Pak-origin peer raises Kathua rape-murder case in UK Parliament | पाकिस्तानी मूल के सांसद ने ब्रिटिश संसद में उठाया कठुआ गैंगरेप मामला

जम्मू और कश्मीर के कठुआ में हुए 8 साल की बच्ची के साथ  हुए गैंगरेप का मामला ब्रिटेन की संसद में भी पहुंच गया है।  पाकिस्तानी मूल के एक ब्रिटिश सांसद ने ब्रिटेन के ऊपरी सदन में कठुआ गैंगरेप का मामला उठाया और ब्रिटिश सरकार से इस मामले में दखल देने की बात कही है। 

पूर्व नौकरशाहों ने पीएम नरेंद्र मोदी को लिखा खत, कहा- रेप पीड़ितों के परिवारों से माँगें माफी

लेकिन कहा जा रहा है कि ब्रिटेश सरकार ने इस अनुरोध को ठुकरा दिया है।खबर के मुताबिक सांसद पीर का जवाब देते हुए ब्रिटिश संसद ने कहा, भारत एक मजबूत लोकतांत्रिक देश है, जहां मानवाधिकारों की सुरक्षा पर खास ध्यान दिया जाता है। लेकिन यह भी सत्य है कि संविधान के अनुरुप कुछ अधिकारों को लागू करने में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है।' 

जिस पर संसद में कहा गया है कि हमें हस्तक्षेप देने की जरुरत नहीं है, पीड़िता परिवार के प्रति हमे हमदर्दी है और पीएम नरेंद्र मोदी न्याय का महत्व जानते हैं। वहीं, कठुआ में  8 साल की बच्ची की अपहरण के बाद कई दिनों तक गैंगरेप करने के बाद हत्या कर दी गई। जिसके बाद से हर कोइई न्याय की मांग कर रहा है। हर किसी के मन में बेटियों की बचाने की बात कहने वाली सरकार को लेकर कई तरह के सवाल हैं।

सूरत रेप: पुलिस का दावा- 11 साल की बच्ची को एक हफ्ते तक बंधक बनाकर किया गया था रेप, फिर की हत्या

 कठुआ में हुए गैंगरेप ने देश में महिलाओं की सुरक्षा पर सवाल खड़े कर दिए हैं। मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है और मामले की लगातार सीबीआई से जांच की मांग उठाई जा रही है। सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई की जांच से इनकार कर दिया है और राज्य सरकार को नोटिस जारी किया है।