संक्रमित पाये जाने से घबराये नीतीश कुमार राजकीय अतिथिशाला में रहने की तैयारी कर रहे हैं. बिहार सरकार के किसी अधिकारी ने वैसे तो इस खबर की पुष्टि नहीं की है. लेकिन बिहार के राजकीय अतिथिशाला यानि स्टेट गेस्टहाउस में अचानक से जोर-शोर से काम चलने लगा है. वहां तैनात एक कनीय अधिकारी ने मुख्यमंत्री के लिए तैयारी हो रही है.

इसबीच विरोधी दल का का कहना है कि मुख्यमंत्री आवास में सारी तैनाती पीएमसीएच से की गई हैं, जो फिलहाल गरीबों के इलाज के लिए बिहार का सबसे बडा अस्पताल है. वहां पहले से ही डॉक्टरों की भारी किल्लत है. लेकिन वहीं से डॉक्टरों को सीएम आवास भेज दिया गया है.

इसके लिए आईसीयू से लेकर वेंटीलेटर जैसे सारे आधुनिक उपकरण मुख्यमंत्री आवास में भेज दिया गया है. सरकारी सूत्र बता रहे हैं कि ये सारे इंतजाम सिर्फ इसलिए किये जा रहे हैं ताकि अगर मुख्यमंत्री को संक्रमण का खतरा हो तो सारा इंतजाम घर पर ही मौजूद हो.

Web Title: Coronavirus Bihar patna cm nitish kumar hospital opened Chief Minister's residence questions arose
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे