आईसीसी टी20 विश्व कप 2022ः जिंबाब्वे पर जीत और सेमीफाइनल बर्थ पक्का!, बड़ी पारी खेलेंगे रोहित, जानें क्या है मैच समय, कैसा होगा प्लेइंग इलेवन

T20 World Cup 2022: टूर्नामेंट में अब तक जिम्बाब्वे ने पाकिस्तान के खिलाफ सिर्फ एक मैच जीता है। वर्तमान में तीन अंकों के साथ अंक तालिका में पांचवें स्थान पर हैं।

By सतीश कुमार सिंह | Published: November 5, 2022 12:55 PM2022-11-05T12:55:33+5:302022-11-05T13:03:22+5:30

T20 World Cup 2022 rohit sharma semifinal berth India vs Zimbabwe Pitch Report of Melbourne Cricket Ground match will start at 1-30 hrs IST | आईसीसी टी20 विश्व कप 2022ः जिंबाब्वे पर जीत और सेमीफाइनल बर्थ पक्का!, बड़ी पारी खेलेंगे रोहित, जानें क्या है मैच समय, कैसा होगा प्लेइंग इलेवन

कप्तान रोहित शर्मा भी बड़ी पारी खेलने की कोशिश करेंगे।

Next
Highlightsमैच भारतीय समयानुसार एक बजकर 30 मिनट पर शुरू होगा। जिंबाब्वे के खिलाफ रविवार को यहां हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी।कप्तान रोहित शर्मा भी बड़ी पारी खेलने की कोशिश करेंगे।

T20 World Cup 2022: भारत और जिम्बाब्वे सुपर 12 के आखिरी मैच में आमने-सामने होंगे। मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में आईसीसी पुरुष टी20 विश्व कप का 42 वां मैच है। भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ इसी मैदान पर अपने अभियान की शुरुआत की और रोमांचक जीत हासिल की थी।

मेन इन ब्लू अपनी सेमीफाइनल बर्थ पक्की करने के बहुत करीब है और जिम्बाब्वे के खिलाफ जीत सेमीफाइनल में पहुंचा देगी। जहां तक ​​जिम्बाब्वे की बात है, तो उनके क्वालीफाई करने की संभावना कम है और भारत के साथ-साथ दक्षिण अफ्रीका अपने ग्रुप से सेमीफाइनल के लिए दावेदारी करने वाली अगली टीम है।

टूर्नामेंट में अब तक जिम्बाब्वे ने पाकिस्तान के खिलाफ सिर्फ एक मैच जीता है। वर्तमान में तीन अंकों के साथ अंक तालिका में पांचवें स्थान पर हैं। भारत ने अपने पिछले गेम में बांग्लादेश का सामना किया, जो बारिश से बाधित मैच साबित हुआ था। मैच भारतीय समयानुसार एक बजकर 30 मिनट पर शुरू होगा। 

कप्तान रोहित और टीम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए तैयार

भारत को टी20 विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए जिंबाब्वे के खिलाफ रविवार को यहां हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी और इस मैच में कप्तान रोहित शर्मा भी बड़ी पारी खेलने की कोशिश करेंगे। शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों में विराट कोहली बेहतरीन फॉर्म में है जबकि केएल राहुल और सूर्यकुमार यादव जैसे खिलाड़ियों ने भी कुछ प्रभावशाली पारियां खेली हैं लेकिन भारतीय कप्तान अभी तक लंबी पारी नहीं खेल पाए हैं। उन्होंने टूर्नामेंट में अब तक चार मैचों में केवल 74 रन बनाए हैं। वह अब ऐसे मैदान पर उतरेंगे जिसमें उन्होंने कुछ यादगार पारियां खेली हैं।

रोहित ने कुछ अच्छे शॉट खेले हैं लेकिन नीदरलैंड के खिलाफ मैच को छोड़ दिया जाए तो बाकी मैचों में वह प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे हैं। मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) दो सप्ताह पहले भारत और पाकिस्तान के मैच तथा विराट कोहली की लाजवाब पारी का गवाह बना था लेकिन जिंबाब्वे के खिलाफ मैच भी कम महत्वपूर्ण नहीं है क्योंकि इससे भारत का अंतिम चार में पहुंचने का रास्ता साफ हो जाएगा।

भारतीय टीम को हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी

इस संदर्भ में देखा जाए तो जिंबाब्वे के खिलाफ भारतीय टीम को हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी। वह रेजिस चकाबवा की अगुवाई वाली जिंबाब्वे की टीम के खिलाफ जीत के प्रबल दावेदार के रूप में शुरुआत करेगी। जिंबाब्वे ने टूर्नामेंट में अच्छी शुरुआत की थी लेकिन वह आगे अपनी लय को बरकरार नहीं रख पाया था।

जिंबाब्वे के बल्लेबाज अभी तक अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं और भारतीय आक्रमण के सामने उनके लिए रन बनाना आसान नहीं होगा क्योंकि भुवनेश्वर कुमार, अर्शदीप सिंह और मोहम्मद शमी बेहतरीन गेंदबाजी कर रहे हैं। भारतीय आक्रमण में आर अश्विन ही ऐसे गेंदबाज हैं जो अभी तक खास प्रभाव नहीं छोड़ पाए हैं।

इस मैच में जीत से भारत ग्रुप दो में शीर्ष पर पहुंच जाएगा लेकिन उसके हारने की स्थिति में पाकिस्तान के लिए सेमीफाइनल में पहुंचने का रास्ता खुल जाएगा। पाकिस्तान यदि अपने अंतिम मैच में बांग्लादेश को हरा देता है तो बेहतर रन रेट के आधार पर वह आगे बढ़ जाएगा।

श्रीलंका जीतता है तो फिर भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया से भिड़ने के लिए सिडनी जाना होगा

ग्रुप की एक अन्य टीम दक्षिण अफ्रीका अभी पांच अंकों के साथ दूसरे स्थान पर है और नीदरलैंड पर जीत से वह भी आगे बढ़ जाएगा लेकिन अगर उसे हार मिलती है और पाकिस्तान जीतता है तो फिर पाकिस्तानी टीम और भारत अंतिम चार में जगह बना लेंगे।

भारत अगर ग्रुप में चोटी पर रहता है तो सेमीफाइनल में उसका सामना इंग्लैंड या ऑस्ट्रेलिया से हो सकता है। इंग्लैंड अगर श्रीलंका को हरा देता है तो भारत को जोस बटलर की अगुवाई वाली टीम का सामना करने के लिए एडिलेड का दौरा करना होगा लेकिन अगर श्रीलंका जीतता है तो फिर भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया से भिड़ने के लिए सिडनी जाना होगा।

भारतीय टीम ने अभी तक अपनी बल्लेबाजी क्रम में बदलाव नहीं किया है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अक्षर पटेल को बाहर किया गया था क्योंकि उनकी टीम में बाएं हाथ के अधिक बल्लेबाज हैं। जिम्बाब्वे की बल्लेबाजी क्रम में क्रेग एर्विन, सीन एर्विन, रयान बर्ल और सीन विलियम्स जैसे खिलाड़ी हैं और ऐसे में संभावना है कि भारतीय टीम प्रबंधन दीपक हुड्डा को एक और मौका दे सकता है।

पाकिस्तान में जन्मे सिकंदर रजा बेहतरीन फॉर्म में

भारत के सामने हालांकि सबसे बड़ी चुनौती पाकिस्तान में जन्मे सिकंदर रजा पेश कर सकते हैं जो अभी बेहतरीन फॉर्म में चल रहे हैं। एक अन्य विकल्प हर्षल पटेल को आजमाना भी है। युज़वेंद्र चहल को अभी तक इसलिए नहीं आजमाया गया क्योंकि टीम प्रबंधन पुछल्ले बल्लेबाजों की लंबी कतार नहीं चाहता।

लेकिन अगर भारत सेमीफाइनल में इंग्लैंड का सामना करता है तो चहल को जगह मिल सकती है क्योंकि अंग्रेज बल्लेबाजों के खिलाफ उनका रिकॉर्ड अच्छा है। भारत और जिंबाब्वे इससे पहले टी20 विश्व कप में कभी एक दूसरे से नहीं भिड़े हैं लेकिन इस अफ्रीकी देश के हाल के दौरे के बाद कोचिंग स्टाफ के पास रणनीति तैयार करने के लिए पर्याप्त मसाला है। भले ही वह एकदिवसीय मैचों का दौरा था और भारत के चोटी के टी20 खिलाड़ी उसमें नहीं खेले थे लेकिन जिंबाब्वे की टीम लगभग वही है जो उस श्रृंखला में खेली थी। जिंबाब्वे ने इससे पहले पाकिस्तान को हराया था और इसलिए उसको कमजोर आंकना भूल होगी।

टीम इस प्रकार हैं:

भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल (उप-कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), अक्षर पटेल, आर अश्विन, मोहम्मद शमी, अर्शदीप सिंह, भुवनेश्वर कुमार, ऋषभ पंत, दीपक हुड्डा, हर्षल पटेल, युजवेंद्र चहल।

जिम्बाब्वे: रेजिस चकाबवा (कप्तान), सीन विलियम्स, सीन एर्विन, क्रेग एर्विन, सिकंदर रजा, तेंदई चतरा, ल्यूक जोंगवे, ब्रैड इवांस, वेस्ले मधेवेरे, वेलिंगटन मसाकदाज़का, टोनी मुनयोंगा, रिचर्ड नगारवा, रयान बर्ल, ब्लेसिंग मुजरबानी, मुलटन शुम्बा।

Open in app