विराट कोहली जब कोच की एक बात पर पूरी रात रोए थे, नींद भी नहीं आई, पूर्व साथी खिलाड़ी ने बताया पूरा वाकया

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और स्टार बल्लेबाज विराट कोहली जब दिल्ली की अंडर-17 टीम के लिए खेलते थे, उस समय कुछ ऐसा हुआ जिसके बाद वे खूब रोए और पूरी रात नहीं सो सके थे।

By विनीत कुमार | Published: June 9, 2022 12:42 PM2022-06-09T12:42:02+5:302022-06-09T12:42:02+5:30

When Virat Kohli cry and did not sleep whole night, Ex-teammate reveals prank on star player | विराट कोहली जब कोच की एक बात पर पूरी रात रोए थे, नींद भी नहीं आई, पूर्व साथी खिलाड़ी ने बताया पूरा वाकया

कोच ने किया था विराट कोहली के साथ प्रैंक (फाइल फोटो)

Next
Highlightsविराट कोहली के साथ कोच और पूरी टीम ने प्रैंक किया था, जिसके बाद वे रोने लगे थे।ये वाकया उस समय का है जब कोहली दिल्ली की अंडर-17 टीम के लिए खेलते थे।विराट कोहली के पूर्व साथी खिलाड़ी प्रदीप सांगवान ने उस वाकये का खुलासा अब किया है।

नई दिल्ली: विराट कोहली की गिनती आज दुनिया के सबसे शानदार क्रिकेट खिलाड़ियों में होती है। उनके करोड़ो फैंस हैं और उन्हें बल्लेबाजी करते देखना कई क्रिकेट प्रशंसकों के लिए सबसे अनुभवों में से एक है। हालांकि उनके साथ कई साल पहले एक ऐसा वाकया हुआ, जिसके बाद पूरी रात नहीं सो सके थे और रोते रहे थे। कोहली के एक पूर्व साथी खिलाड़ी ने इसका खुलासा किया है।

दरअसल, कोहली ड्रेसिंग रूम में साथी खिलाड़ियों के साथ प्रैंक या शरारत करने के लिए भी जाने जाते हैं लेकिन एक बार वे खुद इसका शिकार हो गए। बात उस समय की है जब कोहली दिल्ली की टीम के अंडर-17 के लिए खेलते थे।

कोहली के साथ कोच ने किया था प्रैंक

इस वाकये के दौरान दिल्ली की U-17 टीम के लिए खेलते हुए कोहली के कुछ गेम ऐसे थे, जिसमें उनका प्रदर्शन बेहद खराब रहा था। हालांकि उनका सीजन कुल मिलाकर शानदार था। चूकी उनके पिछले दो-तीन मैच खराब गुजरे थे। ऐसे में उनके साथियों और कोच ने उनके साथ मज़ाक करने की सोची।

न्यूज 24 के साथ बातचीत में कोहली की टीम के साथी रहे प्रदीप सांगवान ने खुलासा किया कि कैसे विराट कोहली एक प्रैंक के बाद रोने लगे और उस रात उन्हें नींद भी नहीं आई।

सांगवान ने कहा, 'हम पंजाब में एक U17 मैच में खेल रहे थे। वह (कोहली) पिछली 2-3 पारियों में बड़ा स्कोर नहीं बना रहा था। हमारे पास अजीत चौधरी नाम के एक कोच था जो उन्हें 'चीकू' कहकर बुलाते थे। विराट हमारी टीम के मुख्य खिलाड़ी थे और अजीत सर ने मजाकिया अंदाज में सुझाव दिया, 'चलो उसे कह दें कि वह अगले मैच में नहीं खेलेगा'। हम सभी इस शरारत में शामिल हुए।'

सांगवान ने आगे कहा, 'टीम की बैठक में सर ने विराट के नाम की घोषणा नहीं की। वह अपने कमरे में गया और रोने लगा! उसने सर को फोन किया और कहा कि मैंने 200 और 250 रन बनाए हैं....सच में उसने सीजन में बड़ा स्कोर किया था। सिर्फ इतना है कि उसने पिछली 2-3 पारियों में अच्छे रन नहीं बनाए थे। वह इतना भावुक हो गया कि उसने राजकुमार सर (विराट के बचपन के कोच) को भी फोन किया!'

आखिरकार, सांगवान ने ही कोहली से कहा कि यह सब एक शरारत थी और उन्हें वास्तव में टीम से बाहर नहीं किया गया है।

सांगवान ने बताया, 'फिर, वह मेरे पास आया और पूछा, सांगवान मुझे बताओ, क्या गलत चल रहा है? मैंने इस सीजन में इतने रन बनाए'। मैंने उससे कहा, 'हां हां, यह बहुत गलत है!'। वह पूरी रात सो नहीं पाया। उसने कहा, 'नहीं, मैं सोना नहीं चाहता। जब मैं नहीं खेल रहा हूं तो सोने का क्या मतलब है?' फिर, मैंने उससे कहा कि वह खेल रहा है। यह सब एक शरारत थी!'

Open in app