9 years of my name is khan karan johar share memories from the film | 'माई नेम इज खान' को हुए नौ साल पूरे, इस अंदाज में करण जौहर ने सोशल मीडिया पर शाहरुख-काजोल को कहा 'शुक्रिया'
'माई नेम इज खान' को हुए नौ साल पूरे, इस अंदाज में करण जौहर ने सोशल मीडिया पर शाहरुख-काजोल को कहा 'शुक्रिया'

साल 2010 में आई फिल्म माई नेम इज खान को दस साल हो गए हैं। इस फिल्म ने पर्दे पर शानदार कमाई के साथ-साथ कई अनोख करनामे किए थे। इस फिल्म में फैंस को शाहरुख खान और काजोल की जोड़ी पर्दे पर नजर आई थी।

इस फिल्म को निर्माता-निर्देशक करण जौहर ने पर्दे पर पेश किया था। आज माई नेम इज खान को रिलीज हुए आज 9 साल हो गए हैं। ऐसे में सोशल मीडिया पर करण जौहर ने एक पोस्ट शेयर किया है।  करण जौहर ने शाहरुख खान और काजोल का शुक्रिया अदा किया। 

करण जौहर ने लिखा है कि  मैं बहुत ब्लैस्ड महसूस करता हूं कि मैं यह कहानी बता पाता हूं। इसे बनाने के लिए धन्यवाद शिबानी। शाहरुख खान को रिजवान का रोल बखूबी निभाने के लिए शुक्रिया। काजोल तुम्हारी आंखे, चुप्पी और सभी के लिए शुक्रिया। माई नेम इज खान को बॉलीवुड में बहुत प्यार मिला है।



सिर्फ करण जौहर ही नहीं बल्कि वरुण धवन ने भी फिल्म के 9 साल पूरे होने पर एक पोस्ट शेयर किया। वरुण धवन और सिद्धार्थ मल्होत्रा माई मेन इज खान के एसिसटेंट डायरेक्टर थे।  वरुण धवन ने क्रू की फोटो शेयर करते हुए लिखा- #9YearsOfMNIK इस फिल्म से मैंने बहुत कुछ सीखा। इसने मेरी लाइफ बदल दी। साथ ही यह सिर्फ एक फोटो नहीं है। मैं वहां हूं जहां अभिषेक वर्मन मुस्कुरा रहे हैं। थैंक यू करण जौहर।


कैसी थी फिल्म

मेरा नाम रिजवान खान (शाहरुख खान) है और मैं एक अच्छा इंसान हूं।'' फिल्म का ये संवाद शायद लोकप्रिय हो जाए। कहानी के लीड रोल का नाम है रिजवान खान, हालांकि अन्य किरदारों की भी अपनी अहमियत है। रिजवान खान, मुंबई के बोरीवली इलाके में रहने वाला एक शख्स है जो 'एसपर्गर सिंड्रोम' से पीड़ित हैं। आजकल बॉलीवुड में किसी बीमारी को लेकर फिल्म बनाने का चलन शुरू हो गया है। अच्छी बात है कि बॉलीवुड अब अपने कलाकारों को 'बल्ड कैंसर' का मरीज नहीं बनाता। जो सत्तर, अस्सी और नब्बे के दशक में बॉलीवुड की सबसे लोकप्रिय बीमारी रही है। आज उनके पास मरीज बनाने के लिए तरह तरह की बीमारियां मौजूद हैं। रिजवान बेहतर जीवन की तलाश में मुंबई से लॉस एंजेलिस चला जाता है। एसपर्गर से पीड़ित, बेहद शर्मीले और लोगों से घुलने-मिलने में कठिनाई महसूस करने वाले इस युवक को मंदिरा नाम की एक भारतीय महिला से प्यार हो जाता है। दोनों शादी कर लेते हैं। ये सारा घटनाक्रम 9/11 से पहले का है। फिल्म बेसकली हिंदू और मुस्लिम के उतार चढाव से भरी था।


माई मेन इज खान फिल्म के बाद शाहरुख खान और काजोल साथ में फिल्म 'दिलवाले' में नजर आ चुके हैं। इस फिल्म में शाहरुख और काजोल के साथ वरुण धवन और कृति सेनन भी थे।


Web Title: 9 years of my name is khan karan johar share memories from the film
बॉलीवुड चुस्की से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे