Sensex tumbles 161 points, stock markets continue to fall, telecom and financial sector are in dire straits | सेंसेक्स 161 अंक टूटा, शेयर बाजारों में गिरावट बरकरार, दूरसंचार और वित्तीय क्षेत्र बदहाल
प्रमुख बहुराष्ट्रीय कंपनी ने इसके कारण बिक्री पर असर पड़ने की चेतावनी दी है।

Highlightsइंडसइंड बैंक, मारुति सुजुकी, हीरो मोटो कार्प और टाटा स्टील का स्थान रहा।सेंसेक्स के शेयरों में भारती एयरटेल को सर्वाधिक 3 प्रतिशत का नुकसान हुआ।

शेयर बाजारों में गिरावट का सिलसिला लगातार चौथे कारोबारी सत्र में जारी रहा और बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स मंगलवार को 161.31 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ।

समयोजित सकल आय (एजीआर) बकाया मुद्दे का असर दूरसंचार और वित्तीय क्षेत्र की कंपनियों के शेयरों पर पड़ा है। तीस शेयरों वाले सेंसेक्स में गिरावट का दौर रहा और एक समय यह 444 अंक तक नीचे चला गया था। पर बाद में इसमें कुछ सुधार हुआ और अंत में 161.31 अंक यानी 0.39 प्रतिशत की गिरावट के साथ 40,894.38 अंक पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी में कारोबार के दौरान बड़ी गिरावट दर्ज की गयी लेकिन अंतिम समय के कारोबार में इसमें कुछ सुधार हुआ तथा अंत में यह 53.30 अंक यानी 0.44 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,992.50 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में भारती एयरटेल को सर्वाधिक 3 प्रतिशत का नुकसान हुआ।

उसके बाद क्रमश: इंडसइंड बैंक, मारुति सुजुकी, हीरो मोटो कार्प और टाटा स्टील का स्थान रहा। उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को वोडाफोन आइडिया से बकाये की वसूली के लिये दूरसंचार विभाग को किसी प्रकार की दंडात्मक कार्रवाई करने से रोकने के अनुरोध वाली याचिका खारिज कर दी।

वोडाफोन आइडिया का शेयर कारोबार के दौरान 16 प्रतिशत टूटा। अंत मं बीएसई में यह 10.29 प्रतिशत की गिरावट के साथ 3.05 रुपये पर बंद हुआ। एजीआर बकाया मुद्दे और कंपनी के अन्य मसले को लेकर रेटिंग घटाये जाने से शेयर में बिकवाली हुई। रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर करीब एक प्रतिशत नीचे आया।

कंपनी के अपना मीडिया और वितरण कारोबार को नेटवर्क 18 के अंतर्गत लाने की घोषणा के उसका शेयर नीचे आया। समूह की तीन इकाइयों...हैथवे केबल एंड डाटाकॉम, डेन नेटवर्क और टीवी 18 ब्रॉडकास्ट का टीवी 18 ब्रॉडकास्ट में विलय किया जाएगा। इससे तीनों कंपनियों शेयरों में क्रमश: 20 प्रतिशत, 9.98 प्रतिशत और 14.7 प्रतिशत की तेजी आयी। दूसरी तरफ एसबीआई, इन्फोसिस, पावर ग्रिड, टेक महिंद्रा और टीसीएस सर्वाधिक लाभ में रहे। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘कोरोना वायरस के कारण बाजार धारणा लगातार प्रभावित है।

प्रमुख बहुराष्ट्रीय कंपनी ने इसके कारण बिक्री पर असर पड़ने की चेतावनी दी है। वैश्विक स्तर पर कमजोर रुख से घरेलू बाजार पर असर पड़ने की संभावना है....।’’ नायर ने कहा कि साथ ही दूरसंचार कंपनियों को सांविधिक बकाया के रूप में सरकार को बड़ी राशि देनी है। इससे बैंक शेयरों में उतार-चढ़ाव आने की आशंका है जिससे बाजार पर असर पड़ेगा।

एशिया के अन्य बाजारों में चीन को छोड़कर अन्य में गिरावट दर्ज की गयी। एप्पल और एचएसबीसी की कोरोना वायरस को लेकर चेतावनी का असर वैश्विक बाजारों पर पड़ा। चीन के मध्य भाग में फैले कोरोना वायरस के कारण अबतक 1,800 लोगों की मौत हो चुकी है और दुनिया के अन्य देशों में भी यह फैला है।

एप्पल ने कहा कि वह कोरोना वायरस संकट के कारण जनवरी-मार्च तिमाही के बिक्री अनुमान को पूरा नहीं कर पाएगी। वहीं एचएसबीसी होल्डिंग्स ने कहा कि कोरोना वायरस समेत अन्य वैश्विक चुनौतियों का असर उसके एशियाई कारोबार पर पड़ रहा है। वित्तीय कंपनी ने तीन साल में निवेश बैंकिंग में कमी लाने के साथ 35,000 नौकरियां खत्म करने की घोषणा की है। 

Web Title: Sensex tumbles 161 points, stock markets continue to fall, telecom and financial sector are in dire straits
कारोबार से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे