10 सेकंड तक एक पैर पर नहीं हो पाते है खड़ा तो बढ़ सकता है आप में मौत का खतरा ज्यादा- नए रिसर्च में हुआ चौंकाने वाला खुलासा, जानें पूरी रिपोर्ट

By आजाद खान | Published: June 23, 2022 05:20 PM2022-06-23T17:20:14+5:302022-06-23T17:26:07+5:30

आपको बता दें कि इस रिसर्च में यह पाया गया कि हर पांच में से 1 शख्स अपने एक पैर पर खड़ा नहीं हो पा रहा था। ऐसे में इनके जल्द मरने के चांसेस बढ़ गए थे।

British Journal of Sports Medicine article claim who do not stand for 10 second may face early death in 10 years says study | 10 सेकंड तक एक पैर पर नहीं हो पाते है खड़ा तो बढ़ सकता है आप में मौत का खतरा ज्यादा- नए रिसर्च में हुआ चौंकाने वाला खुलासा, जानें पूरी रिपोर्ट

10 सेकंड तक एक पैर पर नहीं हो पाते है खड़ा तो बढ़ सकता है आप में मौत का खतरा ज्यादा- नए रिसर्च में हुआ चौंकाने वाला खुलासा, जानें पूरी रिपोर्ट

Next
Highlightsब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स मेडिसिन में छपी एक रिसर्च ने चौकाने वाले खुलासे किए है। इसके मुताबिक, अगर आप अपने बॉडी को सही से बैलेंस नहीं कर पाते तो ऐसे में आपके जल्दी मरने के चांसेस ज्यादा बढ़ जाते है। इसका खुलासा करने के लिए 12 साल तक रिसर्च किया गया है।

High Death Risk Test: क्या आप भी अपने एक पैर पर 10 सेकंड तक खड़े नहीं हो पाते है, तो यह आपके लिए बहुत ही बुरी खबर हो सकती है। जी हां, हाल ही में छपी एक रिसर्च के मुताबिक, जो लोग अपने एक पैर पर सही से खड़े नहीं हो सकते है वो भी केवल 10 सेकंड तो ऐसे लोगों में आने वाले 10 सालों में उनके मौत का खतरा दोगुना बढ़ जाता है। इसका खुलासा एक रिसर्च में हुआ है जिसमें यूके, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, फिनलैंड और ब्राजील के बड़े-बड़े एक्सपर्ट्स भी शामिल थे। इस रिसर्च के लिए 12 साल लग गए है तब जाकर एक्सपर्ट्स इसको लेकर कुछ खुलासा कर पाए है। 

क्या है नया खोज

ब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स मेडिसिन में छपी एक रिसर्च के मुताबिक, अगर कोई कम उम्र वाला नवजवान या फिर कोई बुजुर्ग 10 सेकंड तक अपना बैलेंस नहीं बना सकता है यानी अपने एक पैरों पर खड़ा नहीं हो सकता है तो ऐसे में इन में स्ट्रोक, टाइप-2 डायबिटीज की समस्या, मोटापा, हाई ब्लड प्रेशर जैसे और भी गंभीर समस्या बढ़ सकती है। यही नहीं इन में अगले दस सालों में मौत का भी खतरा बढ़कर दोगुना हो जाता है। 

रिसर्च के प्रमुख शोधकर्ता डॉक्टर क्लाडिओ गिल अराजुओ का कहना है कि इसके पीछ हमारी कराब जीवनशैली हो सकती है। उन्होंने यह भी कहा कि ऐसे लोगों में फिजिकल एक्टिविटी या एक्सरसाइज को भी कम पाया गया है जिसके कारण उनके मौत कारण दोगुना हो जाता है। 

डॉक्टर अराजुओ ने जानकारी शेयर करते हुए कहा कि उनके हिसाब से 51-75 साल के बुजुर्ग लोगों के रुटीन हेल्थ चेक अप में सेफ बैलेंस टेस्ट को भी शामिल किया जाना चाहिए।

क्या खुलासा हुआ रिसर्च में

इस रिसर्च को 2008 में शुरू किया गया था जो 2020 तक चला है। इस दौरान इस रिसर्च में 51 से 75 साल के कुल 1702 लोगों को शामिल किया गया। इन पर 12 साल तक रिसर्च करने के बाद यह खुलासा किया गया है। रिसर्च में यह पाया गया कि हर पांच में से 1 शख्स अपने एक पैर पर खड़ा नहीं हो पा रहा था। ऐसे में इस टेस्ट के 10 साल के अंदर अलग-अलग कारणों के वजह से 123 लोगों की मौत हुई थी और जो लोग मरे थे उन में ज्यादा वो लोग थे जो टेस्ट में फेल हो गए थे। 

ऐसे में इस रिसर्च में यह साफ हुआ कि केवल 10 सिकेन्ड के लिए अपने एक पैर पर खड़ा नहीं हो पाने से आने वाले 10 सालों के अंदर आपके मरने के चांस दोगुने हो जाते है। 
 

Web Title: British Journal of Sports Medicine article claim who do not stand for 10 second may face early death in 10 years says study

स्वास्थ्य से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे