kamlesh tiwari mother says after Cm yogi meeting we are not happy want justice | कमलेश तिवारी की मां ने कहा, 'सीएम योगी मजबूरी में करनी पड़ी मुलाकात, इंसाफ न मिला तो तलवार उठाऊंगी'
कमलेश तिवारी की मां ने कहा, 'सीएम योगी मजबूरी में करनी पड़ी मुलाकात, इंसाफ न मिला तो तलवार उठाऊंगी'

Highlightsकमलेश तिवारी की मां कुसुमा ने भाजपा के एक स्थानीय नेता शिव कुमार गुप्ता पर जमीन के विवाद को लेकर अपने बेटे की हत्या का इल्जाम लगाया है।एटीएस के अधिकारी ने बताया कि उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा उपलब्ध कराए गए सुरागों के आधार पर कई लोगों की गिरफ्तारी की गई है।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हिंदू महासभा के नेता कमलेश तिवारी की 18 अक्टूबर को कुछ बदमाशों ने गला रेतकर न‍िर्मम तरीके से हत्या कर दी थी। दिवंगत नेता कमलेश तिवारी के परिवार वाले मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ से मुलाकात की। सीएम योगी से मिलने के बाद कमलेश तिवारी की मां कुसुमा ने कहा कि उन्हें मिलने जाने का मन नहीं था। वह मजबूर थीं। उनका कहना है कि हिन्दू धर्म के मुताबिक किसी के निधन के बाद 13 दिम कहीं बाहर नहीं निकलना होता है। लेकिन क्योंकि सीएम योगी का आदेश था कि इसलिए पुलिसवाले हमारे परिवार के पीछे पड़े थे। दिवंगत नेता कमलेश तिवारी की मां का कहना था कि वह मजबूरी में मिली हैं। हमारी इच्छा के मुताबिक ना तो उनका हाव था और ना ही भाव। 

दिवंगत नेता कमलेश तिवारी की मां ने कहा कि अगर सीएम योगी के साथ हुए मुलाकात से हम खुश होते तो इतना गुस्सा नहीं होते। अगर हमें सरकार से इंसाफ नहीं मिला तो हम खुद ही तलवार उठा लेंगे। 

कमलेश तिवारी की मां ने आरोप लगाया है कि हत्या बीजेपी नेता शिव कुमार गुप्ता ने जमीन विवाद को लेकर किया है। लेकिन प्रशासन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। वहीं शनिवार को कमलेश तिवारी की पत्नी ने सीएम योगी से मिलने के बाद कहा है कि मुख्यमंत्री ने हरसंभव जांच के आदेश दिए हैं।  कमलेश तिवारी की मां ने कहा कि ने कहा है कि सीएम योगी से मुलाकात के दौरान ना तो उन्होंने  मुआवजे की बात की है और ना ही नौकरी की बात की है। 

यूपी उप मुख्यमंत्री ने कहा : कमलेश तिवारी हत्याकांड का सच लगभग सामने आ चुका है

हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी के हत्याकांड को लेकर उत्तरप्रदेश पुलिस के खुलासे को सही ठहराते हुए उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने रविवार को कहा कि इस सनसनीखेज वारदात का सच "लगभग" सामने आ चुका है। उन्होंने यहां भाजपा कार्यालय में संवाददाताओं से कहा, "कमलेश तिवारी हत्याकांड का खुलासा हो चुका है। इस घटना का सच देश-प्रदेश के सामने लगभग आ चुका है।" 

कमलेश तिवारी हत्याकांड में हिरासत में लिए गए कई संदिग्ध 

महाराष्ट्र पुलिस के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) ने नेता कमलेश तिवारी की हत्या के सिलसिले में शनिवार को यहां मोमिनपुर इलाके से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था। वहीं गुजरात के सूरत जिले के निवासी तीन लोगों समेत कुल पांच लोगों को पूछताछ के लिये हिरासत में लिया गया है। पुलिस सूत्रों ने शनिवार को यहां बताया कि शुक्रवार को हुई इस हत्या के सिलसिले में बिजनौर निवासी आरोपियों मुफ्ती नईम काजमी और मौलाना अनवारुल हक के साथ—साथ गुजरात में सूरत निवासियों फैजान यूनुस, मोहसिन शेख और राशिद अहमद को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

कमलेश तिवारी की हत्या वाले दिन क्या हुआ था? 


लखनऊ में हिंदू महासभा के नेता कमलेश तिवारी को शुक्रवार (18 अक्टूबर) को कुछ बदमाशों ने गला रेतकर और गोली मारकर न‍िर्मम तरीके से हत्या कर दी थी। कमलेश तिवारी की इलाज के दौरान अस्पताल के ट्रामा सेंटर में मौत हो गई। रिपोर्ट के मुताबिक खुर्शीद बाग स्थित हिंदू समाज पार्टी कार्यालय में चाय पीने आए बदमाश मिठाई के डिब्बे में चाकू और तमंचा लाए थे।

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक खुर्शीद बाग स्थित ऑफिस में दो लोग मिलने आए थे। इन दोनों के हाथ में मिठाई के डिब्बा था। जिसमें हथियार थे। दोनों ने कमलेश तिवारी से मुलाकात की। बातचीत के दौरान दोनों बदमाशों ने कमलेश के साथ चाय भी पी। इसके बाद उनका गला रेता गया और फिर गोली मारकर बदमाश फरार हो गए।


Web Title: kamlesh tiwari mother says after Cm yogi meeting we are not happy want justice
क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे