bcci monitoring 23 indian players on ipl workload | IPL में खेल रहे इन 23 भारतीय खिलाड़ियों पर है बीसीसीआई की नजर, ये है बड़ा कारण
BCCI

नई दिल्ली, 17 अप्रैल: बीसीसीआई ने राष्ट्रीय टीम के 23 संभावित खिलाड़़ियों पर करीबी नजर रखी है और मौजूदा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दौरान उन पर पड़े रहे बोझ पर नजर रखी जा रही है। ये 23 खिलाड़ी वे हैं जिन्हें बीसीसीआई की केंद्रीय अनुबंध सूची में जगह नहीं मिली है, जिसमें विराट कोहली, रोहित शर्मा और महेंद्र सिंह धोनी जैसे एलीट अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी शामिल हैं।

पृथ्वी शॉ और शिवम मावी जैसी अंडर-19 टीम के अलावा पिछले घरेलू सत्र में सर्वाधिक रन बनाने वाले मयंक अग्रवाल सहित इस सूची में वे सभी खिलाड़ी शामिल हैं जिनके बारे में चयन समिति को लगता है कि निकट भविष्य में उन्हें राष्ट्रीय या 'ए' टीम में जगह दी जा सकती है। (और पढ़ें- IPL 2018: पंजाब की जीत के बाद प्रीति जिंटा उलझी फैंस से, वायरल हुआ वीडियो)

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर कहा, 'मुख्य योजना खिलाड़ियों को तीन समूहों में बांटने की है। पहले समूह में मौजूदा अंडर 19 खिलाड़ी शामिल हैं। दूसरा समूह पुराने अंडर 19 खिलाड़ियों का है जहां हमारे पास ऐसे खिलाड़ी हैं जो भारत के लिए पिछले तीन से चार साल से अंडर 19 खेल रहे हैं और तीसरा समूह मौजूदा ए खिलाड़ियों का है।' 

बीसीसीआई इन खिलाड़ियों पर करीबी नजर रखना चाहता है क्योंकि व्यस्त कार्यक्रम के बीच आईपीएल में काफी यात्रा करनी पड़ती है और मैचों के बीच समय काफी समय होता है जिससे काम का बोझ अहम हो जाता है। बीसीसीआई अधिकारी ने कहा, 'मैं आपको एक उदाहरण देता हूं। शिवम मावी या नवदीप सैनी जैसे युवा तेज गेंदबाज को उनके फ्रेंचाइजी कोच ट्रेनिंग सत्र के दौरान क्रिस लिन या एबी डिविलियर्स को 60 से 100 गेंद फेंकने के लिए कह सकते हैं क्योंकि उनका अंतिम एकदाश में खेलना तय नहीं है।' 

उन्होंने कहा, 'बीसीसीआई यहां हस्तक्षेप करता है। ये युवा हमारी संपत्ति हैं। भुवनेश्वर कुमार को अपने शरीर और काम के बोझ का पता है लेकिन जब मामला मावी, नवदीप या आवेश (खान) का आता है तो यह हमारी जिम्मेदारी है कि भारतीय क्रिकेट के हित में उन्हें बचाएं।' (और पढ़ें- हनीमून छोड़ आईपीएल खेलने पहुंचा यह खिलाड़ी दो मैचों में हुआ फेल, हो रही जमकर खिंचाई)

इस तेज गेंदबाजों के ट्रेनिंग कार्यक्रम को एनसीए के ट्रेनर और फिजियो ने तैयार किया है। सभी आठ फ्रेंचाइजी के ट्रेनर और फिजियो को भी इन सभी खिलाड़ियों के काम के बोझ के प्रबंधन को लेकर एनसीए को लगातार जानकारी देनी होती है। पता चला है कि बंगाल के अभिमन्यु ईश्वरन इस सूची में शामिल नहीं हैं क्योंकि वह आईपीएल नहीं खेल रहे लेकिन निश्चित तौर पर वह भारत ए के इंग्लैंड दौरे के लिए टीम में जगह बनाने की दौड़ में शामिल हैं। ये है पूरी लिस्ट जिन पर बीसीसीआई केंद्रीय अनुबंध से बाहर इन खिलाड़ियों पर विशेष तौर पर नजर रख रहा है....

मौजूदा अंडर 19: पृथ्वी शा, शुभमन गिल, शिवम मावी और कमलेश नागरकोटि।

पूर्व अंडर 19: इशान किशन, ऋषभ पंत, आवेश खान, खलील अहमद और संजू सैमसन।

घरेलू, भारत ए: श्रेयष अय्यर, वाशिंगटन सुंदर, विजय शंकर, जयदेव उनादकट, बासिल थंपी, दीपक हुड्डा, मयंक अग्रवाल, रविकुमार समर्थ, नवदीप सैनी, सिद्धार्थ कौल, हनुमा विहारी और अंकित बावने। (और पढ़ें- IPL, MI Vs RCB: कोहली बड़े रिकॉर्ड के करीब, दुनिया का कोई क्रिकेटर नहीं कर सका है ऐसा)


Web Title: bcci monitoring 23 indian players on ipl workload
क्रिकेट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे