Rahul Gandhi, Tejashwi Yadav, Mayawati, akhilesh yadav, general elections 2019 | 2019 में राहुल गांधी होंगे पीएम कैंडिडेट? तेजस्वी यादव ने दिया चौंकाने वाला जवाब

पटना, 14 जून: आरजेडी नेता लालू प्रसाद यादव ने गुरुवार को कहा कि वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल के साथ मिलकर देश की स्वतंत्रता और संविधान को बचाने के अभियान को लेकर काम कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने बताया बीजेपी के बागी सांसद शत्रुधन सिन्हा का जिक्र किया।उन्होंने कहा कि हमारे पास शत्रुधन सिन्हा हैं जोकि पटना साहिब से सांसद हैं। तो अगर वह हमारी पार्टी से जुड़ना चाहेंगे, तो उनका स्वागत है। 


एनडीटीवी के मुताबिक जब अखिलेश से यह पूछा गया कि क्या मायावती और अखिलेश यादव राहुल गांधी को प्रधान मंत्री के रूप में स्वीकार  करेंगे तब तेजस्वी यादव ने कहा, "राहुल गांधी ने कहा है कि यदि कांग्रेस एकमात्र सबसे बड़ी पार्टी बन जाती है, तब ही वह प्रधनमंत्री पद का दावा करेंगे। उन्होंने आगे कहा, "मुझे ऐसा लगता है कि जो भी राजनीतिक दल सबसे बड़ा होगा, वह प्रधान मंत्री पद का दावा करेगा। अगर आप विपक्ष को देखते हैं, तो बहुत से लोग पीएम बनने में सक्षम हैं। हालांकि अभी तक किसी ने भी आधिकारिक तौर पर दावा नहीं किया है। 

ये भी पढ़ें: कश्मीर: सेना का सर्च ऑपरेशन अभी जारी, सुबह से दो आतंकी हो चुके हैं ढेर

बता दें कि अभी हाल ही में राजद प्रमुख लाल प्रसाद के पुत्र तेजस्वी ने इस पर मुख्यमंत्री को चुनौती दी थी कि क्या वह हलफनामा देकर कह सकते हैं कि उनका पुत्र कभी राजनीति में नहीं आएगा। इसके बाद तेजस्वी ने एक ट्वीट भी किया। जिसमें उन्होंने लिखा,  'नीतीश चाचा 60 मिनट के भाषण में 45 मिनट तेजस्वी पर ही केन्द्रित रखते है। भतीजे पर इतना फ़ोकस्ड कॉन्सेंट्रेशन रखने के लिए चाचा जी को सह्रदय धन्यवाद। तेजस्वी तो बच्चा है जी!'

जोकीहाट विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में आरजेडी को मिली जीत के बाद से लालू यादव के बेटे तेजस्वी इन दिनों सोशल मीडिया और भी ज्यादा एक्टिव हो गए हैं। तेजस्वी रोज किसी न किसी मुद्दे को लेकर नीतीश और बीजेपी पर निशाना साधते हैं।