कनाडा के स्वामीनारायण मंदिर में तोड़फोड़ कर लिखे गए भारत विरोधी खालिस्तानी नारे, भारत ने जताया कड़ा एतराज

By भाषा | Published: September 15, 2022 10:03 AM2022-09-15T10:03:45+5:302022-09-15T10:12:27+5:30

आपको बता दें कि टोरंटो के बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर में घटी घटना को लेकर टोरंटो स्थित भारतीय उच्चायोग ने इस पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।

Anti-India Khalistani slogans written vandalizing Swaminarayan temple in Canada India expressed strong objection | कनाडा के स्वामीनारायण मंदिर में तोड़फोड़ कर लिखे गए भारत विरोधी खालिस्तानी नारे, भारत ने जताया कड़ा एतराज

फोटो सोर्स: Twitter BAPS Swaminarayan Mandir in Canada

Next
Highlightsकनाडा के स्वामीनारायण मंदिर में तोड़फोड़ कर भारत विरोधी नारे लिखे गए है। बताया जाता है कि इस घटना को खालिस्तानी चरमपंथियों द्वारा अन्जाम दिया गया है। बताया जाता है कि इस घटना को खालिस्तानी चरमपंथियों द्वारा अन्जाम दिया गया है।

ओटावा:कनाडा के खालिस्तानी चरमपंथियों द्वारा टोरंटो के एक प्रमुख हिंदू मंदिर पर भारत विरोधी भित्तिचित्र बनाकर उसे विरूपित करने का मामला सामने आया है। भारत ने इस घटना को घृणा अपराध करार देते हुए कनाडाई अधिकारियों से आरोपियों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई करने का आग्रह किया है। 

आपको बता दें कि यह घटना टोरंटो के बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर में घटी है। ऐसे में यह घटना कब हुई, फिलहाल इस बारे में अभी कुछ पता नहीं चल पाया है। 

भारतीय उच्चायोग ने कड़ी कार्रवाई की मांग की है

टोरंटो स्थित भारतीय उच्चायोग ने बुधवार को ट्वीट किया, “हम टोरंटो के बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर को भारत विरोधी भित्तिचित्रों से विरूपित किए जाने की घटना की कड़ी निंदा करते हैं। कनाडा के अधिकारियों से घटना की जांच करने और आरोपियों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई करने का अनुरोध किया है।” 

कनाडाई सांसद चंद्र आर्या ने कड़ी निंदा की

वहीं इस पर बोलते हुए कनाडाई सांसद चंद्र आर्या ने ट्विटर पर कहा, “कनाडा के खालिस्तानी चरमपंथियों द्वारा टोरंटो के बीएपीएस श्री स्वामीनारायण मंदिर को विरूपित किए जाने की घटना की सभी को निंदा करनी चाहिए। यह सिर्फ एक अकेली घटना नहीं है। कनाडा के हिंदू मंदिरों को हाल के दिनों में इस तरह के कई घृणा अपराधों का सामना करना पड़ा है। इन घटनाओं को लेकर कनाडा के हिंदुओं की चिंताएं जायज हैं।” 

ब्रैम्पटन दक्षिण की सांसद सोनिया सिद्धू ने भी ट्वीट किया

इस मामले में ब्रैम्पटन दक्षिण की सांसद सोनिया सिद्धू ने भी इस घटना पर खेद प्रकट किया। उन्होंने ट्वीट किया, “टोरंटो में बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर को विरूपित किए जाने के कृत्य से मैं बहुत दुखी हूं। हम एक बहुसांस्कृतिक और बहु-आस्था वाले समुदाय में रहते हैं, जहां हर कोई सुरक्षित महसूस करने का हकदार है। घटना के जिम्मेदार लोगों की पहचान की जानी चाहिए, ताकि उन्हें उनके कृत्यों की सजा दी जा सके।” 

Web Title: Anti-India Khalistani slogans written vandalizing Swaminarayan temple in Canada India expressed strong objection

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे