Smriti Irani's attack on Congress says,'If Lord Rama does not exist for them then why the temple will be special' | स्मृति ईरानी का कांग्रेस पर हमला, 'राहुल गांधी की पार्टी के लिए लिए भगवान राम का अस्तित्व और मंदिर का कोई महत्व नहीं'
स्मृति ईरानी का कांग्रेस पर हमला, 'राहुल गांधी की पार्टी के लिए लिए भगवान राम का अस्तित्व और मंदिर का कोई महत्व नहीं'

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष पर हमला करते हुए कहा 'आज राहुल गांधी का एक बयान आया कि उनके लिए राम मंदिर कोई विशेष विषय नहीं है। जिस गांधी परिवार और कांग्रेस ने कोर्ट में ये हलफनामा दिया की भगवान राम का कोई अस्तित्वा नहीं है उनके लिए मंदिर भी विशेष नहीं होगा।'

बता दें कि शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या मामले पर सुनवाई की तारीख तय करने के लिये आगामी 10 जनवरी को उपयुक्त पीठ द्वारा आदेश पारित किये जाने के निर्णय के बीच केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पर राम मंदिर मामले की न्यायिक प्रक्रिया में अपने वकीलों के जरिये बाधा डालने का आरोप लगाया।


अमेठी के दौरे पर आयीं स्मृति ने कहा कि कांग्रेस को राम मंदिर मसले पर अपने वकीलों के जरिए राजनीति नहीं करनी चाहिए। उसके नेता, जो वकील भी हैं, वे अदालत में बाधा डाल रहे हैं। जनता और राम भक्तों को कांग्रेस से पूछना चाहिए कि उसके नेता क्या सिर्फ तीन राज्यों के चुनाव के लिए ही जनेऊ पहने थे।

उनका इशारा वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं वकील कपिल सिब्बल की ओर था, जिन्होंने शीर्ष अदालत से राम जन्मभूमि/बाबरी मस्जिद मामले की सुनवायी 2019 के आम चुनाव के बाद तय करने का आग्रह किया था।

मालूम हो कि उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को कहा कि उसके द्वारा गठित एक उपयुक्त पीठ राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि मालिकाना विवाद मामले की सुनवाई की तारीख तय करने के लिए 10 जनवरी को आदेश देगी।

स्मृति ने क्षेत्रीय सांसद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर भी निशाने पर लिया और कहा कि उन्होंने अमेठी के लिए कुछ नहीं किया, जबकि वह पिछले 15 साल से यहां का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। राहुल विकास को लेकर भाजपा की सरकार पर तंज करते हैं लेकिन उन्होंने खुद अपने लोकसभा क्षेत्र मे विकास के काम नहीं किये हैं, जिसका परिणाम है कि 10 साल तक कांग्रेस नीत संप्रग सरकार होने के बाद भी अमेठी में इलाज की समुचित सुविधा तक उपलब्ध नहीं हो सकी।

केन्द्रीय कपड़ा मंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने अमेठी में विकास के अनेक काम किये हैं। गांधी परिवार लंबे समय से यहां का प्रतिनिधित्व कर रहा है लेकिन उसने यहां की समस्याओं की ओर ध्यान नहीं दिया। राहुल अमेठी नहीं आते थे। मैंने 2014 में यहां से चुनाव हारने के बाद कहा था कि मैं उन्हे अमेठी बार बार आने के लिए मजबूर कर दूंगी। उसमें मैं सफल रही।

स्मृति ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ का जिक्र करते हुए कहा कि जब उन्होंने कहा कि मेरे प्रदेश मे बाहरी राज्य के लोगो को नौकरी नहीं मिलेगी तो राहुल कुछ नहीं बोले। उन्हे इस पर देश को जवाब देना चाहिए।

केंद्रीय मंत्री ने अपने दौरे के दौरान अमेठी जिला चिकित्सालय में निःशुल्क सीटी स्कैन सुविधा का उदघाटन किया। उन्होंने राजेश मसाला फैक्ट्री मे आयोजित कार्यक्रम मे राघवराम विद्यापीठ की आधारशिला रखी और 5000 गरीबों को कम्बल का वितरण किया। ईरानी ने गरीबो की मदद के लिए राजेश मसाला फैक्ट्री की तरफ से एक करोड रूपये का चेक राघव राम सेवा संस्थान को सौपा।

(भाषा इनपुट के साथ)
 


Web Title: Smriti Irani's attack on Congress says,'If Lord Rama does not exist for them then why the temple will be special'
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे