Pakistan plane crash foreign experts find cockpit voice recorder of crashed aircraft | पाकिस्तान विमान दुर्घटना: विदेशी विशेषज्ञों ने दुर्घटनाग्रस्त विमान का कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर ढूंढ निकाला
जिन्ना अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के रनवे, हवाई यातायात नियंत्रण टावर और राडार नियंत्रण स्टेशन का निरीक्षण किया।

Highlightsलाहौर से कराची जा रही एयरबस ए320 विमान पिछले शुक्रवार को जिन्ना अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के निकट एक आवासीय इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गयी थी।विमान से जुड़ा कोई भी सामान यादगार के तौर पर नहीं रखें और कुछ भी मिलने पर उसे अधिकारियों को सौंप दें।

कराचीः पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइन के, लगभग हफ्ते भर पहले दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान के मलबे से विदेशी विशेषज्ञों के एक दल ने बृहस्पतिवार को कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर खोज निकाला।

यह हादसा देश के इतिहास में सबसे भयावह हवाई दुर्घटनाओं में से एक है। लाहौर से कराची जा रही एयरबस ए320 विमान पिछले शुक्रवार को जिन्ना अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के निकट एक आवासीय इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गयी थी। हादसे में 97 लोग मारे गए थे और दो लोग चमत्कारिक ढंग से बच गए थे।

विदेशी विशेषज्ञों के 11 सदस्यीय दल ने बृहस्पतिवार को घटनास्थल का दौरा किया और कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर खोज निकाला जो जांच में एक महत्वपूर्ण साक्ष्य होगा। इस दल में एयरबस कंपनी के प्रतिनिधि भी शामिल थे।

कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर ऐसा उपकरण होता है जो पायलट के हेडसेट के माइक्रोफोन तथा ईयरफोन के ऑडियो संकेतों को रिकॉर्ड करता है और उन्हें सुरक्षित रखता है। यह हादसों की जांच में मददगार होता है। पीआईए के प्रवक्ता ने कहा कि जांच दल ने विमान के मलबे वाले स्थान पर बृहस्पतिवार को पांच घंटे तक छानबीन की और वॉइस रिकॉर्डर खोज लिया।

 

पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) के विमान हादसे पर प्रारंभिक जांच रिपोर्ट 22 जून को संसद के समक्ष पेश की जायेगी। देश के उड्डयन मंत्री गुलाम सरवर खान ने यह जानकारी दी। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने जांच में विलंब को लेकर नाराजगी जाहिर की थी।

पाकिस्तान में गत शुक्रवार को हुए विमान हादसे में तीन बच्चों समेत 97 लोगों की मौत हो गई। दो लोग चमत्कारिक ढंग से बच गए। पीआईए का एक यात्री विमान यहां जिन्ना अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के पास घनी आबादी वाले रिहाइशी इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। लाहौर से आ रहा विमान पीके-8303 कराची के जिन्ना अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर उतरने से कुछ मिनट पहले मालिर में मॉडल कॉलोनी के निकट जिन्ना गार्डन में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस दौरान जमीन पर मौजूद 11 लोग भी घायल हो गए थे।

उड्डयन मंत्री खान ने यहां पत्रकारों से कहा कि प्रधानमंत्री खान ने एक बैठक के दौरान इस तरह की जांच में विलंब को लेकर नाराजगी जताई है और जांच शीघ्र करने और इसके निष्कर्षों को लोगों से साझा करने के आदेश दिये हैं। मंत्री ने कहा, ‘‘हमने फैसला किया है कि प्रारंभिक रिपोर्ट 22 जून को संसद के समक्ष पेश की जायेगी।’’ उन्होंने कहा कि जांच ‘‘स्वतंत्र एवं निष्पक्ष’’ ढंग से होगी और कुछ भी गोपनीय नहीं रखा जायेगा। जो भी दोषी पाया जाएगा उसे जवाबदेह ठहराया जाएगा।

विदेशी विशेषज्ञों की एक टीम ने दुर्घटनाग्रस्त विमान के मलबे से बृहस्पतिवार को ‘कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर’ बरामद किया। मंत्री ने कहा कि आजादी के बाद से पाकिस्तान में 12 हवाई दुर्घटना हुई है जिनमें से पीआईए के दस विमान जबकि दो विमान निजी एयरब्लू और भोजा एयरलाइन के थे।

उन्होंने कहा कि इन हादसों की जांच रिपोर्टों को सार्वजनिक नहीं किया गया था और सरकार द्वारा उन सभी रिपोर्टों को संसद में पेश करके जारी करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि 51 शव की पहचान हो गई है और उन्हें उनके रिश्तेदारों को सौंप दिया गया है जबकि अन्य की पहचान डीएनए के जरिये किये जाने की प्रक्रिया जारी है। 

 

Web Title: Pakistan plane crash foreign experts find cockpit voice recorder of crashed aircraft
विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे