'व्हाई आई किल्ड गांधी' नाथूराम गोडसे का महिमामंडन करती है, ऑल इंडियन सिने वर्कर्स एसोसिएशन ने PM से की बैन लगाने की मांग

By अनिल शर्मा | Published: January 24, 2022 08:50 AM2022-01-24T08:50:33+5:302022-01-24T09:10:23+5:30

पीएम मोदी को लिखे पत्र में कहा गया है, "गांधीजी ऐसे व्यक्ति हैं, जिनकी प्रशंसा पूरे भारत और दुनिया ने की है, गांधीजी की विचारधारा प्रत्येक भारतीय के लिए प्रेम और बलिदान का प्रतीक है।" 

why i killed gandhi glorifies nathuram Godse all indian cine workers association write to PM | 'व्हाई आई किल्ड गांधी' नाथूराम गोडसे का महिमामंडन करती है, ऑल इंडियन सिने वर्कर्स एसोसिएशन ने PM से की बैन लगाने की मांग

'व्हाई आई किल्ड गांधी' नाथूराम गोडसे का महिमामंडन करती है, ऑल इंडियन सिने वर्कर्स एसोसिएशन ने PM से की बैन लगाने की मांग

Next
Highlightsनाथूराम गोडसे ... इस देश में किसी के सम्मान के पात्र नहीं हैंः फिल्म वर्कर्स बॉडी 'व्हाई आई किल्ड गांधी' 30 जनवरी को ओटीटी पर रिलीज होगीपीएम को पत्र लिखकर इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है

मुंबईः  'व्हाई आई किल्ड गांधी' फिल्म पर बैन की मांग तेज हो गई है। आरोप है कि फिल्म नाथूराम गोडसे का महिमामंडन करती है। महाराष्ट्र इकाई के कांग्रेस प्रमुख नाना पटोले ने रविवार को कहा कि पार्टी राज्य के सीएम उद्धव ठाकरे से  'व्हाई आई किल्ड गांधी' पर प्रतिबंध लगाने का अनुरोध करेगी।

फिल्म ने बड़े विवाद को जन्म दिया है क्योंकि यह महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे द्वारा विशेष अदालत में गांधी की हत्या के पीछे का कारण बताते हुए दिए गए बयान पर आधारित है। समाचार एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, नाना पटोले ने कहा कि अगर महात्मा गांधी के हत्यारे को एक नायक के रूप में चित्रित किया जाता है, तो यह अस्वीकार्य है।

भारत की वैश्विक छवि पर प्रकाश डालते हुए, पटोले ने कहा कि देश गांधी और उनकी अहिंसा की विचारधारा के माध्यम से जाना जाता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी फिल्म की रिलीज का विरोध करेगी और मुख्यमंत्री से महाराष्ट्र में इस पर प्रतिबंध लगाने का अनुरोध करेगी।

उधर, फिल्म पर आपत्ति जताते हुए ऑल इंडिया सिने वर्कर्स एसोसिएशन (AICWA) ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर 'व्हाई आई किल्ड गांधी' पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की मांग करते हुए कहा कि फिल्म "राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के गद्दार और हत्यारे नाथूराम गोडसे" का महिमामंडन करती है।

पत्र में कहा गया है, "गांधीजी ऐसे व्यक्ति हैं, जिनकी प्रशंसा पूरे भारत और दुनिया ने की है, गांधीजी की विचारधारा प्रत्येक भारतीय के लिए प्रेम और बलिदान का प्रतीक है।" 

"नाथूराम गोडसे ... इस देश में किसी के सम्मान के पात्र नहीं हैं, नाथूराम गोडसे की भूमिका निभाने वाले अभिनेता ... लोकसभा में एक मौजूदा सांसद हैं और भारतीय संविधान की शपथ के तहत हैं, अगर यह फिल्म पूरी रिलीज करती है 30 जनवरी, 1948 को हुए जघन्य अपराध के प्रदर्शन से देश स्तब्ध और तबाह हो जाएगा।"

फिल्म 'व्हाई आई किल्ड गांधी' गांधी की पुण्यतिथि 30 जनवरी को लाइमलाइट ओटीटी पर रिलीज होने के लिए तैयार है, जिसे शहीद दिवस के रूप में मनाया जाता है।

Web Title: why i killed gandhi glorifies nathuram Godse all indian cine workers association write to PM

बॉलीवुड चुस्की से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे