DBT funded private company made 'Hybrid Multiply' mask | डीबीटी वित्तपोषित निजी कंपनी ने बनाया ‘हाइब्रिड मल्टीप्लाई’ मास्क
डीबीटी वित्तपोषित निजी कंपनी ने बनाया ‘हाइब्रिड मल्टीप्लाई’ मास्क

नयी दिल्ली, 10 जून परिसोधना टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड ने ‘हाइब्रिड मल्टीप्लाई’ मास्क विकसित किया है जो महीन कणों और बैक्टीरिया को रोकने में सक्षम होगा। यह जानकारी जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी) ने बृहस्पतिवार को दी।

डीबीटी ने बताया कि इस मास्क को सांस लेने में आसानी, कान पर बांधने में सहूलियत और उष्ण कंटिबंधीय मौसमी हालात को ध्यान में रखकर विकसित किया गया है। इसे पूरी तरह से हाथ से बुने सूती धागों वाली सामग्री से बनाया गया है।

जैव प्रौद्योगिकी विभाग ने बताया, ‘‘हाइब्रिड मल्टीप्लाई मास्क विकसित करने के लिए परिसोधना टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड की फास्टट्रैक कोविड-19 कोष के तहत आंशिक मदद बीआईआरएसी और आईकेपी नॉलेज पार्क ने दी। यह ‘‘ मेड इन इंडिया’ मास्क सूक्ष्म कणों (90 प्रतिशत तक) और बैक्टीरिया (करीब 99 प्रतिशत) से रक्षा करेगा।’’

डीबीटी ने बताया कि कणों और जीवाणुओं को अलग रखने के लिए एक विशेष परत लगाई गई है और इस मास्क को धोकर दोबारा इस्तेमाल किया जा सकेगा। एक मास्क की कीमत करीब 50 से 75 रुपये के बीच होगी और जनता के लिए कंपनी इसे किफायती कीमत पर बना रही है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: DBT funded private company made 'Hybrid Multiply' mask

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे