एनपीसीआई का वित्तीय अपराधों को रोकने के लिए आधार से जुड़ी प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल का प्रस्ताव

By भाषा | Published: November 24, 2021 08:24 PM2021-11-24T20:24:31+5:302021-11-24T20:24:31+5:30

NPCI proposes to use Aadhaar linked technology to prevent financial crimes | एनपीसीआई का वित्तीय अपराधों को रोकने के लिए आधार से जुड़ी प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल का प्रस्ताव

एनपीसीआई का वित्तीय अपराधों को रोकने के लिए आधार से जुड़ी प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल का प्रस्ताव

Next

नयी दिल्ली, 24 नवंबर भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) के एक शीर्ष अधिकारी ने बुधवार को कर चोरी सहित वित्तीय अपराधों का पता लगाने के लिए आधार से जुड़ी प्रौद्योगिकियों के इस्तेमाल का प्रस्ताव रखा।

एनपीसीआई के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) दिलीप असबे ने कहा कि ऐसी प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल तीन-चार वर्षों में किया जाएगा।

उन्होंने कहा, "कर चोरी हमारे देश में एक बड़ा मुद्दा है। आज पैन और आधार को आपस में जोड़ने के साथ, जब किसी ग्राहक के पास कई बैंकों में खाता है, तो आधार वहां जुड़ा हुआ है। हम संदिग्ध मामलों के लिए डेटा पर थोड़ी और नजर क्यों नहीं रख सकते ताकि यह पता लगा सकें कि क्या देश में कर चोरी हो रही है?"

असबे ने कहा कि जनता की भलाई के लिए आधार के कई इस्तेमाल संभव हैं।

उन्होंने कहा, "मुझे यकीन है कि इसका इस्तेमाल तीन-चार साल में किया जाएगा, लेकिन क्या हम इतना समय इंतजार कर सकते हैं?"

अधिकारी ने कहा कि एक विशिष्ट पहचान पत्र के तौर पर आधार का काफी महत्व है लेकिन अब भी इसका पूरा दोहन नहीं किया गया है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: NPCI proposes to use Aadhaar linked technology to prevent financial crimes

कारोबार से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे