Highlightsजो बाइडन ने अपने पहले भाषण में कहा कि आज अमेरिका का दिन है.... लोकतंत्र की जीत हुई है।जो बाइडन ने देश के लोगों से ‘सच की रक्षा करने और झूठ को हराने का भी आह्वान किया।

वाशिंगटन: घरेलू आतंकवाद और श्वेतों को श्रेष्ठ मानने वाली मानसिकता को हराने की लड़ाई में अमेरिका के सभी नागरिकों से शामिल होने का आह्वान करते हुए राष्ट्रपति जो बाइडन ने बुधवार को शपथ ग्रहण के बाद अपने पहले भाषण में कहा कि आज ‘हम एक उम्मीदवार की जीत का नहीं बल्कि लोकतंत्र के मक़सद और लोकतंत्र की जीत का जश्न मना रहे हैं।’

देश के 46वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने के बाद 78 वर्षीय बाइडन ने ना सिर्फ अपने वैश्विक सहयोगियों के साथ संबंधों को दुरुस्त करने का वादा किया बल्कि देश के लोगों से ‘सच की रक्षा करने और झूठ को हराने का भी आह्वान किया।’’

नवंबर में घोषित चुनाव परिणाम में बाइडन की जीत को अस्वीकार करने के ट्रंप के प्रयासों का परोक्ष संदर्भ देते हुए उन्होंने कहा, ‘‘आज अमेरिका का दिन है.... लोकतंत्र की जीत हुई है।’’ कोरोना वायरस संक्रमण और नस्ली अन्याय के खिलाफ लड़ाई जैसी चुनौतियों का संदर्भ देते हुए बाइडन ने कहा, ‘‘एकजुट होकर हम बहुत कुछ कर सकते हैं।’’

We have a lot to do to overcome today

"एकजुटता ही आगे का रास्ता है"

महामारी को हराने, हालात सुधारने, देश को एकजुट करने के अपने दृष्टिकोण से सभी को अवगत कराते हुए उन्होंने कहा, ‘‘एकजुटता ही आगे का रास्ता है।’’ बाइडन ने इस बात पर जोर दिया कि वह सभी अमेरिकी नागरिकों के राष्ट्रपति हैं, उन्हें वोट देने वालों के भी और नहीं देने वालों के भी।

अपने 21 मिनट लंबे भाषण में बाइडन ने चुनौती स्वीकार करने और लोकतंत्र बहाल करने के लिए अमेरिकी नागरिकों की प्रशंसा की। उन्होंने क्रोध और विभाजन को शह देने वालों की आलोचना की और उनका विरोध करने वालों से कहा ‘‘एक बार मेरी बात सुनें।’’

United States facing four historic crises at once, says Joe Biden | english. lokmat.com

देश ने परीक्षा की घड़ी पार की है: जो बाइडन

बाइडन ने राजनीतिक सत्ता और लाभ के लिए झूठ बोलने वालों की आलोचना की और कहा ‘‘सच और झूठ सब सामने आते हैं।’’ अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए अपने संदेश में बाइडन ने अमेरिका के साझेदारों के साथ संबंधों को दुरुस्त करने और दुनिया के साथ एक बार फिर साझेदारी बढ़ाने का वादा किया।

उन्होंने कहा कि देश ने परीक्षा की घड़ी पार की है और मजबूत बनकर उभरा है। डेमोक्रेटिक पार्टी के 78 वर्षीय अनुभवी नेता ने अपने भाषण में कहा, ‘‘हम शांति, प्रगति और सुरक्षा के क्षेत्र में मजबूत और विश्वस्त साझेदारी होंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अमेरिका ने परीक्षा दी है और मजबूत होकर उभरा है।

Joe Biden Inauguration: अमेरिकेचे नवे अध्यक्ष म्हणून शपथ घेणाऱ्या जो बायडन यांचं आहे थेट आपल्या नागपूरशी कनेक्शन | News - News18 Lokmat, Today's Latest Marathi News

हम अपने साझेदारों के साथ संबंधों को दुरुस्त करेंगे: जो बाइडन

हम अपने साझेदारों के साथ संबंधों को दुरुस्त करेंगे और एक बार फिर दुनिया के साथ अपना मेल-जोल बढ़ाएंगे।’’ बाइडन ने कहा, ‘‘हम सिर्फ अपनी शक्ति के आधार पर नेतृत्व नहीं करेंगे, बल्कि उदाहरण पेश करेंगे और उसके आधार पर आगे चलेंगे। हम शांति, प्रगति और सुरक्षा के लिए मजबूत तथा विश्वस्त साझेदार साबित होंगे।’’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित दुनिया के तमाम नेताओं ने ट्वीट करके अमेरिका के नये प्रशासन को बधाई दी है और साथ मिलकर काम करने की आशा जतायी है। मोदी ने कहा, ‘‘अमेरिका के राष्ट्रपति के रूप में पदभार संभालने पर जो बाइडन को मेरी शुभकामनाएं। मैं उनके साथ मिलकर काम करने और भारत-अमेरिका साझेदारी को मजबूत करने के लिए आशान्वित हूं।’’ 

(एजेंसी इनपुट)

Web Title: Democracy has won: know what Joe Biden said in his first speech as US President

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे