in UP Life slowly started returning to the track during the lockdown people happy | लॉकडाउन में ढील के दौरान यूपी में धीरे धीरे पटरी पर लौटने लगी जिंदगी, लोगों में दिखी खुशी
बस में ड्राइवर और कंडक्टर हाथों में दस्ताने और मुंह पर मास्क लगाये हुये थे। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Highlightsयूपी में धीरे धीरे पटरी पर जिंदगी लौटने लगी, जिसके बाद लोग काफी खुश हैं। उत्तर प्रदेश में सोमवार सुबह से ही उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की प्रदेश के अंदर चलने वाली बस सेवायें शुरू हुई हैं।

लखनऊ: लखनऊ के आलमबाग बस अड्डे के मुख्य द्वार पर सोमवार को भाष्कर सिंह 'इलाहाबाद इलाहाबाद इलाहाबाद' की आवाज सुनकर काफी खुश हुये क्योंकि वह होली के बाद अपने आफिस के काम से पहली बार प्रयागराज जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश में सोमवार सुबह से ही उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की प्रदेश के अंदर चलने वाली बस सेवायें शुरू हुई हैं। थर्मल स्कैनिंग के बाद भाष्कर बस में बैठे और उन्होंने एक राहत भरी सांस ली और बस अड्डे छोड़ने आये अपने भाई का हाथ हिलाकर अभिवादन किया।

बस में ड्राइवर और कंडक्टर हाथों में दस्ताने और मुंह पर मास्क लगाये हुये थे। परिवहन निगम ने सभी यात्रियों को भी मास्क पहनने के निर्देश दिये थे और सभी यात्री अपना मुंह ढके हुये भी थे। उप्र परिवहन निगम के क्षेत्रीय प्रबंधक पी के बोस ने बताया कि ''सोमवार को प्रदेश की बस सेवायें फिर से शुरू हो गयीं और लखनऊ के आलमबाग बस अड्डे से 40 बसें प्रदेश के विभिन्न स्थानों के लिये निकली जिनमें प्रयागराज, सुल्तानपुर, प्रतापगढ़ शामिल हैं। प्रयागराज के लिये पहली बस सुबह साढ़े आठ बजे निकली।

'' उप्र राज्य सड़क परिवहन निगम द्वारा जारी एक बयान में बताया गया कि लखनऊ के तीन बस अड्ंडो आलमबाग, कैसरबाग और चारबाग में बस सेवायें शुरू हो गयी हैं। चारबाग से कानपुर मार्ग की बसें, कैसरबाग से सीतापुर, लखीमपुर, गोला, हरदोई, बहराइच, गोंडा और बलरामपुर की बसें रवाना हुईं। बोस ने बताया कि आलमबाग बस अड्डे से प्रयागराज, रायबरेली, लालगंज, फतेहपुर, सुल्तानपुर, आगरा, मथुरा, झांसी, बांदा, हमीरपुर,प्रतापगढ़, गोरखपुर, आजमगढ़ और गाजियाबाद के लिए बसें चल रही हैं।

शहर के बाजारों में आज कुछ रौनक नजर आयी। शहर के मुख्य बाजारों, हजरतगंज, लालबाग, गुडंबा, हीवेट रोड, मॉडल हाउस, मकबूलगंज, इंदिरानगर आदि इलाकों में दुकानें खुली नजर आयी और दुकानदार अपनी दुकानें साफ करते नजर आये ताकि इतने दिनों से ठप्प पड़े रोजगार को एक बार फिर से पटरी पर लाया जा सके। लेकिन अभी भी बाजारों में भारी भीड़ देखने को नहीं मिली। बांदा से प्राप्त खबर के मुताबिक सोमवार को बाजारों में दुकानें खुलने लगी और रोडवेज की बसों का संचालन शुरू हो गया ।

कोराना वायरस के कारण लॉकडाउन का चौथा चरण रविवार को समाप्त हो गया और अब जिंदगी धीरे धीरे पटरी पर लाने के प्रयास सरकार द्वारा शुरू कर दिये गये हैं। उधर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारत सरकार के दिशानिर्देशों का पूरी तरह पालन सुनिश्चित कराते हुए अनलॉक व्यवस्था के प्रभावी संचालन के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि पूरी सावधानी और सर्तकता बरतते हुए सभी आर्थिक, व्यावसायिक एवं औद्योगिक गतिविधियों का संचालन कराया जाए। बाजारों में भीड़ एकत्र होने के दृष्टिगत उन्होंने सुरक्षा और गश्त की प्रभावी व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने हाई-वे, बाजारों तथा पार्कों में सघन गश्त करने के निर्देश देते हुए कहा कि सभी जगह एकदूसरे से दूरी बनाये रखने के नियम का पूर्ण पालन कराया जाए। 

Web Title: in UP Life slowly started returning to the track during the lockdown people happy
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे