विधानसभा अध्यक्ष ने सदस्यों के व्यवहार पर नाराजगी जताई, कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित की

By भाषा | Published: September 15, 2021 11:02 PM2021-09-15T23:02:15+5:302021-09-15T23:02:15+5:30

Speaker of the assembly expressed displeasure over the behavior of the members, adjourned the proceedings indefinitely | विधानसभा अध्यक्ष ने सदस्यों के व्यवहार पर नाराजगी जताई, कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित की

विधानसभा अध्यक्ष ने सदस्यों के व्यवहार पर नाराजगी जताई, कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित की

Next

जयपुर, 15 सितंबर राजस्थान में सत्ता पक्ष व विपक्ष के सदस्यों के व्यवहार से खफा विधानसभा अध्यक्ष डॉ सी पी जोशी ने बुधवार शाम सदन की कार्यवाही अचानक अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने की घोषणा की। कार्य मंत्रणा समिति के तय कार्यक्रम के अनुसार, सदन की बैठक का अभी दो दिन का कार्यक्रम तय था।

कार्यवाही स्थगित होने से पहले डॉ जोशी ने सत्ता पक्ष व विपक्ष के कुछ सदस्यों के व्यवहार पर खेद जताया। उन्होंने संसदीय कार्य मंत्री शांति धारीवाल को बोलने की अनुमति नहीं दी और कहा, '' आपको पूरा अधिकार है मुझे हटाने का, मैं अध्यक्ष रहूंगा तो कर्तव्य का पालन करूंगा। मैं सदन चलाउंगा तो नियमों से चलाउंगा।''

इससे पहले, जोशी ने अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस का हवाला देते हुए कहा, ''यदि हम सदन में गरिमापूर्ण बहस करना चाहते हैं तो नियमों का पालन करना होगा। नियमों के पालन में अध्यक्ष या सभापति को बहस के नियमन का अधिकार है ताकि बात संबंधित विधेयक के दायरे से बाहर न हो।''

उन्होंने दिन में विधेयकों पर हुई चर्चा के स्तर पर खेद जताया। उन्होंने सदस्यों से नियमों का पालन करने की अपील करते हुए विधेयक के दायरे में ही अपनी बात रखने को कहा।

इसके बाद जब विधानसभा अध्यक्ष ने उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ को बोलने के लिए बुलाया। इसी दौरान, संसदीय कार्य मंत्री धारीवाल ने कुछ कहना चाहा तो अध्यक्ष ने उन्हें अनुमति नहीं दी। अध्यक्ष ने संसदीय मंत्री के व्यवहार से नाराजगी जताते हुए कार्यवाही अचानक अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी। बाद में मुख्य सचेतक महेश जोशी, संसदीय मंत्री धारीवाल, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया सहित सत्ता पक्ष व विपक्ष के अनेक सदस्य जोशी से उनके चैंबर में मिले।

कार्य मंत्रणा समिति के तय कार्यक्रम के अनुसार सदन की कार्यवाही अभी 17 व 18 सितंबर को होनी है।

इससे पहले दो बार विभिन्न मुद्दों को लेकर सत्ता पक्ष व विपक्ष आमने-सामने आ गए और सदन की कार्यवाही 30 मिनट व 45 मिनट के लिए दो बार स्थगित करनी पड़ी। एक बार तो परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास व नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया के बीच तीखी बहस हुई। वहीं, भाजपा विधायक मदन दिलावर की एक टिप्पणी को लेकर भी हंगामा हुआ। इस कारण कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Speaker of the assembly expressed displeasure over the behavior of the members, adjourned the proceedings indefinitely

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे