World Cup 2023: फाइनल के दिन ही खत्म हो जाएगा राहुल द्रविड़ का कोच के रूप में कार्यकाल, भविष्य का फैसला अब तक नहीं

राहुल द्रविड़ और उनके सहयोगी स्टाफ के पास विश्व कप तक का अनुबंध था। लेकिन द्रविड़ और उनके नेतृत्व वाले सहयोगी स्टाफ के भविष्य के बारे भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने अभी तक चर्चा शुरू नहीं की है।

By शिवेन्द्र कुमार राय | Published: November 16, 2023 02:35 PM2023-11-16T14:35:49+5:302023-11-16T14:37:31+5:30

World Cup 2023 Rahul Dravid's tenure as coach will end on the day of the final itself | World Cup 2023: फाइनल के दिन ही खत्म हो जाएगा राहुल द्रविड़ का कोच के रूप में कार्यकाल, भविष्य का फैसला अब तक नहीं

भारतीय क्रिकेट टीम के कोच राहुल द्रविड़ (फाइल फोटो)

Next
Highlightsराहुल द्रविड़ और उनके सहयोगी स्टाफ के पास विश्व कप तक का अनुबंध था ये साफ नहीं है कि द्रविड़ खुद भी पद पर बने रहने के इच्छुक हैं या नहीं द्रविड़ से उनके भविष्य को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई है

World Cup 2023, Rahul Dravid: भारतीय क्रिकेट टीम के कोच राहुल द्रविड़ का कार्यकाल विश्वकप के तुरंत बाद समाप्त हो जाएगा। यानी कि कोच के रूप में द्रविड़ का आधिकारिक कार्यकाल 19 नवंबर तक है। अगर भारतीय टीम 15 नवंबर को सेमीफाइनल मैच में हार जाती तो राहुल द्रविड़ का कार्यकाल उसी दिन समाप्त हो सकता था। लेकिन द्रविड़ और उनके  नेतृत्व वाले सहयोगी स्टाफ के भविष्य के बारे भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने अभी तक चर्चा शुरू नहीं की है।

राहुल द्रविड़ और उनके सहयोगी स्टाफ के पास विश्व कप तक का अनुबंध था। द्रविड़ ने जब कोचिंग की कमान संभाली थी तब उनके और कोचिंग टीम के भविष्य को लेकर बीसीसीआई के भीतर अलग-अलग लोगों की अलग राय थी।  शुरुआत में, द्रविड़ की कोचिंग शैली को लेकर बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारियों को आपत्ति थी। लेकिन भारतीय टीम ने विश्वकप में जैसा प्रदर्शन किया है उसे देखते हुए अब बीसीसीआई में ज्यादातर लोगों का मानना है कि उनको और उनकी टीम को विस्तार देना चाहिए और अनुबंध नवीनीकरण होना चाहिए।

हालांकि इस बीच ये साफ नहीं है कि द्रविड़ खुद भी पद पर बने रहने के इच्छुक हैं या नहीं। क्रिकबज की रिपोर्ट के अनुसार पिछले महीने या उससे पहले द्रविड़ से उनके भविष्य को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई है। संभावित विस्तार पर द्रविड़ का वर्तमान रुख अज्ञात है। लेकिन माना जा रहा है कि उनके सहयोगी स्टाफ के सदस्यों- बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़, गेंदबाजी कोच पारस म्हाम्ब्रे और क्षेत्ररक्षण कोच टी दिलीप को विस्तार की पेशकश की जा सकती है। 

विश्वकप में ऐसा रहा है टीम इंडिया का सफर

पहला मैच: भारत ने चेन्नई में ऑस्ट्रेलिया को छह विकेट से हराया।

दूसरा मैच: भारत ने दिल्ली में अफगानिस्तान को आठ विकेट से हराया।

तीसरा मैच: भारत ने अहमदाबाद में पाकिस्तान को सात विकेट से हराया।

चौथा मैच: भारत ने पुणे में बांग्लादेश को सात विकेट से हराया।

पांचवां मैच: भारत ने धर्मशाला में न्यूजीलैंड को चार विकेट से हराया।

छठा मैच: भारत ने लखनऊ में इंग्लैंड को 100 रनों से हराया।

सातवां मैच: भारत ने मुंबई में श्रीलंका को 302 रनों से हराया।

आठवां मैच: भारत ने कोलकाता में दक्षिण अफ्रीका को 243 रनों से हराया।

नौवां मैच: भारत ने बेंगलुरु में नीदरलैंड को 160 रन से हराया।

सेमीफाइनल: भारत ने मुंबई में न्यूजीलैंड को 70 रनों से हराया।

Open in app