the case of poisoning former detective britain expelled russias 23 diplomats | पूर्व जासूस को जहर देने का मामला: ब्रिटेन ने 23 रूसी राजनयिकों को किया निष्कासित

ब्रिटेन द्वारा 23 रूसी राजनयिकों को निष्कासित करने के फैसले से ब्रिटेन और रूस के बीच टकराव बढ़ रहा है। यहां के पूर्व रूसी जासूस सर्गेई स्क्रिपल और उनकी बेटी यूलिया को जहर देने के मामले में ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने रूस के खिलाफ कड़ी कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

 एक पूर्व जासूस को जहर देने के मामले में मॉस्को ने ब्रिटेन द्वारा 23 रूसी राजनयिकों को निष्कासित अपनी बात रखी है। उन्होंने कहा कि बेहतर होगा अगर यह लंदन का रूस के साथ टकराव का विकल्प चुनने का संकेत है, रूस ने कहा है कि इस पर शीघ्र जवाबी कार्रवाई की जाएगी।

टेरीजा ने अब 23 राजनयिकों को बाहर कर दिया है और साथ ही दोनों देशों के बीच होने वाली उच्चस्तरीय द्विपक्षीय बातचीत को भी निलंबित करने का फैसला दिया। उन्होंने कहा है कि ‘ब्रिटेन रूस के साथ उच्चस्तरीय द्विपक्षीय बातचीत निलंबित करता है। साथ ही रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव के ब्रिटेन दौरे का निमंत्रण भी रद्द करता है साथ ही उन्होंने कहा कि 7 दिन का समय हम इन राजनयिकों को ब्रिटेन छोडने के लिए देते हैं। हमने सभी राजनयिकों को पहचान लिया है और इनकी पहचान अघोषित रूसी खुफिया अधिकारियों के तौर पर की है। 

बता दें कि 66 वर्षीय सर्गेई स्क्रिपल और 33 वर्षीय यूलिया को पिछले हफ्ते खतरनाक नर्व एजेंट रसायन देकर मौत के घाट उतार दिया गया था। ब्रिटेन का दावा है कि यह नर्व एजेंट सैन्य स्तर का और रूस में निर्मित है। जिसके बाद टेरीजा मे ने रूस के खिलाफ कार्रवाई करने की चेतावनी दी थी। हालांकि रूस ने इन आरोपों का खंडन किया है। 


विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे