Death toll in Bihar flood climbs to 19; 63.60 lakh people affected in 16 districts | खगड़िया-सहरसा में भीषण नाव हादसाः 30 से ज्यादा लोग लापता, 11 शव बरामद, सरयू में पांच की मौत
खगडिया में गंडक नदी दियारा इलाके में मंगलवार की देर शाम तेज आंधी में एक नाव पलटने से लगभग 30 लोग लापता हो गए

Highlightsसहरसा और खगडिया जिले में नाव हादसे में लगभग 30 से ज्यादा लोग लापता हो गये हैंअब तक कुल 11 लोगों के शव बरामद किए जा चुके हैं.

पटना: बिहार के सहरसा और खगडिया जिले में नाव हादसे में लगभग 30 से ज्यादा लोग लापता हो गये हैं, जिसमें अब तक कुल 11 लोगों के शव बरामद किए जा चुके हैं. वहीं 20 से ज्यादा अब भी लापता हैं. एसडीआरएफ की टीम तलाशी अभियान में जुटे हुए हैं. वरीय अधिकारियों की टीम घटनास्थल पर जुटी हुई है.प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार की देर शाम तेज आंधी की चपेट में आने से सहरसा में कोसी और खगडिया के गंडक नदी में यात्रियों से भरी नाव पलट गई.

हादसे में 30 से ज्यादा लापता हो गए थे. इसमें सहरसा जिले के सलखुआ प्रखंड के पूर्वी कोसी तटबंध के अंदर अलानी पंचायत के सहुरी गांव के बीच तेज आंधी की चपेट में आने से मंगलवार की देर शाम नाव पलट गई. नाव पर सवार 14 में से चार लोग लापता हो गए, जिनमें से 2 के शव तलाशी अभियान में मिले हैं, जबकि घटना में  अब भी कई लोग लापता बताए जा रहे हैं. जिनकी तलाश जारी है.

एक बच्चे प्रेम कुमार (3) का शव कल ही देर शाम तक बरामद कर लिया गया था. नाव पर सवार लोगों ने बताया कि नाव पर कुल 14 लोग सवार थे. नाव पर सवार अमर चौधरी ने बताया कि सहुरी से सभी एक नाव पर सवार होकर चिरैया डीलर के पास चावल-गेहूं के लिए गए थे. लौटने के दौरान चिरैया से आगे बढने के बाद बगुलवाटोल जाते-जाते तेज आंधी व बारिश होने के कारण नाव पलट गई थी.

उधर, खगडिया में गंडक नदी दियारा इलाके में मंगलवार की देर शाम तेज आंधी में एक नाव पलटने से लगभग 30 लोग लापता हो गए. जिनमें से बुधवार को चार महिला व दो बच्चों समेत 6 शव बरामद किए गए. एसडीआरएफ की टीम तलाशी अभियान में जुटी. डीएम आलोक रंजन घोष समेत अन्य अधिकारी कैम्प कर रहे हैं. वहीं दो लोगों के शव कल ही बरामद कर लिए गए थे. हादसे में पांच लोग तैरकर अपनी जान बचाने में सफल रहे. हादसे के शिकार अधिकांश लोग सदर प्रखंड के सोनवर्षा गांव के बताए जा रहे हैं.

उफनायी सरयू में नाव पलटी : पांच की मौत

उत्तर प्रदेश के मउ जिले में उफनायी सरयू (घाघरा) नदी में बुधवार शाम नाव पलटने से पांच लोगों की डूबकर मौत हो गयी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचकर बचाव एवं राहत कार्य संचालित करने के निर्देश दिये। उन्होंने प्रत्येक मृतक के परिवार को चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान किए जाने के निर्देश दिये । जिलाधिकारी (देवरिया) अमित किशोर ने बताया कि मउ जिले में मधुबन थानाक्षेत्र के चक्की मूसादोही से लोगों को लेकर चली नाव बीच नदी में पलट गयी।

तीन बच्चों और दो महिलाओं के शव पडोस के देवरिया जिले में मईल थानाक्षेत्र के तेलियाकलां गांव के निकट नदी तट पर शाम को मिल हैं । उन्होंने बताया कि नाव मउ जिले से तेलियाकलां गांव आ रही थी । नदी उफान पर थी, जिससे नाव अनियंत्रित होकर पलट गयी । कुल 11 लोगों को बचा लिया गया है।

पंद्रह वर्षीय एक लडकी अभी नहीं मिली है । किशोर ने बताया कि मृतकों के नाम सविता (48), सरिता (42), करन (10), किशन (सात) और अर्जुन (पांच) हैं । इस बीच राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने लखनऊ में बताया कि मुख्यमंत्री ने इस दुर्घटना में हुई मौत पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवारों को हरसम्भव मदद उपलब्ध कराई जाए ।

Web Title: Death toll in Bihar flood climbs to 19; 63.60 lakh people affected in 16 districts
क्राइम अलर्ट से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे