दैनिक भास्कर पर आयकर छापाः केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर बोले- "एजेंसियां अपना काम करती हैं, हम दखल नहीं देते"

By सतीश कुमार सिंह | Published: July 22, 2021 08:12 PM2021-07-22T20:12:17+5:302021-07-22T20:32:26+5:30

मीडिया समूहों ‘दैनिक भास्कर’ और ‘भारत समाचार’ पर आयकर के छापों को लेकर विपक्षी दलों के आरोपों के बीच सरकार ने जवाब दिया।

I-T raids on Dainik Bhaskar Anurag Thakur denies govt interference, says ‘agencies are doing their job’ | दैनिक भास्कर पर आयकर छापाः केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर बोले- "एजेंसियां अपना काम करती हैं, हम दखल नहीं देते"

सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने ठाकुर ने कहा कि सभी को पूरी जानकारी होनी चाहिए।

Next
Highlightsकेंद्रीय मंत्री ने कहा कि पूरी जानकारी जरूर लेनी चाहिए।दैनिक भास्कर के खिलाफ कई शहरों में छापेमारी की गई। मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, दिल्ली, राजस्थान और गुजरात में कई स्थानों पर तलाशी ली गई।

नई दिल्लीः आयकर विभाग द्वारा कथित कर चोरी को लेकर मीडिया समूह दैनिक भास्कर के खिलाफ कई शहरों में छापेमारी की गई। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने गुरुवार को कहा कि एजेंसियां ​​अपना काम कर रही हैं और इसमें कोई हस्तक्षेप नहीं है।

सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने ठाकुर ने कहा कि सभी को पूरी जानकारी होनी चाहिए और इसकी अनुपस्थिति में कई बार ऐसे मुद्दे सामने आते हैं जो सच्चाई से कोसों दूर होते हैं। विपक्षी कांग्रेस के आरोप पर सवाल का जवाब देते हुए कहा कि विपक्ष का काम है, ऐसे प्रचार करते रहना। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पूरी जानकारी जरूर लेनी चाहिए।

महाराष्ट्र, दिल्ली, राजस्थान और गुजरात में कई स्थानों पर तलाशी

हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से सांसद ठाकुर ने कहा कि कई बार जानकारी के अभाव में भी बहुत सारे विषय ऐसे आते हैं जो सत्य से परे होते हैं। दैनिक भास्कर के खिलाफ कई शहरों में छापेमारी की थी। मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, दिल्ली, राजस्थान और गुजरात में कई स्थानों पर तलाशी ली गई।

इसके बाद, दैनिक भास्कर ने अपनी वेबसाइट पर एक संदेश पोस्ट किया, जिसमें कहा गया था कि सरकारी छापे इसके खिलाफ आए हैं, क्योंकि इसने “कोविड -19 की दूसरी लहर के दौरान देश के सामने सरकार की अक्षमता की सच्ची तस्वीर पेश की।” इसने कहा कि कई कर्मचारियों के आवासों पर छापे मारे गए।

कार्यालयों में मौजूद लोगों के मोबाइल फोन जब्त

कार्यालयों में मौजूद लोगों के मोबाइल फोन जब्त कर लिए गए और उन्हें बाहर नहीं जाने दिया जा रहा था। दैनिक भास्कर समूह ने कोविड -19 महामारी की दूसरी लहर में हुई मौतों और गंगा नदी के किनारे फेंके जा रहे शवों पर कहानियों की एक श्रृंखला बनाई थी।

गौरतलब है कि आयकर विभाग ने कर चोरी के आरोपों में दो प्रमुख मीडिया समूहों - ‘दैनिक भास्कर’ और उत्तर प्रदेश के हिंदी समाचार चैनल ‘भारत समाचार’ के विभिन्न शहरों में स्थित परिसरों पर बृहस्पतिवार को छापे मारे गये।

कितना और गला घोटेंगे मीडिया का ?

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि दैनिक भास्कर के मामले में छापेमारी भोपाल, जयपुर, अहमदाबाद और कुछ अन्य स्थानों पर की जा रही है। ‘दैनिक भास्कर’ और ‘भारत समाचार’ पर आयकर के छापों पर कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘‘ कितना और गला घोटेंगे मीडिया का ? कितनी और दबिश मानेगा मीडिया ? कब तक सच पर सत्ता की बेड़ियां रहेंगी ?’’

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ‘दैनिक भास्कर’ और ‘भारत समाचार’ पर आयकर के छापों को मीडिया को डराने की कोशिश बताते हुए मांग की कि ऐसी कार्रवाई तुरंत रुकनी चाहिए और मीडिया को स्वतंत्र तरीके से काम करने देना चाहिए।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया, “पत्रकारिता पर मोदी शाह का प्रहार!! मोदी शाह का एकमात्र हथियार आईटी, ईडी, सीबीआई। मुझे विश्वास है अग्रवाल बंधु डरेंगे नहीं। दैनिक भास्कर के विभिन्न ठिकानों पर आयकर जांच शाखा की छापामार कार्रवाई शुरू....प्रेस कॉन्प्लेक्स सहित आधा दर्जन स्थानों पर मौजूद है आयकर की टीम।” 

Web Title: I-T raids on Dainik Bhaskar Anurag Thakur denies govt interference, says ‘agencies are doing their job’

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे