If you don't get out, we will have to ask for wheelchairs, Pujara recalls sledge from Australia | चेतेश्वर पुजारा का खुलासा, एक ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने कहा था, 'अगर तुम आउट नहीं हुए, तो व्हीलचेयर मंगानी पड़ेगी'
पुजारा ने किया ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों द्वारा की गई मजेदार स्लेजिंग का खुलासा

भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा को सबसे बेहतरीन आधुनिक टेस्ट क्रिकेटर माना जाता है। हाल के वर्षों में वह भारतीय टीम के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज बनकर उभरे हैं। 

हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ समाप्त हुई सीरीज में वह सर्वाधिक रन बनाकर मैन ऑफ सीरीज रहे। उनके इस कमाल के प्रदर्शन की बदौलत भारत ने 71 सालों में पहली बार ऑस्ट्रेलिया की धरती पर टेस्ट सीरीज जीत ली। 

पुजारा ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्यू में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों द्वारा उनके खिलाफ की गई स्लेजिंग के किस्से साझा किए हैं। इस इंटरव्यू में पुजारा ने खुलासा किया है कि कैसे चार टेस्ट मैचों की सीरीज के दौरान ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन, नाथन ल्योन और अन्य खिलाड़ियों ने कई बार मजेदार अंदाज में स्लेजिंग की थी।

नाथन ल्योन ने पूछा था, 'क्या तुम बैटिंग से बोर नहीं हुए?'

पुजारा ने कहा, ऐसे कई उदाहरण हैं, लेकिन मुझे पहला टेस्ट याद है। नाथन ल्योन और टिम पेन ने मेरे खिलाफ स्लेजिंग की कोशिश की। जब हमारा स्कोर 40/4 था, तो उन्हें लगा कि मैच लगभग खत्म है। उन्हें लगा कि हम 150-160 तक आउट हो जाएंगे। इसके बाद भी, शायद तीसरे या चौथे टेस्ट में उन्होंने मेरे खिलाफ स्लेजिंग की कोशिश कर रहे थे लेकिन अंत में हंसने लगे। ल्योन मेरे पास आए और कहा, 'क्या तुम अब बैटिंग से बोर नहीं हो गए हो? तुमने ढेर सारे रन बना लिए हैं।' 

ये पूछे जाने पर कि उनके खिलाफ ऑस्ट्रेलिया ने सबसे अच्छी स्लेजिंग कब की थी, पुजारा ने 2017 में कंगारुओं के भारत दौरे की एक घटना का जिक्र किया। पुजारा ने कहा कि उस भारतीय दौरे पर एक ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी के कमेंट ने उन्हें हैरान कर दिया था।

एक खिलाड़ी ने कहा था, पुजारा के लिए व्हीलचेयर मंगानी पड़ेगी?

पुजारा ने कहा, 'जब हम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2017 में रांची में तीसरा टेस्ट खेल रहे थे, तो एक खिलाड़ी मेरे पास आया और कहा, 'अगर तुम अब भी आउट नहीं हुए तो हमें तुम्हारे लिए व्हीलचेयर मंगानी पड़ेगी। उस समय मैं 170 प्लस के स्कोर पर बैटिंग कर रहा था। किसी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी द्वारा की गई ये सबसे अच्छी छींटाकशी थी, जो मुझे याद है।'

ऑस्ट्रेलिया के 2018 के दौरे पर विराट कोहली को मेहमान टीम के लिए सबसे बड़ा खतरा माना जा रहा था। लेकिन चेतेश्वर पुजारा ने महज 7 पारियों में सर्वाधिक 521 रन बनाए और मैन ऑफ सीरीज रहे।


Web Title: If you don't get out, we will have to ask for wheelchairs, Pujara recalls sledge from Australia
क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे