IPL 2021 Final: मैदान पर उतरते ही धोनी ने रच दिया इतिहास, कोई कप्तान नहीं कर सका है ऐसा

आईपीएल-2021 के फाइनल में आज चेन्नई सुपरकिंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स की टीमें आमने-सामने हैं। महेंद्र सिंह धोनी बतौर कप्तान अपना 300वां टी20 मैच खेलने उतरे हैं।

By विनीत कुमार | Published: October 15, 2021 04:20 PM2021-10-15T16:20:13+5:302021-10-15T19:31:44+5:30

IPL 2021: CSK Vs KKR Dhoni to become first captain to lead 300 matches in T20 format | IPL 2021 Final: मैदान पर उतरते ही धोनी ने रच दिया इतिहास, कोई कप्तान नहीं कर सका है ऐसा

धोनी का बतौर कप्तान 300वां टी20 मैच (फोटो- ट्विटर)

Next
Highlightsदुबई में आज शाम आईपीएल-14 का फाइनल, चेन्नई और कोलकाता के बीच मुकाबला।चेन्नई की नौ बार फाइनल में पहुंची है और तीन बार खिताब जीतने में सफल रही है।धोनी के लिए ये मैच खास है, वे बतौर कप्तान 300वां टी20 मैच खेल रहे हैं, अभी तक किसी ने इतने मैचों में कप्तानी नहीं की है।

दुबई: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल)-2021 का फाइनल आज खेला जा रहा है। इस मैच के नतीजे के साथ ही न केवल आईपीएल के 14वें सीजन के विजेता का फैसला हो जाएगा बल्कि चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के लिए ये मुकाबला खास है।

धोनी का बतौर कप्तान 300वां टी20 मैच

महेंद्र सिंह धोनी आज जब कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ बतौर चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान मैदान में उतरे हैं तो एक अनोखा रिकॉर्ड भी अपने नाम कर चुके हैं। बतौर कप्तान धोनी का ये 300वां टी20 मैच है।

वह पहले ऐसे कप्तान बन गए हैं जो टी20 फॉर्मेट में 300वें मैचों में अपनी टीम का नेतृत्व कर रहा है। आईपीएल के अलावा धोनी ने चैम्पियंस लीग टी20, एशिया कप, टी20 वर्ल्ड कप में भी कप्तानी की है।

धोनी का बतौर प्रोफेशनल क्रिकेटर ये आखिरी मैच भी हो सकता है। हालांकि इस बारे में कुछ भी साफ नहीं है लेकिन धोनी इस मैच को जीत सीएसके को चौथा आईपीएल खिताब जरूर दिलाना चाहेंगे।

धोनी का आईपीएल में सफर

धोनी को दुनिया के सफलतम क्रिकेट कप्तानों में गिना जाता है। धोनी की कप्तानी में सीएसके ने तीन आईपीएल खिताब जीते हैं। साल 2008 में आईपीएल की शुरुआत के बाद से सीएसके का हिस्सा रहे धोनी के नाम एक कप्तान के रूप में भी इस टी20 लीग में सबसे अधिक मैच जीतने का रिकॉर्ड है।

40 साल के धोनी ने 2020 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। हालांकि, जनवरी 2017 में ही उन्होंने टीम इंडिया के टी20 टीम की कप्तानी छोड़ दी थी। उन्होंने कुल 72 टी20 मैचों में भारतीय टीम की कप्तानी की जिसमें से 41 में जीत हासिल हुई और 28 हारे।

सीएसके के कप्तान के रूप में धोनी के रिकॉर्ड की बात करें तो उन्होंने 213 मैचों में इस येलो ब्रिगेड का नेतृत्व किया। इसमें 130 में जीत और 81 में टीम को हार का सामना करना पड़ा। थोड़े समय के लिए धोनी ने राइजिंग पुणे सुपरजायंट का भी नेतृत्व किया। 

IPL 2021: चेन्नई सुपरकिंग्स Vs कोलकाता नाइट राइडर्स

बहरहाल, आज के फाइनल से जुड़े आंकड़ों की बात करे तो चेन्नई 12 सीजन में नौ बार फाइनल में पहुंची है चूंकि दो सीजन में वह लीग से बाहर थी। चेन्नई ने तीन खिताब जीते और पांच बार फाइनल में हारी जबकि केकेआर ने दोनों खिताब गौतम गंभीर की कप्तानी में जीते हैं। 

केकेआर ने 2012 में आखिरी खिताब जीता था। पिछले साल लीग चरण से बाहर होने वाली पहली टीम बनी चेन्नई यादगार वापसी करके इस बार फाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बनी। 

Open in app