Corona virus Delhi lockdown Sikkim hit Corona, first case of covid-19 revealed, student positive returned from Delhi | सिक्किम भी कोरोना चपेट में, कोविड-19 का पहला मामला सामने आया, दिल्ली से लौटा छात्र पॉजिटिव
सिक्किम में अभी तक कोरोना वायरस का कोई मामला सामने नहीं आया है। (file photo)

Highlightsछात्र के नमूने को जांच के लिए सिलिगुड़ी स्थित उत्तर बंगाल चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल भेजा गया था। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने इन लोगों को पृथक केंद्रों में भेजे जाने से पहले उनकी जांच की।

गंगटोकः सिक्किम में शनिवार को कोविड-19 का पहला मामला आया। वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमित मिला व्यक्ति 25 वर्षीय छात्र है और हाल में दिल्ली से लौटा था।

स्वास्थ्य विभाग के महानिदेशक सह सचिव पेम्पा शेरिंग भूटिया ने पत्रकारों को बताया कि छात्र के नमूने को जांच के लिए सिलिगुड़ी स्थित उत्तर बंगाल चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल भेजा गया था। रिपोर्ट आने पर उसके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई।

उन्होंने बताया कि छात्र दक्षिण सिक्किम के रबांग्ला का रहने वाला है और उसका सर थूतोब नामग्याल स्मारक अस्पताल में इलाज चल रहा है। भूटिया ने बताया कि छात्र दिल्ली में रहकर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा था।

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे कुल 169 लोग सिक्किम लौट आए हैं। इसके साथ ही राज्य में अब तक लौटने वालों की संख्या 1,122 हो गई है। एक अधिकारी ने बताया कि इन निवासियों को मंगलवार को पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल में सिलीगुड़ी से सरकारी बसों में लाया गया।

उन्होंने बताया कि 106 लोग रंगपो जांच चौकी से और 66 मेल्ली प्रवेश केन्द्र से आए। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने इन लोगों को पृथक केंद्रों में भेजे जाने से पहले उनकी जांच की। राज्य के बाहर फंसे कुल 6,922 लोगों ने अपने घर लौटने के लिए सरकार के पोर्टल पर पंजीकरण कराया है। सिक्किम में अभी तक कोरोना वायरस का कोई मामला सामने नहीं आया है।

नाम का घालमेल होने पर गुजरात में कोविड-19 मरीज को गलती से छुट्टी दे दी गयी

गुजरात के अहमदाबाद में तब असहज करने वाला एक बड़ा घालमेल हो गया जब कोरोना वायरस के एक मरीज को निगेटिव रिपोर्ट के आधार पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी जबकि यह रिपोर्ट उसी के नाम के एक अन्य व्यक्ति की थी। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। नगर निकाय के सरदार वल्लभभाई पटेल अस्पताल के प्रशासन ने शनिवार को यह गलती स्वीकार की और माफीनामा जारी किया। अस्पताल प्रशासन ने कहा कि यह मानवीय भूल तुरंत सुधार ली गयी तथा अस्पताल से छुट्टी दे दिये गये व्यक्ति को कुछ ही घंटे में वापस लाकर भर्ती कर लिया गया। अस्पताल ने एक बयान में कहा,‘‘ बृहस्पतिवार को अस्पताल को एक ही नाम के दो मरीजों के नमूनों की पांच घंटे के अंतराल में रिपोर्ट मिलीं।

अस्पताल को दो बजे जो पहली रिपोर्ट मिली, वह निगेटिव थी, उसके आधार पर इन दोनों में से एक को छुट्टी दे दी गयी।’’ उसने कहा, ‘‘ उसी नाम के दूसरे मरीज के नमूने की रिपोर्ट शाम करीब सात बजे मिली और उसमें संक्रमण मिला था। दूसरी रिपोर्ट मिलने के बाद ही अहसास हुआ कि जिस मरीज को दोपहर में अस्पताल से छुट्टी दी गयी थी, वाकई उसी में ही कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई थी।’’ उसने कहा कि मानवीय भूल का पता चलने पर, छुट्टी पाने वाले मरीज को सूचित किया गया और तत्काल उसे वापस अस्पताल लाने के लिए एम्बुलेंस भेजा गया।

बयान के अनुसार अस्पताल प्रबंधन ने सख्त शब्दों में मेडिकल टीम को ऐसे मामलों में विशेष सावधानी बरतने का निर्देश दिया। अस्पताल ने यह भी कहा कि उसके यहां अबतक कोविड-19 के 4131 मरीजों का इलाज हुआ है। शनिवार सुबह तक अहमदाबाद शहर में कोविड-19 के 9,577 मामले सामने आये थे। उनमें से 638 मरीजों की मौत हो गयी। फिलहाल 5190 मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

 

इनपुट भाषा से

 

 

 

 

Web Title: Corona virus Delhi lockdown Sikkim hit Corona, first case of covid-19 revealed, student positive returned from Delhi
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे