Report: Some suicide terrorists sent from Balakot to blow up Jammu and Kashmir military camps | जम्मू-कश्मीर के सैन्य शिविर उड़ाने के लिए बालाकोट से भेजे गए कुछ आत्मघाती आतंकी: रिपोर्ट
सरकारी सूत्रों का कहना है कि बालाकोट में फिर से बड़ी तादाद में आतंकवादी सक्रिय हो गए हैं। (फोटो- एएनआई)

Highlightsपाकिस्तान के बालाकोट में एकबार फिर आतंकी शिविर सक्रिय हो गए हैं और बड़ी तादात में आतंकियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।रिपोर्ट के मुताबिक, प्रशिक्षण ले चुके कुछ आतंकवादियों को जम्मू-कश्मीर स्थित भारत के सैन्य शिविरों पर हमले के लिए भेज भी दिया गया है।

पाकिस्तान के बालाकोट में एकबार फिर आतंकी शिविर सक्रिय हो गए हैं और बड़ी तादात में आतंकियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। समाचार एजेंसी एएनआई ने सरकार के सूत्रों के हवाले से लिखा है कि पाकिस्तान के बालाकोट कस्बे में 45-50 आत्मघाती आतंकवादी जैश-ए-मोहम्मद के शिविर में प्रशिक्षण ले रहे हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, प्रशिक्षण ले चुके कुछ आतंकवादियों को जम्मू-कश्मीर स्थित भारत के सैन्य शिविरों पर हमले के लिए भेज भी दिया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय खुफिया एजेंसियां बालाकोट के आतंकी शिविर पर निगरानी रख रही हैं। 

पिछले महीने ही सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने भी कहा था कि पाकिस्तान ने हाल ही में बालाकोट में आतंकवादी शिविर को सक्रिय किया है। 

रिपोर्ट के मुताबिक, सूत्रों का कहना है कि फरवरी में भारतीय वायुसेना द्वारा एयर स्ट्राइक किए जाने के बाद बालाकोट के आतंकी शिविर को करीब 6 महीने तक बंद रखा गया। 

बता दें कि इसी वर्ष 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने सीआपीएफ वाहन को उड़ा दिया था, जिसमें  40 जवान शहीद हो गए थे। हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान की धरती से संचालित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी की रात और 27 फरवरी की अल सुबह के दरमियान बालाकोट में एयर स्ट्राइक को अंजाम दिया था। 

भारतीय वायुसेना के ऑपरेशन की इस्लामाबाद को खबर तक नहीं लगी थी। सेना और सरकार ने दावा किया था कि एयर स्ट्राइक में बालाकोट स्थित जैश का सबसे बड़ा आतंकी शिविर तबाह हो गया। कार्रवाई में करीब साढ़े तीन सौ आतंकियों की मौत की बात बताई गई थी।  


Web Title: Report: Some suicide terrorists sent from Balakot to blow up Jammu and Kashmir military camps
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे