Bihar Crime: बिहार पुलिस ने 'लालू यादव' और 'मुलायम सिंह' को किया अरेस्ट, 'नीतीश कुमार' को सरगर्मी से तलाश, जानिए क्या है पूरा मामला

By एस पी सिन्हा | Published: January 25, 2022 06:29 PM2022-01-25T18:29:33+5:302022-01-25T18:30:20+5:30

Bihar Crime: बिहार पुलिस ने सभी के खिलाफ मोबाइल ,लैपटॉप चोरी का मामला दर्ज किया है. पुलिस कई मामले में तलाश कर रही थी।

Bihar Crime Police arrested 'Lalu Yadav' and 'Mulayam Singh' searching 'Nitish Kumar' patna gaya gang case | Bihar Crime: बिहार पुलिस ने 'लालू यादव' और 'मुलायम सिंह' को किया अरेस्ट, 'नीतीश कुमार' को सरगर्मी से तलाश, जानिए क्या है पूरा मामला

ओपी थाना क्षेत्र के हेमनपुर से लैपटॉप, सिम कार्ड व मोबाइल बरामद किया था.

Next
Highlightsमोबाइल के साथ कमालपुर के लालू यादव को दबोचा था.लालू ने गिरोह में शामिल मुलायम व नीतीश का नाम बताया था.चोरों ने कई चोरी की घटना को अंजाम देने की बात पुलिस को बताई है.

पटनाः लालू यादव, मुलायम सिंह यादव और नीतीश कुमार का नाम तो देश के राजनेताओं में चर्चित हैं. लेकिन बिहार पुलिस को ऐसे ही तीन नामों के व्यक्तियों की लंबे समय से तलाश थी. इसके बाद गया जिले की पुलिस ने 'लालू यादव' और 'मुलायम' को गिरफ्तार कर लिया है.

जबकि 'नीतीश कुमार' अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. जिसकी तलाश में पुलिस लगी हुई है. दरअसल, ये तीनों अपराध करने वाले एक गैंग का हिस्सा हैं. इस गैंग का सरगना लालू यादव है और मुलायम सिंह यादव के साथ नीतीश कुमार भी इस गैंग में शामिल है. प्रप्त जानकारी के अनुसार गिरफ्तारी के बाद पुलिस मुलायम यादव से पूछताछ करने में जुटी है.

इस दौरान उसने चोरी की कई घटनाओं में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है. इसके पूर्व 27 दिसंबर को हुई चोरी की घटना में शामिल लालू यादव को सात जनवरी को गिरफ्तार किया गया था. वहीं, घटना में शामिल नीतीश कुमार अब भी पुलिस गिरफ्त से फरार है. यह गैंग बिहार के गया जिले में चोरी और लूट-पाट की घटनाओं को अंजाम देने में माहिर है.

चोरी की घटना में शामिल मुलायम सिंह यादव को ओपी की पुलिस ने गया जिले के टिकारी प्रखंड के मऊ से गिरफ्तार करने में सफलता पाई है. दरअसल सोमवार की रात मऊ ओपी की पुलिस द्वारा चलाए गए विशेष छापेमारी कर मुलायम सिंह यादव को पुलिस ने मऊ ओपी क्षेत्र के कमालपुर स्थित को उसके ही घर से गिरफ्तार कर लिया.

वहीं पुलिस की पूछताछ में मुलायम सिंह यादव ने सभी घटनाओं में शामिल होने की बात को कबूला है. मुलायम ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि घटना को अंजाम देने के बाद चोरी के सामान को एक इकट्ठा कर बिक्री कर दिया जाता था. उसने लालू और नीतीश के साथ एक और चोर नाम बताया है. चौथा आरोपी कमालपुर का ही रहने वाला है.

इन सभी के खिलाफ मोबाइल, लैपटॉप चोरी का मामला है. बीते 7 जनवरी को सुपता के ग्रामीणों ने चोरी की घटना में मोबाइल के साथ कमालपुर के लालू यादव को दबोचा था. पुलिस के पूछताछ में लालू ने गिरोह में शामिल मुलायम और नीतीश का नाम बताया था. चोरों ने कई चोरी की घटना को अंजाम देने की बात पुलिस को बताई है.

Web Title: Bihar Crime Police arrested 'Lalu Yadav' and 'Mulayam Singh' searching 'Nitish Kumar' patna gaya gang case

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे