ISIS, अलकायदा और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी संगठनों के लिए नौजवानों को भर्ती करता है PFI, एनआईए का दावा

By रुस्तम राणा | Published: September 23, 2022 08:42 PM2022-09-23T20:42:01+5:302022-09-23T20:42:01+5:30

एनआईए के अनुसार, पीएफआई कमजोर युवाओं को लश्कर-ए-तैयबा, आईएसआईएस और अल-कायदा सहित आतंकवादी संगठनों में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करता है।

PFI India recruiter and radicaliser for global Islamic terror groups NIA | ISIS, अलकायदा और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी संगठनों के लिए नौजवानों को भर्ती करता है PFI, एनआईए का दावा

ISIS, अलकायदा और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी संगठनों के लिए नौजवानों को भर्ती करता है PFI, एनआईए का दावा

Next
Highlightsछापेमारी में पीएफआई के कार्यालयों से कई आपत्तिजनक सामग्री जब्त की गई हैंएनआईए की चार्जशीट में 14 आरोपियों के नाम हैं, जिनमें पीएफआई मामले में मुख्य आरोपी हैंरेड में कट्टरपंथी इस्लामी संगठन के 106 नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गुरुवार को पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के खिलाफ अपने पहले मेगा ऑपरेशन में गिरफ्तार किए गए आरोपियों की रिमांड की मांग करते हुए दावा किया कि संगठन के पदाधिकारी, सदस्य और कैडर अन्य लोगों के साथ इस्लामिक स्टेट (ISIS) जैसे प्रतिबंधित संगठनों में शामिल होने के लिए मुस्लिम युवाओं को कट्टरपंथी बनाने और भर्ती करने में शामिल थे।

पीएफआई पर बड़े पैमाने पर कार्रवाई करते हुए, एनआईए के नेतृत्व में बहु-एजेंसी टीमों ने देश में आतंकवादी गतिविधियों का कथित रूप से समर्थन करने के लिए 15 राज्यों में लगभग एक साथ छापे में कट्टरपंथी इस्लामी संगठन के 106 नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया।

एनआईए ने केरल की कोच्चि की विशेष अदालत में छापेमारी के बाद और गिरफ्तारियों के कारण क्या हैं, इस पर अपनी रिपोर्ट में यह भी दावा किया कि आरोपी ने धार्मिक दुश्मनी पैदा करने वाली गैरकानूनी गतिविधियों में शामिल होने की साजिश रची। एजेंसी ने कहा कि संगठन कथित तौर पर भारत के खिलाफ असंतोष पैदा कर रहा है और एक वैकल्पिक न्याय वितरण प्रणाली का प्रचार कर रहा है।

एनआईए के अनुसार, पीएफआई कमजोर युवाओं को लश्कर-ए-तैयबा, आईएसआईएस और अल-कायदा सहित आतंकवादी संगठनों में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करता है। इसमें कहा गया है कि पीएफआई ने हिंसक जिहाद के हिस्से के रूप में आतंकवादी कृत्यों को अंजाम देकर भारत में इस्लामी शासन स्थापित करने की साजिश रची।

एनआईए ने खुलासा किया कि गुरुवार को छापेमारी के दौरान, पीएफआई के कार्यालयों से कई आपत्तिजनक सामग्री जब्त की गई हैं। "जब्त किए गए दस्तावेजों में एक विशेष समुदाय के प्रमुख नेताओं को निशाना बनाने से संबंधित अत्यधिक आपत्तिजनक सामग्री भी शामिल है। एनआईए की चार्जशीट में 14 आरोपियों के नाम हैं, जिनमें पीएफआई मामले में मुख्य आरोपी है। 

Web Title: PFI India recruiter and radicaliser for global Islamic terror groups NIA

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे