bihar Purnea massacre Dalit leader shot dead Tejashwi Yadav writes letter to CM Nitish CBI investigated | दलित नेता की गोली मारकर हत्याः तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश को लिखा पत्र, सीबीआई जांच करवाएं, सच सामने आएं
खुद के ख़िलाफ़ ही मुख्यमंत्री से की सीबीआई जाँच की अनुशंसा की माँग। (file photo)

Highlightsसीएम इस मामले में उनके खिलाफ सीबीआई जांच करवाएं और जरूरत पड़े तो उन्हें गिरफ्तार कर पूछताछ करें। राजद नेता तेजस्वी यादव ने पूर्णिया हत्याकांड को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लिखी चिट्ठी।

पटनाः बिहार के पूर्णिया में दलित नेता की गोली मारकर हत्या का मामला गर्मा गया है। राजद नेता तेजस्वी यादव ने पूर्णिया हत्याकांड को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लिखी चिट्ठी। खुद के ख़िलाफ़ ही मुख्यमंत्री से की सीबीआई जाँच की अनुशंसा की माँग।

सीएम इस मामले में उनके खिलाफ सीबीआई जांच करवाएं और जरूरत पड़े तो उन्हें गिरफ्तार कर पूछताछ करें। बता दें बिहार के पूर्णिया जिले के केहाट थाना क्षेत्र में एक दलित नेता की हत्या मामले में राजद नेता तेजस्वी प्रसाद यादव और उनके बड़े भाई तेजप्रताप यादव सहित छह लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

दलित नेता शक्ति मलिक के घर में घुसकर गोली मारकर उनकी हत्या कर दी

केहाट थाना क्षेत्र में रविवार सुबह नकाबपोश अपराधियों ने दलित नेता शक्ति मलिक के घर में घुसकर गोली मारकर उनकी हत्या कर दी थी। पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा ने इस मामले में तेजस्वी प्रसाद यादव एवं तेजप्रताप यादव सहित कुल छह लोगों के खिलाफ केहाट थाने में प्राथमिकी दर्ज किए जाने की पुष्टि की।

इस मामले में तेजस्वी यादव ने कहा है कि वे चाहते हैं कि इस मामले में पीड़ित परिवार को तुरंत न्याय मिले और दूध का दूध और पानी का पानी हो। तेजस्वी ने कहा कि वे आग्रह करते हैं कि इस मामले की राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर की किसी भी एजेंसी अविलंब जांच कराने की अनुशंसा सीएम करें।

केहाट थानाध्यक्ष सुनील कुमार मण्डल ने बताया कि मृतक की पत्नी खुशबू देवी के बयान के आधार पर तेजप्रताप, तेजस्वी, अनिल कुमार साधु (राजद एससी-एसटी प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष), मनोज, सुनिता और कालो पासवान के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गयी है। उन्होंने बताया कि मलिक की पत्नी ने राजनीतिक साजिश के तहत अपने पति की हत्या किए जाने का आरोप लगाया और कई नेताओं के नाम लिए।

निदर्लीय उम्मीदवार के रूप में विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे

राजद से निकाले जाने के बाद एक निदर्लीय उम्मीदवार के रूप में विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे। वारदात की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा और अनुमंडल पुलिस अधिकारी सदर आनंद पांडेय ने वारदात स्थल पहुंच कर निरीक्षण किया था। पुलिस ने वारदात स्थल से एक खोखा और देशी कट्टा बरामद किया है। हाल ही में बिहार की प्रमुख विपक्षी पार्टी राजद से निष्कासित कर दिए गए मलिक पडोसी जिले अररिया के रानीगंज विधानसभा से चुनाव लड़ने की तैयारी में थे।

मलिक ने हत्या के पहले राजद नेता तेजस्वी यादव सहित पार्टी के अन्य नेताओं पर टिकट के बदले पैसे की मांग करने, जातिगत टिप्पणी करने और उनसे अपनी जान का खतरा होने का आरोप लगाया था । बिहार में सत्ताधारी जदयू के प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने आरोप लगाया कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी लगातार दलितों, पिछड़ों, वंचितों की बात करते हैं लेकिन एक वीडियो वायरल हुआ है और वही नेता प्रतिपक्ष की असलियत है। उन्होंने कहा कि रानीगंज विधानसभा क्षेत्र के राजनीतिक कार्यकर्ता शक्ति मलिक की हत्या हो गई जिन्होंने टिकट के लिए कुछ दिन पहले तेजस्वी यादव पर पैसों के लेनदेन का आरोप लगाया था।

प्रसाद ने कहा कि तेजस्वी ने मलिक से 50 लाख रुपये पहले एवं 20 लाख रुपये टिकट फाइनल होने के बाद मांगें थे और इससे इंकार करने पर शक्ति मलिक को जातिसूचक शब्दों के द्वारा गाली दी गई और आज सुबह उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई। जदयू नेता अजय आलोक ने मांग की कि चुनाव आयोग इस मामले में संज्ञान लेते हुए मामले की जांच सीबीआई से कराए ।

 

Web Title: bihar Purnea massacre Dalit leader shot dead Tejashwi Yadav writes letter to CM Nitish CBI investigated

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे