पंजाब में पूर्व मंत्री साधु सिंह धर्मसोत पर बड़ी कार्रवाई, भ्रष्टाचार के आरोप में विजिलेंस ब्यूरो ने किया गिरफ्तार

By विनीत कुमार | Published: June 7, 2022 08:50 AM2022-06-07T08:50:23+5:302022-06-07T08:58:32+5:30

पंजाब में पूर्व मंत्री साधु सिंह धर्मसोत को गिरफ्तार कर लिया गया है। भ्रष्टाचार के आरोप में उन्हें विजिलेंज ब्यूरो ने मंगलवार तड़के गिरफ्तार किया। वे अमरिंदर सिंह के कार्यकाल में मंत्री रहे थे।

Punjab ex minister Sadhu Singh Dharamsot arrested in corruption case | पंजाब में पूर्व मंत्री साधु सिंह धर्मसोत पर बड़ी कार्रवाई, भ्रष्टाचार के आरोप में विजिलेंस ब्यूरो ने किया गिरफ्तार

पूर्व मंत्री साधु सिंह धर्मसोत गिरफ्तार (फाइल फोटो)

Next
Highlightsअमरिंदर सिंह के कार्यकाल में रहे मंत्री साधु सिंह धर्मसोत को विजिलेंस ब्यूरो ने गिरफ्तार किया।धर्मसोत की गिरफ्तारी मंगलवार तड़के की गई, सूत्रों के अनुसार सोमवार रात मुख्यमंत्री की मंजूरी के बाद हुई गिरफ्तारी।

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा एक बड़ी कार्रवाई के तहत राज्य के विजिलेंस ब्यूरो ने भ्रष्टाचार के एक मामले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री साधु सिंह धर्मसोत को गिरफ्तार कर लिया है।

धर्मसोत की गिरफ्तारी मंगलवार तड़के की गई। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के मंत्रिमंडल में वन और समाज कल्याण विभाग के मंत्री के तौर पर कार्य किया था। उनके साथ एक स्थानीय पत्रकार कमलजीत सिंह को भी गिरफ्तार किया गया है, जो कथित तौर पर एक सहयोगी के रूप में काम कर रहा था।

भगवंत मान द्वारा कांग्रेस नेता के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दिए जाने के करीब एक महीने के बाद यह घटनाक्रम सामने आया है।

धर्मसोत की गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए सतर्कता ब्यूरो के एक अधिकारी ने कहा कि दोनों लोगों को भ्रष्टाचार के आरोप में पकड़ा गया है। अधिकारी के अनुसार ब्यूरो ने पिछले हफ्ते एक संभागीय वन अधिकारी गुरनामप्रीत सिंह और एक अन्य व्यक्ति हरमिंदर सिंह हम्मी को गिरफ्तार करने के बाद पूर्व मंत्री के खिलाफ कई सबूत एकत्र किए थे। इनके बारे में कहा जा रहा है कि उन्होंने धर्मसोत को भारी रिश्वत दी थी।

हम्मी कमलजीत के जरिए धर्मसोत को रिश्वत दे रहा था। गौरतलब है कि कैप्टन अमरिंदर के कार्यकाल के दौरान एक आईएएस अधिकारी कृपाशंकर सरोज ने एक छात्रवृत्ति घोटाले में धर्मसोत पर आरोप लगाए थे लेकिन उन्हें तब "क्लीन चिट" दे दी गई थी। हालांकि, सूत्रों के मुताबिक वन और समाज कल्याण विभाग में भ्रष्टाचार में उनकी संलिप्तता के पर्याप्त सबूत हैं।

मुख्यमंत्री मान द्वारा आईपीएस अधिकारी ईश्वर सिंह को विजिलेंस ब्यूरो से हटाने और एक अन्य अधिकारी एडीजीपी वरिंदर कुमार को मुख्य निदेशक के रूप में तैनात करने के एक सप्ताह बाद यह कार्रवाई हुई है।

अपने काम के लिए जाने जाने वाले वरिंदर ने अमरिंदर सिंह के कार्यकाल के दौरान राज्य के खुफिया प्रमुख के रूप में कार्य किया था और विधायकों और मंत्रियों के भ्रष्टाचार का एक डोजियर भी बनाया था। यह दावा किया गया कि इसके बावजूद कांग्रेस सरकार ने कार्रवाई नहीं की। सूत्रों के मुताबिक अब मान उसी जानकारी के आधार पर कार्रवाई कर रहे हैं। सूत्रों ने बताया कि धर्मसोत की गिरफ्तारी के लिए हरी झंडी सोमवार रात मुख्यमंत्री ने दी।

Web Title: Punjab ex minister Sadhu Singh Dharamsot arrested in corruption case

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे