BBC डॉक्यूमेंट्री विवादः केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद ने कहा- भारत के जी20 अध्यक्षता संभालने के वक्त ही क्यों इसे लाया गया?

By अनिल शर्मा | Published: January 25, 2023 01:36 PM2023-01-25T13:36:46+5:302023-01-25T13:47:15+5:30

गुजरात दंगों पर बने बीबीसी के विवादास्पद डॉक्यूमेंट्री को मंगलवार वाम समर्थक स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) सहित विभिन्न राजनीतिक संगठनों ने पूरे केरल में दिखाया। उस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के पश्चिमी राज्य के मुख्यमंत्री थे।

BBC Documentary Controversy Kerala Governor Arif Mohammed Why was it brought up only when India assumed G20 presidency | BBC डॉक्यूमेंट्री विवादः केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद ने कहा- भारत के जी20 अध्यक्षता संभालने के वक्त ही क्यों इसे लाया गया?

BBC डॉक्यूमेंट्री विवादः केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद ने कहा- भारत के जी20 अध्यक्षता संभालने के वक्त ही क्यों इसे लाया गया?

Next
Highlightsमंगलवार केरल में कई जगहों पर BBC डॉक्यूमेंट्री को दिखाया गया था।कांग्रेस नेता एके एंटनी के बेटे अनिल एंटनी ने इस पर नाराजगी जाहिर की थी।बुधवार इस विवाद को लेकर अनिल एंटनी ने इस्तीफा दे दिया।

नई दिल्लीः 2002 के गुजरात दंगे पर अधारित बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री ‘इंडिया: द मोदी क्वेश्चन’ को लेकर विवाद बढ़ता ही जा रहा है। केंद्र द्वारा बीबीसी डॉक्यूमेंट्री के पहले एपिसोड को तमाम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ब्लॉक किए जाने को लेकर कांग्रेस ने जहां सरकार को घेरा वहीं केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने यह सवाल पूछा है कि इस डॉक्यूमेंट्री को उस वक्त क्यों लाया गया जब भारत ने जी20 की अध्यक्षता संभाली है।

गौरतलब है केरल के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एके एंटनी के बेटे अनिल एंटनी ने बुधवार को बीबीसी डॉक्यूमेंट्री के विरोध वाले ट्वीट के बाद कांग्रेस पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया। अनिल एंटनी ने दावा किया कि कांग्रेस ने उन्हें ट्वीट हटाने के लिए दबाव बनाया, लेकिन उन्होंने ऐसा करने से इनकार करते हुए पार्टी ही छोड़ दी। मंगलवार केरल में कई जगहों पर इस डॉक्यूमेंट्री को दिखाया गया जिसपर अनिल एंटनी ने नाराजगी जाहिर की थी।

बुधवार को केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने कहा, जब भारत ने G20 की अध्यक्षता संभाली, इस डॉक्यूमेंट्री को लाने के लिए उसी समय को क्यों चुना गया? उन्होंने आगे कहा कि ये डॉक्यूमेंट्री उस सोर्स से आ रहा है जिसने हमारी आजादी के समय कहा था कि भारत अपनी स्वतंत्रता को संरक्षित करने में अभी सक्षम नहीं है।

शशि थरूर ने क्या कहा?

उधर, कांग्रेस नेता शशि थरूर ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि एक (BBC) डॉक्यूमेंट्री हमारे राष्ट्र की संप्रभुता को कैसे प्रभावित कर सकता है? केंद्र द्वारा डॉक्यूमेंट्री को प्रतिबंध करना अनावश्यक कार्य है। हम इसे नजरअंदाज कर सकते हैं। थरूर ने कहा, हमारी संप्रभुता और राष्ट्रीय सुरक्षा ऐसी चीज नहीं है जिसे किसी डॉक्यूमेंट्री से आसानी से प्रभावित किया जा सकता है।

एसएफआई समेत विभिन्न राजनीतिक संगठनों ने डॉक्यूमेंट्री को पूरे केरल में दिखाया

 गुजरात दंगों पर बने बीबीसी के विवादास्पद डॉक्यूमेंट्री को मंगलवार वाम समर्थक स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) सहित विभिन्न राजनीतिक संगठनों ने पूरे केरल में दिखाया। मालूम हो कि उस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के पश्चिमी राज्य के मुख्यमंत्री थे। डॉक्यूमेंट्री को दिखाए जाने के विरोध में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की युवा शाखा ने प्रदर्शन किया। भाजपा को अप्रत्याशित रूप से कई हलकों से समर्थन मिला।

 कांग्रेस नेता ए .के एंटनी के बेटे अनिल ने भी इसपर नाराजगी व्यक्त की थी। पलक्कड़ में विक्टोरिया कॉलेज और एर्नाकुलम में गवर्नमेंट लॉ कॉलेज तक युवा मोर्चा द्वारा प्रदर्शन मार्च निकाला गया, जहां एसएफआई ने डॉक्यूमेंट्री के प्रदर्शन की घोषणा की थी। दोनों जगहों पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटाने और किसी भी प्रकार के संघर्ष को टालने के लिए हस्तक्षेप किया। इससे पहले हैदराबाद विश्वविद्यालय में भी बीबीसी डॉक्यूमेंट्री को दिखाया गया था। जिसपर एबीवीपी ने इसकी प्रशासन से शिकायत की थी।

Web Title: BBC Documentary Controversy Kerala Governor Arif Mohammed Why was it brought up only when India assumed G20 presidency

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे