Jharkhand Hotspot Hindpiri causing trouble, High Court notice, people were leaving the streets in violation of law | झारखंड: हॉटस्पॉट हिंदपीढ़ी बना परेशानी का सबब, हाईकोर्ट का नोटिस, कानून का उल्लंघन कर सड़कों पर निकल रहे थे लोग
झारखंड: हॉटस्पॉट हिंदपीढ़ी बना परेशानी का सबब, हाईकोर्ट का नोटिस, कानून का उल्लंघन कर सड़कों पर निकल रहे थे लोग

Highlights हिंदपीढ़ी इलाके में 15 अप्रैल को जो कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला था।इस तरह जमात के और उनके माध्यम से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या 25 हो गई है. 

रांची: झारखंड की राजधानी रांची का हिंदपीढ़ी इलाका आजकल सरकार के लिए सबसे चिंता का विषय बना हुआ है. हालात यह है कि हिंदपीढ़ी की स्थिती को देखते हुए झारखंड हाईकोर्ट को भी इसमें दखल देना पड़ा है. झारखंड हाइकोर्ट ने हिंदपीढ़ी में लोगों के सड़कों पर निकलने के मामले को गंभीरता से लिया है. कोर्ट ने इस मामले में राज्य के मुख्य सचिव को नोटिस जारी किया है.

हाइकोर्ट ने रांची में लॉकडाउन के दौरान कोरोना वायरस के ‘हॉट स्पॉट’ हिंदपीढ़ी से लोगों के सडक पर निकलने और शहर के दूसरे इलाकों में जाने को समाज के लिए खतरा बताया है तथा इस मामले का स्वतः संज्ञान लेते हुए राज्य के मुख्य सचिव एवं अन्य को नोटिस जारी कर कल 17 अप्रैल को जवाब देने का निर्देश दिया है. 

झारखंड हाइकोर्ट के न्यायाधीश संजय कुमार द्विवेदी ने दो स्थानीय अखबारों में रांची के हिंदपीढ़ी इलाके के लोगों के लॉकडाउन का उल्लंघन कर शहर के दूसरे इलाकों में जाने की खबरों का स्वतः संज्ञान लेते हुए इस मामले की सुनवाई की और नोटिस जारी किये.

कोर्ट ने कहा कि जिन इलाकों में कोरोना वायरस के मरीज मिल रहे हैं, वहां नियमों का पालन नहीं किया जाना गंभीर मामला है. कोर्ट ने कहा कि लॉकडाउन का पूरी सख्ती से पालन होना चाहिए. उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों से कोरोना वायरस के संक्रमण की वृद्धि दर के मुताबिक तीन श्रेणियों में बांटे गये जिलों में सघन संक्रमण रोधी अभियान चलाने को कहा है.

यहां बता दें कि रांची के हिंदपीढ़ी इलाके में कोरोना वायरस से अबतक 14 संक्रमित मरीज मिले हैं. जबकि पूरे प्रदेश में ऐसे लोगों की संख्या 28 हो गई है. हिंदपीढ़ी इलाके में 15 अप्रैल को जो कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला था, उसका संबंध तबलीगी जमात से बताया गया है. इस तरह जमात के और उनके माध्यम से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या 25 हो गई है. 

रांची स्थित राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) के निदेशक डॉ डीके सिंह ने बताया था कि संक्रमित व्यक्ति तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल होकर रांची लौटे लोगों के संपर्क में आने से ही संक्रमित हुआ है. इसबीच यह भी बताया जा रहा है कि रांची के मेन रोड स्थित एक अपार्टमेंट में रहने वाले नए कोरोना पॉजिटिव विधानसभा का निर्दलीय चुनाव लड चुके हैं. वह पेशे से ठेकेदार हैं. वह एकरा मस्जिद में नमाज अदा करने जाते थे. इस लॉकडाउन में उन्होंने गरीबों के बीच फल एवं भोजन का भी वितरण किया है. 

उनसे संपर्क में आनेवाले सैकड़ों लोगों के संक्रमण का खतरा है. वहीं, वह जिस अपार्टमेंट में रहते हैं, उसमें 16 फ्लैट्स हैं. अपार्टमेंट में करीब 100 लोग रहते हैं. उनके अपार्टमेंट में रहने वालों पर भी संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है. प्रशासन ने आज पूरे अपार्टमेंट के लोगों को क्वारंटान के लिए भेज दिया है. इसके साथ ही सभी का सैंपल लिया गया है.

Web Title: Jharkhand Hotspot Hindpiri causing trouble, High Court notice, people were leaving the streets in violation of law
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे