WC कप से बाहर होने पर वीरेंद्र सहवाग ने पाकिस्तान के जले पर छिड़का नमक, कहा- "21वीं सदी में हम पांच बार सेमीफाइनल में पहुंचे और तुम..."?

पाकिस्तान के टूर्नामेंट से बाहर हो जाने पर सोशल मीडिया पर मीम की बाढ़ सी आ गई है। इस बीच टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज ने पाकिस्तान के जले पर नमक छिड़कने का काम किया है। 

By रुस्तम राणा | Published: November 11, 2023 06:00 PM2023-11-11T18:00:15+5:302023-11-11T18:00:44+5:30

Virender Sehwag lashes out at critics following 'Bye Bye Pakistan' post: They expect love for their hate | WC कप से बाहर होने पर वीरेंद्र सहवाग ने पाकिस्तान के जले पर छिड़का नमक, कहा- "21वीं सदी में हम पांच बार सेमीफाइनल में पहुंचे और तुम..."?

WC कप से बाहर होने पर वीरेंद्र सहवाग ने पाकिस्तान के जले पर छिड़का नमक, कहा- "21वीं सदी में हम पांच बार सेमीफाइनल में पहुंचे और तुम..."?

Next

ICC World Cup 2023: पाकिस्तान क्रिकेट वर्ल्ड कप से बाहर हो गया है। इंग्लैंड ने शनिवार को कोलकाता के ऐतिहासिक ईडन गार्डन्स के मैदान पर जैसे ही टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया तो तुरंत ही पाकिस्तान का वर्ल्ड कप 2023 से सफर खत्म हो गया। पाकिस्तान के टूर्नामेंट से बाहर हो जाने पर सोशल मीडिया पर मीम की बाढ़ सी आ गई है। इस बीच टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज ने पाकिस्तान के जले पर नमक छिड़कने का काम किया है। 

सहवाग ने अपने एक्स हैंडल पर लिखा, "21वीं सदी में 6 वनडे वर्ल्ड कप हो चुके हैं। 6 प्रयासों में, 2007 में केवल एक बार हम सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाए और पिछले 6 विश्व कप में से 5 में हम क्वालीफाई कर पाए हैं। दूसरी ओर पाकिस्तान 2011 में 6 प्रयासों में केवल एक बार सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई कर सका है और वे आईसीसी और बीसीसीआई पर गेंदों और पिच को बदलने का आरोप लगाते हुए हास्यास्पद आरोप लगाते हैं।"

उन्होंने आगे लिखा, "जब हम किसी अन्य टीम को हराने के बावजूद उनसे हार जाते हैं तो उनके प्रधानमंत्री हमारा मजाक उड़ाते हैं। यहां पहुंचने पर उनके खिलाड़ी हमारे सैनिक का मजाक उड़ाने के लिए हैदराबाद में चाय का आनंद लेने की तस्वीरें व्यंग्य के साथ पोस्ट करते हैं।"

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने लिखा, "पीसीबी प्रमुख कैमरे पर हमारे देश को दुश्मन मुल्क कहते हैं और वे अपनी नफरत के बदले प्यार की उम्मीद करते हैं और वे उपदेश देने वाले वर्ग, वह दोतरफा रास्ता है। जो अच्छा व्यवहार करे उसके साथ हम बहुत अच्छे हैं, और जो ऐसा व्यवहार करे तो सही मौके पर वापस लौटना ही मेरा रास्ता है। मैदान पर भी, मैदान के बाहर भी"

Open in app