कपिल देव ने बांग्लादेश मुकाबले से पहले भारत की खराब फील्डिंग की आलोचना की, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए मैच पर कहा ये

कपिल देव की मानें तो अगर भारतीय टीम ने सही से फील्डिंग और बल्लेबाजी की होती तो टीम टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में होती।

By मनाली रस्तोगी | Published: November 1, 2022 06:52 PM2022-11-01T18:52:22+5:302022-11-01T18:54:01+5:30

Kapil Dev slams India's poor fielding ahead of Bangladesh tie | कपिल देव ने बांग्लादेश मुकाबले से पहले भारत की खराब फील्डिंग की आलोचना की, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए मैच पर कहा ये

कपिल देव ने बांग्लादेश मुकाबले से पहले भारत की खराब फील्डिंग की आलोचना की, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए मैच पर कहा ये

Next
Highlightsभारत के पूर्व कप्तान कपिल देव का मानना ​​है कि खराब फील्डिंग के साथ औसत बल्लेबाजी भी भारत को महंगी पड़ी।देव ने कहा कि मैं यह नहीं कहूंगा कि उनके पास स्टंप के पूरे 100 प्रतिशत दृश्यता थी, लेकिन आपके पास छह गज के अंदर 75 प्रतिशत दृश्यता थी।उन्होंने कहा कि जब आप हारते हैं, तो आप चीजों को स्पष्ट रूप से देखते हैं।

नई दिल्ली: टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की करने का भारतीय क्रिकेट टीम के पास एक बेहतर मौका था। मगर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए मैच में औसत बल्लेबाजी और कुछ चौंकाने वाली फील्डिंग ने शीर्ष चार में पहुंचने के लिए उनका इंतजार बढ़ा दिया। बता दें कि भारत ने दक्षिण अफ्रीका के सामने 133 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे हासिल कर दक्षिण अफ्रीका की टीम ने नाम कर ही लिया।

भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव का मानना ​​है कि खराब फील्डिंग के साथ औसत बल्लेबाजी भी भारत को महंगी पड़ी। देव के अनुसार, अगर भारतीय टीम ने सही से फील्डिंग और बल्लेबाजी की होती तो टीम टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में होती। कपिल देव ने एबीपी से कहा, "मैं यह नहीं कहूंगा कि मैच में एक टर्निंग प्वाइंट था। लेकिन जब आपके पास एक अच्छा स्कोर बनाने का अच्छा मौका था, तो भारत जल्दी में दिख रहा था।"

उन्होंने कहा, "जल्दीबाजी की जरूरत नहीं थी। दो शुरुआती विकेट गंवाने के बाद उन्हें संतुलन की जरूरत थी जिसे हासिल करने में वे असफल रहे। बाद में, जब उन्होंने क्षेत्ररक्षण किया तो भारत को शुरुआत भी मिली, लेकिन अगर आप साधारण रन-आउट के मौके चूक जाते हैं और आसान कैच छोड़ देते हैं तो जीतने की गुंजाइश बहुत कम हो जाती है। ऐसी गलतियों को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।"

कपिल देव ने आगे कहा, "आप अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेल रहे हैं। मैं समझता हूं कि हर कोई मैच ड्राप करता है लेकिन जब आप इतना महत्वपूर्ण मैच खेल रहे होते हैं और एक कैच जितना आसान होता है जो कोहली की ओर आता है, तो कहीं न कहीं टीम का मनोबल हिट और शोल्डर गिर जाता है। मैं यह नहीं कहूंगा कि उनके पास स्टंप के पूरे 100 प्रतिशत दृश्यता थी, लेकिन आपके पास छह गज के अंदर 75 प्रतिशत दृश्यता थी। वे दो बहुत महत्वपूर्ण क्षण थे जो मैच को बदल सकते थे।"

कपिल देव ने कहा, "जब आप हारते हैं, तो आप चीजों को स्पष्ट रूप से देखते हैं। बल्लेबाजी अपने वादे पर खरी नहीं उतरी और हकीकत आपके सामने है। ज़रूर, हम अभी भी सेमीफाइनल में पहुंचेंगे, इसमें ज्यादा समस्या नहीं होगी। लेकिन अगर आप ऐसी गलतियां करते रहेंगे तो आप विश्व कप जीतने के दावेदार नहीं होंगे। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत ने कई गलतियां कीं।" 

अपनी बात को जारी रखते हुए भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव ने कहा, "लक्ष्य का पीछा करते हुए बल्लेबाजी करना भारत की ताकत है लेकिन उन्होंने बल्लेबाजी करने का फैसला किया। यदि आप रन आउट के मौके और कैच लेने से चूक जाते हैं, तो आप टी20 में नहीं जीत सकते हैं और इससे भी अधिक जब लक्ष्य कम होता है। रवैया और जुनून दिखना चाहिए।"

Open in app