'बिना आईडी प्रूफ गरबा कार्यक्रम में नहीं मिलेगी इजाजत', 'लव जिहाद' को लेकर मध्य प्रदेश की मंत्री की चेतावनी

By रुस्तम राणा | Published: September 8, 2022 05:57 PM2022-09-08T17:57:23+5:302022-09-08T17:57:23+5:30

राज्य सरकार में संस्कृति मंत्री, उषा ठाकुर ने राज्य में "लव जिहाद" की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए एक चेतावनी जारी की है, जिसमें कहा गया है कि सभी प्रतिभागियों को अब गरबा स्थलों में प्रवेश करने के लिए पहचान प्रमाण साथ लाना होगा।

No Garba Without ID Proof, Says Madhya Pradesh Minister | 'बिना आईडी प्रूफ गरबा कार्यक्रम में नहीं मिलेगी इजाजत', 'लव जिहाद' को लेकर मध्य प्रदेश की मंत्री की चेतावनी

'बिना आईडी प्रूफ गरबा कार्यक्रम में नहीं मिलेगी इजाजत', 'लव जिहाद' को लेकर मध्य प्रदेश की मंत्री की चेतावनी

Next
Highlightsसभी प्रतिभागियों को अब गरबा स्थलों में प्रवेश करने के लिए पहचान प्रमाण साथ लाना होगामंत्री ने कहा, "गरबा पंडाल लव जिहाद का माध्यम बन गए हैं, इसलिए जरूरी है ये कदम

ग्वालियर:नवरात्रि उत्सव से ठीक पहले, भाजपा शासित मध्य प्रदेश में संस्कृति मंत्री, उषा ठाकुर ने राज्य में "लव जिहाद" की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए एक चेतावनी जारी की है, जिसमें कहा गया है कि सभी प्रतिभागियों को अब गरबा स्थलों में प्रवेश करने के लिए पहचान प्रमाण साथ लाना होगा। मंत्री ने ग्वालियर में संवाददाताओं से कहा, "गरबा पंडाल लव जिहाद का माध्यम बन गए हैं। इसलिए अब बिना पहचान पत्र के प्रवेश नहीं मिलेगा।"

गरबा नवरात्रि के नौ दिवसीय हिंदू त्योहार के दौरान किया जाने वाला एक लोक नृत्य है। शिवराज सरकार की मंत्री ने कहा, आम तौर पर लोग और सभी सहयोगी संगठन इस बात से अवगत हैं कि गरबा पंडाल लव जिहाद का एक प्रमुख माध्यम बन गया है। इसलिए हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि कोई भी अपनी पहचान छुपाकर गरबा पंडाल में प्रवेश न करे। यह एक सलाह के साथ-साथ एक चेतावनी भी है। 

इससे पहले, 2014 में उषा ठाकुर ने यह कहते हुए एक विवाद जन्म दिया था कि वह मुसलमानों को गरबा में शामिल होने से रोकना चाहती हैं। उन्होंने अपने निर्वाचन क्षेत्र के सभी गरबा आयोजकों को एक पत्र का मसौदा तैयार करने की पहल की और उनसे मुस्लिम पुरुषों को नृत्य अनुष्ठान में भाग लेने पर प्रतिबंध लगाने और यहां तक कि उन्हें महिलाओं के साथ बातचीत करने से रोकने के लिए कहा था।

उन्होंने कथित तौर पर दावा किया था कि हर साल गरबा के दौरान, चार लाख से अधिक हिंदू लड़कियों को इस्लाम में परिवर्तित किया जाता है, हालांकि उनके दावों की पुष्टि करने के लिए कोई आधिकारिक आंकड़े नहीं हैं।

Web Title: No Garba Without ID Proof, Says Madhya Pradesh Minister

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे