jharkhand Khunti gang rape: Father Alfonso include 6 people get life imprisonment | खूंटी: 5 लड़कियों से गैंगरेप मामले में फादर अल्फांसो समेत सभी 6 आरोपी को आजीवन कारावास की सजा
प्रतीकात्मक तस्वीर

Highlightsइस मामले पर भाजपा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस हमेशा से ही इस मामले पर रोटी सेंकने की कोशिश कर रही थी.आरसी मिशन स्कूल से पांच लड़कियों को अगवा कर लिया गया था और जंगल ले जाकर उनके साथ गैंगरेप किया गया

झारखंड के खूंटी जिले के कोचांग गांव में पांच लड़कियों से सामूहिक दुष्कर्म की घटना में फादर अल्फांसो समेत सभी 6 दोषियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है. कोर्ट ने 7 मई को उन्हें दोषी करार दिया था. न्यायाधीश राजेश कुमार की अदालत ने यह फैसला सुनाया है. इस फैसले के खिलाफ अभियुक्त पक्ष ऊपरी अदालत जा सकते हैं. इससे पहले मंगलवार को सजा के बिंदु पर बहस पूरी हुई थी. उस दौरान अभियुक्त पक्ष की ओर से कम से कम सजा की मांग की गई थी. वहीं अभियोजन की तरफ से ज्यादा से ज्यादा सजा देने के लिए दलीलें रखी गईं.

पांच लड़कियों को अगवा कर जंगल ले जाकर उनके साथ गैंगरेप किया गया

इससे पहले 7 मई को खूंटी कोर्ट ने इस मामले में आरोपी फादर अल्फांसो आइंद समेत 6 आरोपियों को दोषी करार दिया. मामले में 19 लोगों की गवाही हुई. गवाह, पीड़िताओं के बयान और मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर आरोपियों को दोषी करार दिया गया. कोर्ट ने फादर अल्फांसो को घटना का साजिशकर्ता माना. इस मामले में फादर अल्फांसो के अलावा जॉन जोनस टुडू, बलराम समद, बाजी समद उर्फ टकला, जोनास मुंडा, अजुब सांडी पूर्ति को दोषी करार दिया. वहीं एक आरोपी नियल सांडी पूर्ति फरार चल रहा है. उल्लेखनीय है कि पिछले साल 19 जून को खूंटी के अडकी प्रखंड के कोचांग गांव में आरसी मिशन स्कूल से पांच लड़कियों को अगवा कर लिया गया था और जंगल ले जाकर उनके साथ गैंगरेप किया गया. इस दौरान उनका वीडियो भी बनाया गया. स्कूल के प्रिंसिपल फादर अल्फांसो आइंद की मौजदगी में ही इन लड़कियों को उठाया गया था. बाद में उन्हें पुलिस ने घटना की जानकारी नहीं देने के आरोप में गिरफ्तार किया था.

पीड़ित लड़कियां एक नाटक मंडली का हिस्सा थीं

पीड़ित लड़कियां एक नाटक मंडली का हिस्सा थीं और मानव तस्करी के खिलाफ जागरुकता फैलाने के लिए नुक्कड़ नाटक करने कोचांग पहुंची थीं. नुक्कड़ नाटक के दौरान ही दो मोटरसाइकिलों पर सवार पांच लोग वहां पहुंचे और सभी को उनकी ही कार में बैठाकर जबरन जंगल की ओर लेकर चले गए. जहां पहले लड़कियों के साथ गैंगरेप किया गया. इनके पुरुष साथियों को पेशाब पिलाया गया. इस गैंगरेप की घटना ने पूरे राज्य में दहशत फैला दी थी. गैंगरेप के इस मामले में पुलिस ने पीएलएफआई सदस्य और मुख्य आरोपी बाजी समद उर्फ टकला, रोमन कैथोलिक चर्च के पादरी अल्फांसो सहित दो अन्य आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था. आरोपी बलराम समद ने पूछताछ में माना था कि उसने और अन्य लोगों ने जुनस और बलराम के कहने पर लडकियों के साथ गैंगरेप किया था. खूंटी-कोचांग गैंगरेप की घटना के बाद से कोचांग गांव में लंबे समय तक तनाव की स्थिति बनी हुई थी. ग्रामीणों और पुलिस के बीच झडप की कई घटनाएं हुई. झड़प की घटनाओं की वजह से भगदड़ भी हो गई थी. ग्रामीणों ने भाजपा सांसद कडिया मुंडा के घर पर हमला कर उनके तीन सुरक्षा गार्डों को अगवा कर लिया था.

मामले पर न्यायालय के फैसले का भाजपा ने स्वागत किया है

वहीं, इस मामले पर न्यायालय के फैसले का भाजपा ने स्वागत किया है. भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि गैंगरेप मामले पर खूंटी न्यायालय ने फादर अल्फांसो सहित आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है. ये फैसला स्वागत योग्य है. कोर्ट के फैसले का भाजपा सम्मान करती है. उन्होंने यह भी कहा कि सामूहिक दुष्कर्म जैसी घिनौनी हरकत पर फांसी की सजा बहुत कम है. वहीं, इस मामले पर भाजपा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस हमेशा से ही इस मामले पर रोटी सेंकने की कोशिश कर रही थी. मामले के मुख्य साजिशकर्ता फादर अल्फांसो की पैरवी करने वाली कांग्रेस के शीर्ष प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य सचिव और डीजीपी से मुलाकात की थी. उस समय भी भाजपा ने मामले पर निंदा करते हुए कहा था कि मामले की पूरी जांच होने के बाद पूरा स्पष्ट हो जाएगा और आज इस तरह से खूंटी न्यायालय ने फादर समेत सात आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है. ये फैसला स्वागत योग्य है.


Web Title: jharkhand Khunti gang rape: Father Alfonso include 6 people get life imprisonment
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे