US: COVID-19 cases during violence after George Floyd's death, more than 15,000 infected in last 24 hours | अमेरिका: जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद हिंसा के दौरान COVID -19 के मामले, पिछले 24 घंटे में 15 हजार से ज्यादा संक्रमित
जॉर्ज फ्लॉयड की मौत पर बढ़ते विरोध के बीच मंगलवार को कुल 15,846 नए कोविड​​-19 मामले और 863 अधिक लोगों की मौतें हुईं है। 

Highlightsकोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला देश अमेरिका है। फ्लॉयड की मौत पर बढ़ते विरोध के बीच 15,846 नए कोविड​​-19 मामले आए हैं

वाशिंगटन: कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला देश अमेरिका है। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के मुताबिक, संयुक्त राज्य अमेरिका में कोरोना वायरस के कम से कम 1,827,206 मामले हैं और कम से कम 106,028 लोगों की मौत हुई है। वहीं, सीएनएन ने बताया कि जॉर्ज फ्लॉयड की मौत पर बढ़ते विरोध के बीच मंगलवार को कुल 15,846 नए कोविड​​-19 मामले और 863 अधिक लोगों की मौतें हुईं है। 

जैसा कि विरोध प्रदर्शन जारी है इसे देखते हुए लॉस एंजिल्स काउंटी, सांता मोनिका, बेवर्ली हिल्स, सैन फ्रांसिस्को, ओकलैंड, न्यूयॉर्क सिटी और क्लीवलैंड सहित कई शहरों में कर्फ्यू की घोषणा की है। वाशिंगटन पोस्ट ने बताया कि इसी बीच अमेरिकी स्वास्थ्य अधिकारियों ने चिंतित हैं कि नाराज प्रदर्शनों ने पूरे देश को कानून प्रवर्तन एजेंसियों और पुलिस क्रैकडाउन द्वारा अन्याय के खिलाफ जकड़ लिया है, जिससे कोरोनोवायरस संक्रमण की दर में वृद्धि हो सकती है। 

जानें क्या है जॉर्ज फ्लॉयड हत्या का पूरा मामला

बता दें कि अमेरिका में हिंसा अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद भड़की है। अमेरिका के मिनीपोलिस में इस सप्ताह प्रदर्शन भड़क उठे, जब एक वीडियो में एक श्वेत पुलिस अधिकारी को आठ मिनट से अधिक समय तक घुटने से फ्लॉयड का गला दबाते हुए देखा गया और इस दौरान फ्लॉयड सांस लेने देने की फरियाद करता रहा। 

बाद में फ्लॉयड की मौत हो गई थी। अश्वेत फ्लॉयड को एक दुकान में नकली बिल का इस्तेमाल करने के संदेह में गिरफ्तार किया गया था। फ्लॉयड की मौत के बाद शुरू हुए प्रदर्शनों अब अमेरिका के कई शहरों तक फैल गये हैं। इस प्रदर्शन के दौरान कई इमारतों, गाड़ियों को जला दिया गया और दुकानों में लूटपाट की गई।

अमेरिका में कोविड-19 से जान गंवाने वालों में एक तिहाई नर्सिंग होम के मरीज

अमेरिका में एक नई रिपोर्ट में दावा किया गया है कि देश में कोविड-19 से जान गंवाने वालों में से एक तिहाई लोग नर्सिंग होम के रहने वाले हैं। यह रिपोर्ट ऐसे समय में आई है, जब पुलिस की बर्बरता के खिलाफ जारी प्रदर्शन के बावजूद अमेरिका में कोरोना वायरस से निपटने के लिए लगे प्रतिबंधों में सोमवार को ढील दी गई। 

अमेरिका के सभी गवर्नर के लिए तैयार की गई एक रिपोर्ट में कहा गया कि नर्सिंग होम (देखभाल केन्द्रों) में रहने वाली करीब 26,000 लोगों की जान कोविड-19 से संक्रमित होने की वजह से गई है। इस आंकड़ें के अधिक होने की आशंका भी बनी हुई है। समाचार एजेंसी ‘एपी’ को प्राप्त इस रिपोर्ट की प्रति के अनुसार ‘मेडिकेयर एंड मेडिकेड सर्विसेज सेंटर’ तथा रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केन्द्र का कहना है कि देखभाल केन्द्रों में करीब 60,000 कोरोना वायरस के मामले हैं। 

Web Title: US: COVID-19 cases during violence after George Floyd's death, more than 15,000 infected in last 24 hours
विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे