जानिए क्या है कोविड से निपटने की 'फाइव-फोल्ड' रणनीति, केंद्र ने राज्यों को दिया है अपनाने का सुझाव

By शिवेंद्र राय | Published: August 6, 2022 01:56 PM2022-08-06T13:56:27+5:302022-08-06T13:57:52+5:30

एक बार फिर से तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने दिल्ली, केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र, ओडिशा, तमिलनाडु और तेलंगाना के स्वास्थ्य सचिवों को पत्र लिखकर चिंता जताई है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने इन राज्यों को 'फाइव-फोल्ड' रणनीति के तहत प्रभावी उपाय करने को कहा है।

Union Health Secretary writes Should follow five-fold strategy on rising COVID-19 cases | जानिए क्या है कोविड से निपटने की 'फाइव-फोल्ड' रणनीति, केंद्र ने राज्यों को दिया है अपनाने का सुझाव

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

Next
Highlightsतेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना संक्रमण के मामलेकेंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने कई राज्यों को लिखा पत्रनिपटने के लिए 'फाइव-फोल्ड' रणनीति अपनाने का सुझाव दिया

नई दिल्ली: देश भर में कोरोना के लगातार तेजी से बढ़ते मामलों के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने दिल्ली, केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र, ओडिशा, तमिलनाडु और तेलंगाना के स्वास्थ्य सचिवों को पत्र लिखकर चिंता जताई है और बढ़ते कोविड मामलों पर नियंत्रण लगाने के लिए प्रभावी उपाय करने को कहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने राज्यों को लिखे पत्र में कहा है, "योग्य आबादी के लिए टीकाकरण की गति बढ़ाने का लक्ष्य होना चाहिए और 'फाइव-फोल्ड' रणनीति का पालन करना चाहिए एवं कोविड के उचित व्यवहार का पालन करना चाहिए।"

क्या है 'फाइव-फोल्ड' रणनीति

'फाइव-फोल्ड' यानी कि कोविड से बचने और निपटने की पांच चरणों की रणनीति। इसके तहत पहले चरण में कोविड-19 की जांच को बढावा देना शामिल है। साथ ही यह सुनिश्चित करना कि लगभग 70 प्रतिशत जांच आरटीपीसीआर हो। दूसरे चरण में कोविड संक्रमित व्यक्ति और उसके संपर्क में आए कम से कम 30 लोगों को ट्रैक करके 72 घंटे के लिए आइसोलेशन में रखना शामिल है। तीसरे चरण में कोविड से निपटने के लिए स्वास्थ्य संबंधी बुनियादी ढांचे का विकास करना है। चौथे चरण में लोगों को कोविड अनुरूप व्यवहार करने के लिए जागरूक करना और भीड़ न जुटने देना शामिल है। पांचवे और आखिर चरण में योजना बनाकर ज्यादा से ज्यादा लोगों का टीकाकरण करना शामिल है। 

बढ़ रहे हैं कोरोना संक्रमण के मामले

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी कोरोना के ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटे में 19406 नए कोरोना केस सामने आए वहीं 19,928 मरीज स्वस्थ होकर घर गए हैं। सक्रिय मामलों की बात करें तो यह संख्या 1,34,793 पर है वहीं पॉजिटिविटी रेट 4.96 प्रतिशत पर है। भारत में कोविड-19 से 49 और मरीजों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 5,26,649 हो गई है। कोरोना से  संक्रमित होने वाले मरीजों के स्वस्थ होने की  राष्ट्रीय दर 98.50 प्रतिशत है। 

अगर उत्तर प्रदेश की बात की जाए तो राज्य में भी कोविड के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को 882 नए मरीज मिले। 
इससे पहले गुरुवार को 887 रोगी मिले थे और बुधवार को 786 संक्रम‍ित म‍िले थे। एक हफ्ते के अंदर ही राज्य में कोरोना के 30 प्रतिशत रोगी बढ़े हैं। यूपी में अब कोरोना के कुल 4253 मरीज हैं। बता दें कि प्रदेश में कोरोना के कुल सक्रिय केस में से सबसे ज्यादा 602 सक्रिय केस गौतमबुद्ध नगर में हैं।

Web Title: Union Health Secretary writes Should follow five-fold strategy on rising COVID-19 cases

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे