ट्रक से जानबूझकर भिड़ा दी अपनी कार! 50 साल के पिता ने 12 साल के बेटे के साथ की 'आत्महत्या', जानिए क्या है पूरा मामला

By विनीत कुमार | Published: June 23, 2022 02:30 PM2022-06-23T14:30:18+5:302022-06-23T14:34:33+5:30

केरल में ट्रक में जानबूझकर अपनी कार भिड़ा कर कथित तौर पर आत्महत्या करने का मामला सामने आया है। पुलिस हालांकि पूरे केस में अभी जांच कर रही है।

Kerala: Man and son die in road accident, appears to be suicide | ट्रक से जानबूझकर भिड़ा दी अपनी कार! 50 साल के पिता ने 12 साल के बेटे के साथ की 'आत्महत्या', जानिए क्या है पूरा मामला

कार को ट्रक में भिड़ा कर पिता-पुत्र ने कर ली आत्महत्या! (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Next

तिरुवनंतपुरम: केरल में कथित तौर पर 'आत्महत्या' का एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। दरअसल, 50 वर्षीय व्यक्ति और उसके 12 साल के बेटे की मंगलवार रात अटिंगल में मामम ब्रिज के पास एनएच 66 पर एक ट्रक से कार की भिड़ंत में मौत हो गई थी। नट्टायम के पास वीटी नगर के रहने वाले प्रकाश देवराजन और उनका बेटा शिवदेव अपनी कार से तेज गति से कोल्लम की ओर जा रहे थे, इसी दौरान उनकी कार सामने से आ रही ट्रक से टकरा गई।  हालांकि अब ये आशंका है कि यह दुर्घटना जानबूझकर की गई थी और ये आत्महत्या है। 

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस को बताया कि कार तेज गति में थी और ट्रक से सीधे उसकी टक्कर हुई, जिससे यह आभास हुआ कि चालक दुर्घटना से आत्महत्या का प्रयास कर रहा था। कार से बरामद एक सुसाइड नोट और देवराजन द्वारा अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के बीच साझा किए गए फेसबुक और व्हाट्सएप संदेशों से भी आत्महत्या की संभावना को बल मिलता है।

सुसाइड नोट और सोशल मीडिया पोस्ट में देवराजन ने अपनी पत्नी शिवकला सहित पांच लोगों को उसे और उसके बेटे को आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का आरोप लगाया है। शिवकला बहरीन में डांस टीचर के तौर पर कार्यरत हैं। बताया जाता है कि पति-पत्नी के बीच तनावपूर्ण संबंध थे।

देवराजन के रिश्तेदारों ने बताया कि पिता और पुत्र मंगलवार को नेदुमंगडु के पास करीपुर में अपनी मां से मिलने गए थे और वे रात करीब 9 बजे पैतृक घर से निकल गए थे। हालांकि देवराजन की मां ने उससे एक या दो दिन के लिए लड़के को वहां छोड़ने को कहा था, लेकिन प्रकाश ने यह कहते हुए मना कर दिया कि शिवदेव को बुधवार को स्कूल जाना है। देवराजन ने इसके बाद रात 10.10 बजे सोशल मीडिया पोस्ट अपलोड किया। 

मैसेज देख उसके दोस्तों और रिश्तेदारों ने उनका पता लगाने की कोशिश की और पुलिस को भी सूचित किया लेकिन पुलिस उनका पता लगाने में नाकाम रही। दरअसल, रिश्तेदारों को कार के नंबर के बारे में जानकारी नहीं थी। वे केवल अंतिम टॉवर लोकेशन का पता लगा सके जो तिरुवनंतपुरम शहर की सीमा में रात करीब 10:12 बजे था। दुर्घटना में देवराजन की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि शिवदेव ने अस्पताल ले जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया।

देवराजन ने करीब 13 साल पहले तलाकशुदा शिवकला से शादी की थी। शिवकला को पहली शादी से एक बेटी थी, जिसका नाम काव्या (19) था। शादी के बाद काव्या अपने नए पिता देवराजन और शिवदेव के साथ रह रही थी। 

अटिंगल पुलिस थाने के एसएचओ ने कहा, 'हमने अभी तक उनके रिश्तेदारों और सुसाइड नोट में दिए नाम वाले लोगों से पूछताछ नहीं की है। दुर्घटना में उनकी संलिप्तता अगर है, तो हम उनसे पूछताछ के बाद पता लगा सकते हैं।' पुलिस ने मोटर वाहन की घटना के लिए धारा 306 (1) (सी) एमए के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

शवों को रिश्तेदारों को सौंप दिया गया और अंतिम संस्कार देवराजन के पैतृक घर नेदुमनगड में किया गया। देवराजन के रिश्तेदार प्रतापन ने कहा, 'कल रात जब वह अपनी मां के घर से निकला तो देवराजन खुश दिखाई दिए। केवल गहन जांच से ही मौतों के असली कारण का पता चल सकता है।'

पुलिस के अनुसार देवराजन का कोई भी करीबी उनकी मां या भाइयों सहित अन्य लोग उसके जीवन में चल रही समस्याओं से अवगत नहीं था। देवराजन एक बीमा एजेंसी में काम कर रहे थे और उनके साथियों ने बताया कि वह बहुत मिलनसार शख्स थे।

Web Title: Kerala: Man and son die in road accident, appears to be suicide

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे