एंकर रोहित रंजन ने गिरफ्तारी से बचने के लिए सुप्रीम कोर्ट में लगाई 'तत्काल सुनवाई' की गुहार

By आशीष कुमार पाण्डेय | Published: July 6, 2022 03:35 PM2022-07-06T15:35:08+5:302022-07-06T15:39:25+5:30

सुप्रीम कोर्ट में एंकर रोहित रंजन की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता सिद्धार्थ लूथरा ने याचिका दायर करते हुए कोर्ट से कहा कि रोहित रंजन को बीते मंगलवार को नोएडा पुलिस ने गिरफ्तार किया था और बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया था और अब छत्तीसगढ़ पुलिस उन्हें गिरफ्तार करना चाहती है। ऐसे में कोर्ट मामले की फौरन सुनवाई करे।

Anchor Rohit Ranjan pleads for 'immediate hearing' in Supreme Court to avoid arrest | एंकर रोहित रंजन ने गिरफ्तारी से बचने के लिए सुप्रीम कोर्ट में लगाई 'तत्काल सुनवाई' की गुहार

एंकर रोहित रंजन ने गिरफ्तारी से बचने के लिए सुप्रीम कोर्ट में लगाई 'तत्काल सुनवाई' की गुहार

Next
Highlightsजी न्यूज के पत्रकार रोहित रंजन ने सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के लिए दायर की याचिका वकील सिद्धार्थ लूथरा ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि छत्तीसगढ़ पुलिस रोहित को गिरफ्तार कर सकती है

दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट बुधवार को जी न्यूज के पत्रकार रोहित रंजन की दाखिल याचिका पर सुनवाई के लिए 6 जुलाई को सहमत हो गया है। एंकर रोहित रंजन की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता सिद्धार्थ लूथरा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करते हुए कोर्ट से कहा कि रोहित रंजन को बीते मंगलवार को नोएडा पुलिस ने गिरफ्तार किया था और बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया था और अब छत्तीसगढ़ पुलिस उन्हें गिरफ्तार करना चाहती है।

इसके साथ ही लूथरा ने कोर्ट के सामने यह भी कहा कि माननीय सर्वोच्च आदालत मामले की तत्काल सुनवाई करे क्योंकि रोहित रंजन ने राहुल गांधी के खिलाफ जो खबर दिखाई थी, उसके विषय में वो पहले ही खेद जता चुके हैं लेकिन उसके बावजूद उनके खिलाफ कई राज्यों में प्राथमिकी दर्ज की गई है। जिस कारण आशंता है कि उन्हें विभिन्न राज्य पुलिस द्वारा बार-बार हिरासत में रखा जा सकता है।

सुप्रीम कोर्ट की जस्टिस इंदिरा बनर्जी और जस्टिस जेके माहेश्वरी की वेकेशन बेंच ने इस मामले को कल लिस्ट करने को कहा, हालांकि कुछ समय के बाद एडवोकेट-ऑन-रिकॉर्ड ने स्पष्ट किया कि रोहित रंजन की याचिका लिस्ट हो चुकी है।

एडवोकेट-ऑन-रिकॉर्ड की दलील पर जस्टिस बनर्जी ने पूछा "आखिर यह क्या है" और कहा, "सिर्फ इसलिए कि आपने एक परीक्षा उत्तीर्ण की और एक गाउन पहन लिया, आप अदालत में पेश होने लगे हैं।" यह याचिका अभी रिकॉर्ड में नहीं है और अभी तक दायर भी नहीं की गई है।

सुप्रीम कोर्ट के वेकेशन बेंच के जजों के सख्त रूख को देखकर वरिष्ठ अधिवक्ता सिद्धार्थ लूथरा ने फौरन एडवोकेट-ऑन-रिकॉर्ड के लिए बेंच से माफी मांग ली।

मालूम हो कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी पर जी न्यूज के प्राइम टाइम शो में एक भ्रामक वीडियो के प्रसारण के बाद एंकर रोहित रंजन समेच जी न्यूज के शीर्ष अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज होने और कोर्ट से वारंट जारी होने के बाद छत्तीसगढ़ पुलिस मंगलवार को उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में एंकर रोहित रंजन को गिरफ्तार करने के लिए उनके आवास पर पहुंची।

हालांकि, एंकर रोहित रंजन ने उसी दौरान मुक्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ यूपी पुलिस को ट्वीट करते हुए पोस्ट किया, "छत्तीसगढ़ पुलिस स्थानीय पुलिस को सूचित किए बिना मुझे गिरफ्तार करने के लिए मेरे घर के बाहर खड़ी है, क्या यह कानूनी है।"

जिसके जवाब में रायपुर पुलिस ने ट्वीट किया, "सूचित करने के लिए ऐसा कोई नियम नहीं है। फिर भी, आपको कार्रवाई से पहले सूचित किया गया है। पुलिस टीम ने आपको कोर्ट का गिरफ्तारी वारंट दिखाया है। आप टीम का सहयोग करें, जांच में शामिल हों और अपने बचाव में अपना तर्क अदालत में रखें।"

यूपी और छत्तीसगढ़ पुलिस के बाच रोहित रंजन की गिरफ्तारी को लेकर नूराकुश्ती चलने लगी। इस बीच नोएडा के एडीसीपी ने कहा, ''एंकर रोहित रंजन के खिलाफ थाना सेक्टर 20 में दर्ज जांच के क्रम में पूछताछ की जा रही है।''

1 जुलाई को रोहित रंजन ने विवादित कार्यक्रम पेश किया था और 2 जुलाई को रंजन ने अपने उसी शो में कहा था, ''कल हमारे शो डीएनए में राहुल गांधी के बयान को उदयपुर की घटना से जोड़कर गलत संदर्भ में लिया गया, यह मानवीय भूल थी, जिसके लिए हमारी टीम माफी मांगती है।'' (समाचार एजेंसी एएनआई के इनपुट के साथ)

Web Title: Anchor Rohit Ranjan pleads for 'immediate hearing' in Supreme Court to avoid arrest

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे