एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े दिल्ली पहुंचे, कहा- समन नहीं मिला, काम के सिलसिले में आया हूं

By विनीत कुमार | Published: October 26, 2021 07:50 AM2021-10-26T07:50:05+5:302021-10-26T08:01:54+5:30

समीर वानखेड़े सोमवार देर शाम दिल्ली पहुंचे। उन्होंने दिल्ली पहुंचने के बाद पत्रकारों से कहा कि वे काम के सिलसिले में यहां पहुंचे हैं।

Sameer Wankhede in Delhi says did not get any summons, came for work | एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े दिल्ली पहुंचे, कहा- समन नहीं मिला, काम के सिलसिले में आया हूं

समीर वानखेड़े दिल्ली पहुंचे (फाइल फोटो)

Next
Highlightsसमीर वानखेड़े सोमवार देर शाम मुंबई से दिल्ली पहुंचे, काम के सिलसिले में आने की कही बात।वानखेड़े पर हाल में महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने कई आरोप लगाए हैं, आर्यन खान केस पर भी विवाद।

नई दिल्ली: शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान से जुड़े ड्रग्स मामले की जांच कर रहे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के अधिकारी समीर वानखेड़े सोमवार देर शाम दिल्ली पहुंच गए। हालांकि उन्होंने इस बात से इनकार किया कि उन्हें किसी एजेंसी ने तलब किया है।

हवाई अड्डे पर पत्रकारों से घिरे वानखेड़े ने कहा कि वह किसी काम से दिल्ली पहुंचे हैं। उन्होंने कहा, 'मैं पूरी तरह से अपनी जांच के साथ खड़ा हूं, 100 प्रतिशत।' 

वानखेड़े का ये दिल्ली दौरा उस समय हो रहा है जब महाराष्ट्र के मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने उन पर कई आरोप लगाए हैं।

साथ ही एनसीबी के जोनल डायरेक्टर वानखेड़े का नाम आर्यन खान मामले में भी विवादों में आ गया है। इस मामले में एक स्वतंत्र गवाह ने दावा किया है कि आर्यन खान को छोड़ने के लिए 25 करोड़ वसूलने की बात हो रही थी। ये दावा किरण गोसावी के बॉडीगार्ड रहे प्रभाकर सैल की ओर से किए गए हैं। गोसावी वही शख्स है जिसकी आर्यन खान के साथ सेल्फी वायरल हुई थी। 

एक हलफनामे में प्रभाकर ने दावा किया कि उसने गोसावी और सैम डिसूजा के बीच 3 अक्टूबर को 18 करोड़ करोड़ के सौदे के बारे में बातचीत सुनी थी। प्रभाकर के अनुसार इस बातचीत में केपी गोसावी ने कहा था कि उन्हें इसमें से 8 करोड़ समीर वानखेड़े को देने होंगे।

एनसीबी ने किया है समीर वानखेड़े का बचाव

हालांकि, एनसीबी ने अपने अधिकारी का बचाव करते हुए कहा है कि अभी तक समीर वानखेड़े की छवि साफ-सुथरी है।

वानखेड़े मंत्री नवाब मलिक के निशाने पर भी रहे हैं। मलिक ने सोमवार को वानखेड़े के कथित बर्थ सर्टिफिकेट की एक फोटो भी ट्वीट की और कहा एनसीबी अधिकारी का नाम समीर दाउद वानखेड़े है।

वहीं, अधिकारी ने पलटवार करते हुए कहा निजी हमले कर उन्हें, उनके परिवार, पिता और दिवंगत मां को बदनाम किया जा रहा है। वानखेड़े ने एक बयान में कहा, ‘पिछले कुछ दिनों में मंत्री ने जो काम किए हैं उसने मुझे और मेरे परिवार को अत्यधिक मानसिक और भावनात्मक दबाव में ला दिया है।’ 

मलिक द्वारा पोस्ट की गयी तस्वीर में एनसीबी अधिकारी के पिता का नाम दाऊद दिखाया गया है। वानखेड़े ने कहा कि उनके पिता का नाम ज्ञानदेव है जो एक आबकारी अधिकारी थे। 

Web Title: Sameer Wankhede in Delhi says did not get any summons, came for work

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे