Prime Minister Narendra Modi to have a meeting with Iran President Hassan Rouhani in Bishkek Kyrgyzstan | SCO समिट: वैश्विक तनातनी के बीच आज ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी से मिलेंगे पीएम मोदी
SCO समिट: वैश्विक तनातनी के बीच आज ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी से मिलेंगे पीएम मोदी

Highlightsपीएम मोदी ने कहा कि चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से अत्यंत सार्थक मुलाकात की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को यहां रूस के राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन से मुलाकात की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किर्गिस्तान के बिश्केक में आज ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी के साथ बैठक करेंगे। पिछले कुछ महीने से ईरान अपने परमाणु कार्यक्रम को लेकर अमेरिका के निशाने पर हैं। मोदी शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए बृहस्पतिवार को किरगिज़ राजधानी पहुंचे हैं।

एक-दूसरे के लिए खतरा नहीं है भारत और चीन 

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में एससीओ सम्मेलन से इतर हुई बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से कहा कि भारत और चीन एक-दूसरे के लिए खतरा नहीं हैं। साथ ही उन्होंने दोनों देशों के बीच करीबी विकास साझेदारी को बढ़ावा देने के भारत के प्रयासों में शामिल होने की चीन की इच्छा जतायी। लोकसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत के साथ जीत के बाद दोबारा प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी और शी की यह पहली मुलाकात है। चीन के विदेश मंत्रालय ने बीजिंग में जारी एक बयान में कहा कि राष्ट्रपति शी ने प्रधानमंत्री मोदी से कहा कि भारत और चीन को मतभेदों से सही तरीके से निपटते हुए सहयोग बढ़ाना चाहिए। साथ ही उन्होंने सीमा पर स्थिरता बनाए रखने के लिए विश्वास बहाली के कदम उठाने की बात भी कही।

राष्ट्रपति शी के साथ ‘बेहद सार्थक’ मुलाकात हुई : मोदी 

पीएम मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि उन्होंने यहां एससीओ शिखर सम्मेलन से इतर चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से अत्यंत सार्थक मुलाकात की और द्विपक्षीय संबंधों के संपूर्ण आयाम पर उनसे चर्चा की। उन्होंने आर्थिक एवं सांस्कृतिक संबंधों में सुधार के लिए मिलकर काम करने का संकल्प लिया। पिछले महीने लोकसभा चुनाव में जीत के उपरांत मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री चुने जाने के बाद दोनों नेताओं की यह पहली मुलाकात है। इससे एक महीने पहले ही संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 1267 अल कायदा प्रतिबंध समिति ने पाकिस्तान के आतंकी समूह जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किया था।

चीन ने उसे प्रतिबंधित करने के प्रस्ताव पर लगी अपनी तकनीकी रोक को हटा लिया था। राष्ट्रपति शी के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत के बाद मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ अत्यंत सार्थक मुलाकात की। हमारी बातचीत में भारत-चीन संबंध पूरे विस्तार से शामिल थे। हम अपने बीच आर्थिक और सांस्कृतिक संबंधों को सुधारने में मिलकर काम करते रहेंगे।’

मोदी और पुतिन के बीच बिश्केक में मुलाकात

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को यहां रूस के राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन से मुलाकात की और दोनों नेताओं ने रणनीतिक संबंधों को और मजबूत करने के लिए द्विपक्षीय रिश्तों के सभी पहलुओं की समीक्षा की। पिछले महीने भारत में लोकसभा चुनाव में भाजपा की जबरदस्त जीत के बाद मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री चुने जाने के बाद दोनों नेताओं की यह पहली मुलाकात है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति पुतिन की बिश्केक में बहुत अच्छी मुलाकात हुई। बैठक में भारत-रूस संबंधों से जुड़े अनेक विषयों पर चर्चा हुई।’’ 

मोदी ने गनी से मुलाकात की

मोदी ने यहां एससीओ सम्मेलन के इतर अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी से मुलाकात की और युद्ध प्रभावित देश में समावेशी शांति प्रक्रिया की दिशा में भारत की ओर से निभाई जा रही भूमिका पर चर्चा की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बैठक के बाद ट्वीट किया, ‘‘ देर रात विश्वस्त दोस्तों में मुलाकात हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी से बिश्केक में एससीओ सम्मेलन के इतर मुलाकात की।’’ कुमार ने बताया कि दोनों नेताओं ने अफगानिस्तान में स्थिति पर दृष्टिकोण साझा किया जिसमें समावेशी शांति प्रक्रिया की दिशा में भारत द्वारा निभाई जा रही भूमिका भी शामिल है।


Web Title: Prime Minister Narendra Modi to have a meeting with Iran President Hassan Rouhani in Bishkek Kyrgyzstan
विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे