First state Andhra Pradesh not one but three capitals five deputy chief ministers governor approved | देश का पहला राज्य आंध्र प्रदेशः एक नहीं तीन राजधानियां, पांच उपमुख्यमंत्री, गवर्नर ने दी मंजूरी
आंध्र प्रदेश सभी से आगे निकल जाएगा और वहां 5 डेप्युटी सीएम होंगे। यह अपने आप में एक रिकॉर्ड होगा। (file photo)

Highlightsसरकार को अपनी तीन राजधानियों की योजना को वास्तविकता में बदलने से पहले कानूनी बाधाओं को दूर करना होगा।सरकारी सूत्रों ने कहा कि संबंधित कानूनों के लागू होने के बावजूद तीन राजधानियों की योजना को अमल में लाने में ‘‘कुछ और समय’’ लगेगा।दो विधेयकों को विधानसभा द्वारा दो बार 20 जनवरी और 16 जून को पारित किया गया था और विधान परिषद ने इन्हें पारित नहीं किया था जहां तेदेपा बहुमत में है।

अमरावतीः आंध्र प्रदेश के लिए तीन राजधानियां बनाने संबंधी मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी की योजना में विधायी बाधा को दूर करते हुए राज्यपाल विश्व भूषण हरिचंदन ने शुक्रवार को आंध्र प्रदेश विकेंद्रीकरण एवं सभी क्षेत्रों का समावेशी विकास विधेयक, 2020 और आंध्र प्रदेश राजधानी क्षेत्र विकास प्राधिकरण (निरसन) विधेयक 2020 को शुक्रवार को अपनी मंजूरी दे दी।

राज्य के कानून विभाग ने तुरंत नए अधिनियमों को प्रभावी करने के लिए गजट अधिसूचना जारी की, लेकिन सरकार को अपनी तीन राजधानियों की योजना को वास्तविकता में बदलने से पहले कानूनी बाधाओं को दूर करना होगा। यह मुद्दा अब आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय में लंबित है।

उच्च पदस्थ सरकारी सूत्रों ने कहा कि संबंधित कानूनों के लागू होने के बावजूद तीन राजधानियों की योजना को अमल में लाने में ‘‘कुछ और समय’’ लगेगा। उन्होंने कहा, ‘‘हम जल्दी में नहीं हैं।’’ इन दो विधेयकों को विधानसभा द्वारा दो बार 20 जनवरी और 16 जून को पारित किया गया था और विधान परिषद ने इन्हें पारित नहीं किया था जहां तेदेपा बहुमत में है।

उच्च पदस्थ आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि लेकिन सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 197 (1) और (2) के तहत सहमति के लिए विधेयकों को राज्यपाल के पास भेजा और व्यापक कानूनी परामर्श के बाद, उन्होंने नए कानून के लिए अपनी सहमति दी। उत्तर प्रदेश ऐसे राज्य हैं, जहां दो उपमुख्यमंत्री हैं। अब आंध्र प्रदेश सभी से आगे निकल जाएगा और वहां 5 डेप्युटी सीएम होंगे। यह अपने आप में एक रिकॉर्ड होगा।

आंध्र प्रदेश में लगातार तीसरे दिन 10 हजार से अधिक संक्रमण के मामले

आंध्र प्रदेश में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं और राज्य में लगातार तीसरे दिन शुक्रवार को 10,000 से अधिक मामले सामने आये और कुल मामलों की संख्या 1,40,933 हो गयी। शुक्रवार सुबह नौ बजे तक पिछले 24 घंटे में राज्य में कोविड-19 के 10,376 मामले सामने आये हैं जो राज्य में संक्रमण के मामलों की अब तक की सर्वाधिक संख्या है।

राज्य में पिछले तीन दिन में संक्रमण के मामलों में तेजी से इजाफा हुआ है और मामलों की दर अचानक से 7.22 प्रतिशत बढ़ गयी। आंध्र प्रदेश में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 10,167 मामले सामने आये थे और बुधवार को 10,093 नये संक्रमित मरीज सामने आये। अब यह राज्य महाराष्ट्र के बाद दूसरा एकमात्र राज्य है जहां एक दिन में सामने आने वाले मामलों की संख्या पांच अंकों में है।

ताजा स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार राज्य में संक्रमण से मौत के 68 नये मामलों के साथ कुल मृतक संख्या 1,349 हो गयी है। राज्य में पिछले 24 घंटे में 3,822 रोगी स्वस्थ हो चुके हैं और उन्हें अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है। कुल मिलाकर अब तक 63,864 संक्रमित सही हो गये हैं और 75,720 मरीजों का उपचार चल रहा है या वे घरों में पृथक-वास में हैं। 

Web Title: First state Andhra Pradesh not one but three capitals five deputy chief ministers governor approved
राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे