lok sabha election 2019 mayawati says will pay back with interest if we form governmen | लोकसभा चुनाव 2019: बैन के बाद मायावती की धमकी, अगर सरकार बनी तो सूद के साथ करेंगे हिसाब
मायावती (फाइल फोटो)

बहुजन समाज पार्टी (बीसएसपी) की प्रमुख मायावती ने प्रचार करने पर लगे 48 घंटे के बैन के बाद चुनाव आयोग पर निशाना साधा है। मायावती ने चुनाव आयोग को दलित विरोधी बताते हुए कहा, 'मुझे भरोसा है कि लोग चुनाव आयोग के गुप्त एजेंडे को समझेंगे। यह आदेश असंवैधानिक है और गैर-लोकतांत्रिक है। मैं लोगों से अपली करती हूं कि वे बड़ी संख्या में सामने आये और मेरी आवाज बनें।' 

चुनाव आयोग ने मायावती पर 48 घंटे और यूपी के सीएम योदी आदित्यनाथ पर 72 घंटे के लिए प्रचार करने पर रोक लगाई है। इसके अलावा चुनावा आयोग ने मेनका गांधी और आजम खान पर भी ऐसी ही रोक लगाई है। मायावती ने अपने खिलाफ आये आदेश पर कहा कि यह जल्दी में लिया गया है और कहीं से प्रभावित है।

मायावती ने लखनऊ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'यह काले दिन के तौर पर याद किया जाएगा। यह आदेश दूसरे चरण के चुनाव के बाद लगाया जा सकता था। इस बैन से मुझे गठबंधन के वोटरों से अपील करने से रोका गया है। मैं चुनाव आयोग से कहती हूं कि वे अपने फैसले पर फिर विचार करें नहीं तो लोग ही बीजेपी को भविष्य में जवाब देंगे।'

दरअसल, पिछले सप्ताह मायावती ने अखिलेश यादव के साथ मिलकर देवबंद में एक रैली की थी। यहां उन्होंने मुस्लिमों से अपने वोट को न बंटने देने की बात कही थी। चुनाव आयोग ने इसे ही आचार संहिता का उल्लंघन माना है।

मायावती ने पीएम नरेंद्र मोदी पर कोई कार्रवाई नहीं करने के लिए भी चुनाव आयोग पर निशाना साधा। मायावती ने कहा, 'चुनाव आयोग के पास पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ कार्रवाई की हिम्मत नहीं है जो शहीदों के नाम पर वोट मांग रहे हैं। अगर हमें सरकार बनाने का मौका मिला तो सूद के साथ हिसाब करेंगे।'


Web Title: lok sabha election 2019 mayawati says will pay back with interest if we form governmen