ठाणे निवासी को थाईलैंड में कंपनी ने बनाया बंधक-कर रहा प्रताड़ित, पीड़ित के भाई का आरोप- रिहा के लिए मांग रहे 3000 अमेरीकी डॉलर फिरौती

By भाषा | Published: October 13, 2022 03:26 PM2022-10-13T15:26:55+5:302022-10-13T15:50:06+5:30

पुलिस से शिकायत में पीड़ित के भाई ने यह आरोप लगाया गया है कि कंपनी ने पीड़ित से लोगों को क्रिप्टोकरंसी खरीदने के लिए राजी करने और फर्जी सोशल मीडिया प्रोफाइल का इस्तेमाल कर उन्हें धोखा देने के लिए भी कहा जाता है।

Thane resident aashish dubey abduct harassed Thailand company threatened release ransom USD 3000 | ठाणे निवासी को थाईलैंड में कंपनी ने बनाया बंधक-कर रहा प्रताड़ित, पीड़ित के भाई का आरोप- रिहा के लिए मांग रहे 3000 अमेरीकी डॉलर फिरौती

फोटो सोर्स: Wikipedia CC

Next
Highlightsठाणे के एक निवासी को थाईलैंड में बंधक बनाने और प्रताड़ित करने का मामला सामने आया है। पीड़ित के भाई ने यह आरोप लगाया है कि उसे छोड़ने के लिए 3000 अमेरीकी डॉलर की फिरौती मांगी जा रही है। आरोप यह भी है कि उसे परिवार से संपर्क भी नहीं करने दिया जा रहा है।

मुंबई: महाराष्ट्र के ठाणे शहर के एक व्यक्ति ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि उसके छोटे भाई को उसकी नियोक्ता कंपनी ने पिछले एक महीने से थाईलैंड में बंदी बनाकर रखा है। बताया जा रहा है कि वे लोग उसे मुक्त करने के लिए 3,000 डॉलर की मांग भी कर रहे है। 

अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी है। आपको बता दें कि 31 साल के पीड़ित आशीष दुबे भी ठाणे का रहने वाला है और वह 12 सितंबर को थाईलैंड गया था। 

क्या है पूरा मामला

आशीष के भाई ने कहा कि थाईलैंड जाने के बाद से कंपनी उसे मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित कर रही है। उसने आरोप लगाया कि कंपनी एक तय लक्ष्य को पूरा करने के लिए पीड़ित को लोगों से संपर्क करने और उन्हें क्रिप्टोकरेंसी खरीदने के लिए राजी करने को मजबूर कर रही है। 

शिकायकर्ता ने कहा कि उसके भाई को अपने परिवार से संपर्क करने की अनुमति नहीं है। 

श्रीनगर थाने में थाई नागरिक के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है

अधिकारी ने बताया कि पीड़ित के बड़े भाई की शिकायत के आधार पर शहर के वागले एस्टेट खंड के श्रीनगर थाने में एक थाई नागरिक के खिलाफ धोखाधड़ी और रंगदारी का मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता ने इस मुद्दे को विदेश मंत्रालय और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) के समक्ष भी उठाया है। 

गौरतलब है कि शिकायतकर्ता ठाणे में एक व्यक्ति के संपर्क में आया था, जिसने उसे थाईलैंड में नौकरी के कुछ अवसरों के बारे में बताया था। 

1,000 अमेरीकी डॉलर के वेतन का दिया था लालच

पुलिस ने शिकायत के हवाले से कहा, “शिकायतकर्ता अपने भाई के लिए नौकरी की तलाश कर रहा था। उसने व्यक्ति से इस संबंध में और जानकारी मांगी, जिसने बताया कि थाईलैंड की एक कंपनी में नौकरी उपलब्ध है और उसे प्रति माह 1,000 अमेरीकी डॉलर का वेतन मिलेगा।” 

पीड़ित को एक भारतीय और एक चीनी के साथ नौकरी मिली थी

शिकायत के अनुसार, “पीड़ित का साक्षात्कार किया गया और बाद में कंपनी द्वारा उसे डिजिटल मार्केटिंग की नौकरी के लिए चुना गया। कंपनी ने पीड़ित को वीजा और हवाई यात्रा का टिकट भेजा। आशीष को मुंबई के एक व्यक्ति और चीन के एक अन्य व्यक्ति के साथ नौकरी मिली थी।” 

पुलिस अधिकारी ने शिकायत के हवाले से कहा, ‘‘आशीष ने 12 सितंबर को थाईलैंड के लिए उड़ान भरी और मुंबई के उस व्यक्ति के साथ वहां पहुंचने के बाद उसे एक अज्ञात स्थान पर ले जाया गया। दोनों को वादे के मुताबिक डिजिटल मार्केटिंग का काम भी नहीं दिया गया।’’ 

फर्जी कॉल सेंटर में दी गई है नौकरी, करवाया जा रहा है यह काम

शिकायत के मुताबिक, “आशीष को एक ऐसी कंपनी ने नौकरी पर रखा था, जो एक फर्जी कॉल सेंटर चलाती थी। वहां पीड़ित को महिलाओं के नाम पर फर्जी सोशल मीडिया अकाउंट बनाने के लिए कहा गया था।” 

शिकायत में आरोप लगाया गया है कि कंपनी ने पीड़ित से लोगों को क्रिप्टोकरंसी खरीदने के लिए राजी करने और फर्जी सोशल मीडिया प्रोफाइल का इस्तेमाल कर उन्हें धोखा देने के लिए भी कहा है। 

पीड़ित को मानसिक और शारीरिक रूप से किया जा रहा है प्रताड़ित

शिकायतकर्ता ने दावा किया है पीड़ित को मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया गया और कंपनी द्वारा दिए गए लक्ष्य को पूरा करने के लिए मजबूर किया गया। पुलिस अधिकारी ने शिकायत के हवाले से कहा कि कंपनी के सुरक्षाकर्मियों ने पीड़ित को अपने परिवार से संपर्क नहीं करने दिया और कंपनी में ही बंधक बना लिया। 

आरोपी फिरौती के तौर पर 3 हजार अमेरीकी डॉलर की कर रहे है मांग

अधिकारी के अनुसार, पीड़ित किसी तरह एक बार परिजनों से संपर्क करने में कामयाब रहा और उन्हें अपनी आपबीती सुनाई। उन्होंने बताया कि आरोपी कंपनी ने पीड़ित को मुक्त करने के एवज में कथित तौर पर 3,000 अमेरीकी डॉलर की मांग की है। पुलिस ने शिकायत की जांच शुरू कर दी है।
 

Web Title: Thane resident aashish dubey abduct harassed Thailand company threatened release ransom USD 3000

क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे